Astro Gyaan|Astrology Tips|Featured|Numerology

Mithun Rashi 2021 – Yearly Horoscope मिथुन राशि का वार्षिक राशिफल

ब्लॉग | Panditnmshrimali

[vc_row][vc_column][vc_column_text]

Mithun Rashi 2021 मिथुन राशि का वार्षिक राशिफल


mithun rashi gemini | Panditnmshrimali

Mithun Rashi 2021 – नव वर्ष की आप सभी को हार्दिक शुभकामनाएं। ये साल आपके लिए मंगलमय रहे। आप सभी उन्नति करें। आज हम आपके बताएँगे मिथुन राशि वालों का वर्ष 2021 का वार्षिक राशिफल । सबसे पहले हम साल की शुरुआत में ग्रहों की स्थिति के बारे में जान लेते हैं कि साल के शुरुआत में ग्रहों की स्थिति क्या रहने वाली है। सबसे पहले बात करते हैं हम राहू की और केतु की जो कि इस साल 23 सितंबर को वृषभ में राहु विराजमान हुए और वृश्चिक में केतु, अगले साल भी वो यही इसी कंडीशन में रहेंगे यानी राहू वृषभ में और केतु वृश्चिक में विराजमान रहेंगे। शनि इस पूरे वर्ष में मकर राशि में विराजमान होकर रहने वाले हैं और साल की शुरुआत में गुरु भी शनि के साथ मकर राशि में ही विराजमान रहेंगे। हालांकि गुरु अपनी नीचस्थ राशि में यानी मकर राशि में साल की शुरुआत में रहने वाले हैं। सूर्य और बुध का बुधादित्य योग धनु राशि में साल की शुरुआत में बनने वाला है और वृश्चिक राशि में केतु के साथ में शुक्र विराजमान होकर जड़त्व दोष की स्थिति बनाने वाले हैं। मंगल ग्रह मेष राशि के अंदर स्वग्रही होकर साल की शुरुआत में विराजमान रहेंगे तो ये कुछ ग्रहों की पोजिशन थी जो कि साल की शुरुआत में हमें देखने को मिलेगी। Mithun Rashi 2021

Mithun Rashi 2021 पारिवारिक स्थिति – मिथुन राशि वालों की पारिवारिक स्थिति के कि ये साल इनकी पारिवारिक स्थिति कैसी रहने वाली है।सबसे पहले बात करूंगी में पर्सनैलिटी के भाव की तो आपकी मिथुन राशि वालों के स्वामी हैं बुध। ये राशिफल चंद्र राशि पर आधारित है और आपके लग्न से भी ये समान रूप से प्रभावशाली रहने वाला है। तो आपके लग्नेश बुध जो कि अपने ही घर को साल की शुरुआत में देख रहे इस साल की शुरुआत बहुत अच्छी होगी और जैसा कहते हैं कि अगर शुरुआत अच्छी हो तो पूरा साल अच्छा जाता है तो साल की शुरुआत अच्छी होने से लग्न बहुत स्ट्रॉन्ग पावरफुल रहेगा ददियाल से बहुत अच्छे संबंध रहेंगे। चाचा के आपके साथ में ट्यूनिंग बहुत अच्छी रहेगी और उनके साथ मिल कर कोई भी प्रोजेक्ट कर रहे या कोई भी काम करेंगे तो उसमें आपको बहुत अच्छी सफलता देखने को मिलेगी। कुटुम्ब से भी आपको बहुत अच्छा लाभ साल में इस साल देखने को मिलेगा। सामाजिक मान सम्मान में वृद्धि होगी। यश और कीर्ति आपके चारों तरफ बढ़ेगी और एक समाज में सम्मानित स्थान आपको प्राप्त होता हुआ दिखाई देगा। भाई बहनों के साथ 14 अप्रैल से 13 मई तक उच्च की राशि यानि मेष राशि में जोकि भाई बहनों के स्थान के स्वामी सूर्य विराजमान होंगे तब बहुत अच्छी ट्यूनिंग बहुत अच्छा तालमेल बहुत अच्छा सामंजस्य से आपके भाई बहनों के साथ और कार्यक्षेत्र में बिजनस में आप कोई काम करें। उनकी गाइडेंस लेते हैं। उनकी सलाह से कोई काम करते हैं तब बहुत अच्छे लाभ की स्थितियां भी इस समय देखने को मिलेगी। साथ ही 17 अगस्त से 16 सितंबर तक का समय भी बहुत अच्छा और भाग्यवर्धक आपके लिए रहेगा क्योंकि पराक्रम भाव यानि जो भाई बहनों का स्थान है उसके स्वामी स्वगृही होकर बैठेंगे। इस समय आपको अपने भाई बहनों की मदद से कुछ बड़ा लाभ बड़ा फायदा अचानक आकस्मिक धनलाभ की प्राप्ति होगी। ये सामाजिक मान सम्मान और अधिक बढ़ोतरी का होगा। इस समय आपके राजनैतिक अगर आपको कोई इंट्रेस्ट रखते हैं या राजनीति में आपका एक हस्तक्षेप रहता है तो वह और अधिक बढ़ेगा आपकी पावर में वृद्धि होगी। लोग आपसे प्रभावित होते हुए दिखाई देंगे और आपकी बातों को मानते हुए भी दिखाई देंगे यहाँ तक की बॉस के सामने भी अगर आप जॉब कर रहे हैं तो आपकी छवि बहुत ही प्रभावशाली होकर निकलेगी और इस समय आपके प्रमोशन के भी चांसेस बनने वाले है यानि के भाई बहनों का स्थान भी बहुत अच्छा आपके लिए उत्कृष्ट प्रदर्शन करेगा। हालांकि अक्टूबर मध्य से लेकर नवंबर मध्य तक का जो समय इस समय आपको थोड़ा सा ध्यान रखना पड़ेगा। कोई पैतृक संपत्ति संबंधी विवाद कोई संपत्ति को लेकर विवाद को बिजनस को लेकर विवाद आपके भाई बहनों के साथ में समय हो सकता है पर ये टाइम पीरियड बहुत छोटा है। इस समय थोड़ी सी सतर्कता के साथ ट्यूनिंग बनाकर अपने भाई बहनों के साथ आगे बढ़ेगा। माता के साथ आपकी साल भर ट्यूनिंग अच्छी रहने वाली है लग्नेश बुध सालभर आपको अच्छे रिजल्ट ही देंगे। माता के स्थान के स्वामी भी आपके बुध हैं जो कि आपके लग्न में 30 जनवरी से 20 फरवरी तक मकर राशि के अंदर भी वक्री होकर रहने वाला है। और अष्टम भाव में जाकर विराजमान होंगे । इस समय आपको अपनी मां के स्वास्थ का विशेष रूप से ध्यान रखना पड़ेगा और उनसे बहस से आपको बचना पड़ेगा। जब भी बुध वक्री होंगे साल में तीन बार बुध वक्री हैं तो जब बुध वक्री होंगे यानी 30 मई से 22 जून तक वृषभ राशि में वक्री होंगे। 30 जनवरी से 20 फरवरी तक वे मकर राशि में वक्री होंगे और 27 सितंबर से 18 अक्टूबर तक वे अपनी खुद की राशि कन्या में वक्री होकर विराजमान रहेंगे हालांकि कन्या में वक्री होंगे तो रिजल्ट बहुत अच्छे रहेंगे। क्योंकि वो अपनी खुद की घर में बैठे हैं इसलिए उस घर का कर्म को और अधिक बढ़ाएंगे। उस काम को और अधिक बढ़ाएंगे। आपके लग्न को पावरफुल करेंगे और आपके सुख स्थान माता के साथ संबंधों को और अधिक मजबूत करते हुए दिखाई देंगे। इस समय आप अपने व्यापार में वृद्धि करेंगे नया घर नई प्रॉपर्टी आप लेते हुए दिखाई देंगे और कन्या राशि में स्वगृही बुध उच्च के भी होते तो वो और भी ज्यादा अच्छे रिजल्ट देंगे तो ये जो कन्या राशि में आकर वक्री होना आपको बहुत अच्छे रिजल्ट दिलवाएगा परन्तु उसके अलावा आपको बुध जब वक्री हो रहे उस समय आपको ध्यान रखना पड़ेगा। संतान से आपके रिलेशन साल भर अच्छे रहने वाले है आपकी संतान आपकी आज्ञा में रहेगी और आपको बहुत अच्छे लाभ की स्थितियों को भी दिलवाएगी। जीवन में आपकी आशाओं पर खरी उतरेगी और आपको बहुत अच्छे परिणाम देंगी आप उस पर गर्व महसूस करेंगे। ऐसे रिजल्ट आपको संतान पक्ष की तरफ से देखने को मिलेंगे। आपके जीवन साथी या दाम्पत्य भाव की यदि मैं बात करूं तो दाम्पत्य भाव के स्वामी गुरु जो कि इस साल थोड़ा सा गड़बड़ रहने वाले है क्योंकि गुरु जाकर बैठने वाले है अष्टम में और गुरु एक सौम्य ग्रह है और उसका अष्टम में बैठना आपको इतने अच्छे रिजल्ट नहीं देगा। साल की शुरुआत में गुरु अपनी नीच की राशि मकर में जाकर बैठेंगे तो साल की शुरुआत जितनी अच्छी दाम्पत्य भाव से पारिवारिक स्थिति से नहीं रहेगी परंतु बाद में जब जब गुरु मकर से कुम्भ में प्रवेश करेंगे और उनसे वापस मकर यानी साल भर गुरु इन दो राशियों के बीच में ही भ्रमण करने वाले हैं यानी 6 अप्रैल से 14 सितंबर तक गुरु कुंभ राशि में विराजमान रहेंगे और 20 नवंबर से साल के अंत तक जब वो कुंभ राशि में विराजमान रहेंगे तब वह आपको बहुत अच्छे रिजल्ट प्रदान करने वाले हैं, जीवनसाथी के साथ में साल में मिलेजुले परिणाम आपको देखने को मिलेंगे। अगर यही बात मैं पिता के साथ कहूं तो पिता के साथ यही स्थिति रहेगी। उनके साथ भी इस साल आपको उतार चढ़ाव देखना पड़ेगा। हालांकि पिता आपको पूरे साल सपोर्ट भी करेंगे। आपके कार्यों में वो आपको सपोर्ट करेंगे। आपके जीवन क्षेत्र में आपके लिए आदर्श बन कर आपके लिए खड़े रखेंगे आपके लिए हमेशा आपकी स्ट्रेंथ बनकर आपके साथ में दिखाई देंगे I परंतु कभी कभी आप दोनों के बीच में वाद विवाद की स्थितियां बनेंगी, मिस अंडरस्टैंडिंग एक दूसरे के साथ में क्रिएट होती हुई दिखाई देगी । अपने अहं भाव को साइड रखें अपने पिता का जो एक्स्पीरियंस है उसका लाभ भी आपको इस साल मिलेगा और आपके पिता के बताए हुए मार्ग पर यदि आप चलेंगे तो गलत निर्णय से बच सकेंगे।

Mithun Rashi 2021 आर्थिक स्थिति – आर्थिक स्थिति में हम हमेशा लाभेश और सुखेश इन दोनों की बात करते हैं। लाभ भाव के स्वामी हैं आपके मंगल और सुख स्थान के स्वामी बुध। बुद्ध आपको ओवरऑल सालभर बहुत अच्छा रिजल्ट देने वाला हैं। जब वो वक्री हों तब आपको ध्यान में रखना है की मंगल जो कि आपके लाभ भाव के स्वामी हैं। साल की शुरुआत में वो स्वगृही यानि लाभ में जाकर विराजमान है। इस समय लाभ की स्थितियां आपको बहुत अच्छी देखने को मिलेगी लगभग जनवरी का पूरा महीना और फरवरी के भी 20 दिन तक ये स्थिति बनी रहेगी| इस समय आपको बहुत अच्छा फायदा अपने कारोबार में अपने कामकाज में अपने व्यापार में जमीन जायदाद से रिलेटेड कामों के अंदर कंस्ट्रक्शन से रिलेटेड कामों के अंदर या फिर प्रॉपर्टी डीलिंग से रिलेटेड कामों में यदि आप जॉब में प्रशासनिक सेवाओं से जुड़े हैं तो पुलिस सेना, नेवी या उच्च प्रशासनिक पद पर आप आसन्न हैं तो इस समय आपको मंगल के बहुत बढ़िया रिजल्ट देखने को मिलेंगे। प्रमोशन के चांसेस बहुत अच्छे हैं परंतु 22 फरवरी से 13 अप्रेल तक का जो समय रहेगा उस समय मंगल वृषभ राशि में जाने वाले है यानि आपकी कुंडली के हिसाब से आपके 12th हाउस में राहू के साथ विराजमान हो जाएंगे और राहू के साथ में मंगल का अंगारक योग बनाना । आपकी आर्थिक स्थिति उस समय डांवाडोल करेगा यानि पहले अगर आपने किसी भी गलत तरीके से धन कमाने की चेष्टा की है या लाभ की स्थिति को उलटे या आड़े टेढ़े रास्तों से जाकर कमाने का प्रयास किया तो इस समय आपको इसका भुगतान करना पड़ सकता है।

 

Mithun Rashi 2021 शिक्षा करियर और व्यवसाय – शिक्षा और कैरियर व्यवसाय की बात  करे  तो सबसे पहले हम विद्यार्थियों की बात करते हैं तब हम सबसे पहले पंचम भाव को देखकर उनके स्वामी है जो शुक्र वो साल की शुरुआत में अपने से एक घर आगे जाकर बैठे है । हालंकि केतु के साथ बैठे जड़त्व योग का निर्माण कर रहे हैं परन्तु फिर भी अपने से एक घर आगे जाकर बैठना वो आपको ठीक रिजल्ट देते हुए दिखाई देंगे। हालांकि कठिनाइयां आएगी दिक्कतें आएगी। काम इतना आसानी से आपका नहीं होगा आपको कड़ी मेहनत अपने रिजल्ट के लिए करनी पड़ेगी पर मेहनत करेंगे उतना रिजल्ट भी आपको देखने को मिलेगा। विद्यार्थी वर्ग के लिए कमर कसने का टाइम ये रहेगा साल की शुरुआत का अब 15 फरवरी से 17 अप्रेल तक का जो समय इस समय आपको बहुत ज्यादा मेहनत करनी पड़ेगी। इस समय आपके जो पंचम भाव के स्वामी हैं पंचमेश शुक्र है वे अस्त हो जाएंगे तो अस्त होने की पोजिशन में आपको थोड़ी अधिक मेहनत की आवश्यकता रहेगी। अगर आपको कोई रिजल्ट आना है तो रिजल्ट थोड़ा सा निराशाजनक जा सकता है। बाकी ये टाइम आपके लिए बहुत अच्छा 4 मई से लेकर 21 जून तक का समय तो बहुत ज्यादा उन्नति कारक रहेगा I जो कोई कॉम्पिटिशन एग्जाम की तैयारी कर रहा जिनका कोई रिजल्ट चाहे वो गवर्नमेंट जॉब का हो चाहे आप कोई बड़े कॉलेज में दाखिला लेने के लिए आपने प्रयास किया और उसका रिजल्ट आना तो वो रिजल्ट आपके लिए इस समय बहुत ही फेवरेबल रहने वाला है। 6 सितंबर से 2 अक्टूबर तक विद्यार्थियों के लिए विशेष उपलब्धि दायक रहेगा प्रसिद्धि दायक रहेगा । इस समय आप अपने टीचर और प्रिंसिपल की नजर में अप होते हुए दिखाई देंगे जो पोस्ट ग्रेजुएशन के छात्र हैं उनको अपना मनचाहा कॉलेज मिल जाएगा मनचाही डिग्री मिल जाएगी। आप जिसमें भी कोई रिसर्च करना चाहते हैं पीएचडी करना चाहते हैं उसमें आप सक्सेसफुल होते हुए दिखाई देंगे। यानी आप विद्यार्थियों के लिए सालभर उपलब्धि दायक और सफलता दायक समय रहने वाला है। बस आपको शुक्र जब जब अस्त हो रहा उस समय आप ध्यान रखेगा I अब करियर की यदि बात करें तो करियर के भाव के स्वामी शनि जो कि पूरे साल अष्टम भाव में जाकर स्वग्रही होकर विराजमान होने वाले हैं। करियर की दृष्टि से यदि मैं देखूं तो ये साल आपके लिए भाग्यवर्धक ही रहने वाला है क्योंकि शनि जाकर अपने से 12वें परंतु वो स्वगृही होकर बैठ रहा है। गुरु के साथ बैठे हैं। इस समय आप अपने ज्ञान में बहुत ज्यादा वृद्धि करना चाहेंगे। आध्यात्मिकता में आपकी रुचि बहुत अधिक रहेगी। इस समय थोड़ा सा आप अपने काम को बहुत ज्यादा काम के प्रति डेडिकेट रहेंगे तो युवाओं के लिए ये समय भाग्यवर्धक रहने वाला है। क्या आप मनचाही नौकरी प्राप्त करेंगे? इस समय आप अपने जीवन में सेटल होते हुए दिखाई देंगे जो आपके मन में चाहे काम करने की। वो काम इस समय आप शुरू कर सकते हैं। यदि आप कोई अपना खुद का काम शुरू करना चाहते हैं तो आप खनन विभाग से रिलेटेड अप्लाई कर सकते हैं। आप जॉब करना चाहते हैं। यदि आप खनिज पदार्थों से रिलेटेड जो जमीन से निकलने वाले पदार्थ हैं उनसे रिलेटेड कोई भी काम करते हैं चाहे वो तेल हो चाहे ग्रॉसरी हो। अगर आप उससे रिलेटेड कोई भी काम करते हैं तो उसमें आपको बहुत अच्छी सफलता मिलेगी। पेट्रोल से रिलेटेड कोई भी काम आप कर सकते हैं उनमें आपको बहुत अच्छी सफलता और सक्सेस इस साल हासिल होती दिखाई देगी और आप एक तरह से आप जो भी काम की शुरुआत करेंगे उसमें आप सैट होते हुए दिखाई देंगे। व्यावसायिक जो गतिविधियां हैं उसके लिए थोड़ा सा उतार चढ़ाव आपको देखना पड़ सकता है क्योंकि शनि के साथ गुरु की युति बहुत अच्छी हो रही है। भाग्येश और कर्मेश दोनों एक साथ अष्टम भाव में जाकर युति करके बैठे हैं परंतु गुरु हैं नीच के और अपनी नीच की राशि में साल की शुरुआत में विराजमान रहेंगे।

तो ये जो दो टाइम पीरियड हैं इस समय आपको विशेष रूप से अपने काम पर अपने जॉब पर ध्यान रखना पड़ेगा। अपने व्यवसाय पर अपने व्यापार पर आपको ध्यान रखना पड़ेगा। थोड़ा सा क्योंकि ये टाइम पीरियड इतना अच्छा आपके लिए रिजल्ट नहीं करेगा I मेहनत जितनी करेंगे उतना रिजल्ट मिलेगा तो मैं हमेशा व्यक्ति को कर्म प्रधान रहना चाहिए तो आप अपनी मेहनत पर रिजल्ट जरूर प्राप्त करेंगे परंतु फिर भी कुछ कठिनाइयों का सामना आपको करना पड़ेगा क्योंकि इस समय गुरु नीच के होकर मकर राशि में बैठे है और शनि की तीसरी दृष्टि तो कर्म भाव पर साल भर पड़ने वाली है इसलिए थोड़ा सा संभल कर अपने काम में सतर्कता से आपको आगे बढ़ना पड़ेगा। परंतु आपके जीवन में 6 अप्रैल से लेकर 14 सितंबर तक का जो टाइम पीरियड है लास्ट में 20 नवंबर से साल के अंत तक का समय बहुत बढ़िया रहने वाला है। इस समय आप अपने काम में उन्नति करेंगे। गुरु भाग्य स्थान में जाकर विराजमान है। आपके काम को और अधिक बढ़ाएंगे। आपके काम में तेजी आएगी मैनेजमेंट से रिलेटेड जो भी काम कर शिक्षण व्यवसाय से जुड़े वह अपना खुद का कोई आपको कंसल्टेंसी सर्विसेस आपका कोई काम है तो उसमें आपको बहुत अच्छी सफलता मिलती दिखाई देगी। इन क्षेत्रों से जुड़े लोगों को आपके लाभ और उपलब्धियां इस समय हासिल होती हुई दिखाई देंगी। यदि आपका खुद का बिजनस है तो अगर जूलरी का बिजनस है या फिर पीली चीजों से रिलेटेड कोई भी काम करते हैं तो उसमें आपको अच्छी सफलता देखने को मिलती है। मिले जुले परिणाम साल में गुरु और शनि के हमें देखने को मिलेंगे।  Mithun Rashi 2021

Mithun Rashi 2021 जीवनसाथी और प्रेम प्रसंगों – जीवनसाथी और प्रेम प्रसंगों की यदि हम बात करे तो सप्तमेश गुरु है जो कि कर्मेश भी है । हालांकि सूर्य बुध का बुधादित्य योग जीवनसाथी के भाव में बना हुआ है यानी लाइफ पार्टनर से आपको साल भर लाभ की स्थितियां देखने को मिलेगी। जीवनसाथी के नाम से यदि कोई काम करते हैं तो उसमें भी आपको सफलता प्राप्त होगी परंतु और कोई पार्टनर को अपने काम में न डालें। अगर आपको पार्टनरशिप में काम करना है तो आपको अपने जीवनसाथी का नाम डाल देना चाहिए उससे आपको सफलता प्राप्त होगी परंतु किसी और के साथ में आपने काम किया तो वो काम आपका सक्सेसफुल नहीं होगा। स्वतंत्र रूप से आपको इस साल अपने कार्यों में आगे बढना चाहिए। वैवाहिक जीवन आपके लिए उतार चढ़ाव भरा साल रहने वाला है। यदि आप अविवाहित हैं और विवाह के बंधन में बंधना चाहते हैं तो आपको जब जब गुरु कुम्भ में जाएंगे 6 अप्रैल से लेकर 14 सितम्बर तक और 20 नवम्बर से लेकर साल के अंत तक इस समय को समय आपके विवाह के बंधन में बंधने के चांसेस बहुत अच्छे रहेंगे परन्तु उसके अलावा आपको थोड़ा इन्तजार अभी करना पड़ेगा। लाइफ पार्टनर के साथ ट्यूनिंग बिगड़ती बनती रहने वाली है। कुछ महीने आपके लिए अच्छे रहेंगे। साल की शुरुआत आपके लिए अच्छी नहीं रहेगी। इस समय गुरु नीच के होकर मकर राशि में जाकर विराजमान हैं तो साल की शुरुआत तो इतनी अच्छी नहीं रहेगी परन्तु साल का अंत आपके लिए बहुत अच्छा और भाग्यवर्धक रहने वाला है। वैवाहिक जीवन में उतार चढ़ाव चलेगा पर नौबत ऐसी नहीं आएगी कि संबंध विच्छेद हो जाए। लव रिलेशनशिप में भी आपको संभलकर अपने प्रेमी या प्रेमिका के साथ साल की शुरुआत में रहना पड़ेगा क्योंकि उससे आपको धोखा मिल सकता है वो आपके साथ चीटिंग कर सकते हैं तो इसलिए आप इस समय संभलकर अपने रिलेशनशिप को इतना आगे न ले जाएं फिर बाद में आपको रिलेशनशिप टूटने का दर्द हो। आपका दिल टूट जाए और आपको पछताना पड़े अपने डिसीजन पर तो आपको थोड़ा सा ध्यान अपनी रिलेशनशिप में और मैरिटल लाइफ के अंदर रखना पड़ेगा। अपनी मैरिज का पूरा ध्यान रखें। थोड़ा सा ईगो को साइड कर दें। वैवाहिक जीवन के अंदर तनाव हो जाना हमारे जीवन की प्रत्येक प्रक्रिया को प्रभावित करता है प्रत्येक क्षेत्र को प्रभावित करता है। इसलिए अपने इगो को थोड़ा साइड में रखें। एक दूसरे के साथ तालमेल बनाकर रखें और किसी भी बात के बाद विवाद की स्थिति में एक बंदा अगर जीवनसाथी लाइफ पार्टनर में अगर एक भी जना चुप हो जाता है तो जीवन की गाड़ी आगे चलती चली जाती है। थोड़ा सा ध्यान रखें बाकी ओवरऑल कोई बड़ी समस्या आपके दाम्पत्य जीवन में अलगाव रिलेशनशिप में नहीं होगी।  Mithun Rashi 2021

Mithun Rashi 2021 स्वास्थ – ये साल स्वास्थ की दृष्टि से आपके लिए क्या करें। सबसे पहले मैं आपको बता दूं कि पूरे साल राहु आपके १२ हाऊस में बैठे हैं उसमें केतू आपके रोग भाव में हैं तो स्वास्थ संबंधी समस्याएं और शनि अष्टम भाव में कारको भाव का नाश कर रहे है तो स्वास्थ संबंधी समस्याएं तो आपको झेलनी पड़ेगी। कुछ मानसिक चिंता बीमारी सर्जरी होने के चांसेस एक्सीडेंट होने के चांसेस आपके बनेंगे। वहीं वायरस से रिलेटेड जो भी बीमारियां हैं मलेरिया डेंगू चिकनगुनिया रोगाणु कीटाणु आपको इस समय परेशान कर सकते हैं या फिर ये जो कोरोना वायरस आपने विश्व में फैला हुआ है अपने देश में भी फैला हुआ है उसका इफेक्ट भी आपके ऊपर आ सकता है इसलिए आपको साल भर अपने स्वास्थ्य का विशेष रूप से ध्यान रखना पड़ेगा। योगा मेडिटेशन प्राणायाम से अपने आपको जोड़े रखे शनि से रिलेटेड चीजों के आपको दान करने और स्वास्थ्य में किसी भी प्रकार की कोताही नहीं करनी है। हाईजीन का विशेष रूप से ध्यान रखें। अपने आसपास स्वच्छता का विशेष ध्यान रखें और संभलकर चलें। थोड़ा सा अपने लापरवाही होते ही सीधे डॉक्टर से परामर्श लेकर तुरंत इलाज कराएं ताकि समस्याएं बढ़े ना। इसलिए थोड़ा सा आपको इस साल अपने स्वास्थ पर विशेष रूप से ध्यान देना पड़ेगा

Mithun Rashi 2021 वर्ष 2021 में किये जाने वाले उपाय – 

  1. बुध आपके लग्नेश है तो सबसे पहले आपको हरी चीजों का दान इस साल करना चाहिए। गणपति जी की पूजा आराधना विशेष रूप से प्रभावशाली आपके लिए रहेगी।
  2. घर से निकले पहले आप गणेशजी की पूजा आराधना करें उसके बाद में आप घर से बाहर निकलें।
  3. बुधवार के दिन अगर आपके पास में मरगज के गणेशजी हैं तो बहुत अच्छा अन्यथा कोई भी गणेश जी की मूर्ति उस पर दूर्वा जरूर चढ़ाएं। ये काम आपको जरूर करना है। साथ ही आपको सप्त धान जो है वो चतुर्थी चतुर्दशी नवमी और अमावस्या के दिन बैल को या नंदी को आपको खिलाना है। सूर्यास्त के बाद खिलाना।
  4. इससे जो आपके स्वास्थ्य पर बुरा असर पडता है। राहु केतु का कोई दुष्प्रभाव है तो वो थोड़ा सा कम होता हुआ दिखाई देगा। गणपति जी की पूजा करें।
  5. गणेश चतुर्थी पर व्रत जरूर करें। गणेश चौक जितने भी साल में उस पर। उसका व्रत आपको अवश्य करना है। आपकी गली में कोई भी काला कुत्ता दिखे अगर तो बहुत अच्छा। कोई भी कुत्ता, स्लम डॉग आपको दिखता है उसे आप तेल से चुपड़ी रोटी अवश्य खिलाएं।
  6. पक्षियों को दाना आपको सालभर डालें। जब भी जेसी आपकी पुरुषार्थ तो पक्षियों को दाना जरूर डालें तो ये कुछ उपाय हैं जो कि आपको मिथुन राशि वालों को जरूर करना चाहिए। Mithun Rashi 2021Note: Daily, Weekly, Monthly and Annual Horoscope is being provided by Pandit N.M.Shrimali Ji, almost free. To know daily, weekly, monthly and annual horoscopes and end your problems related to your life click on (Kundali Vishleshan) or contact Pandit NM Shrimali  Whatsapp No. 9929391753, E-Mail- [email protected]

    Connect with us at Social Network:-

    social network panditnmshrimali.com social network panditnmshrimali.com social network panditnmshrimali.com social network panditnmshrimali.com

    क्या आप भी अपने केरियर को लेकर चिंतित है नोकरी नहीं लग रही है, व्यापार नहीं चल रहा हैं, क़र्ज़ बहुत अधिक हो गया है या शादी नहीं हो रही है तो जानिए की ऐसा क्यों हो रहा है और इन परेशानियों से छुटकारा पाने के लिए श्रीमती निधी जी श्रीमाली से समाधान प्राप्त करने हेतु आज ही टेलेफ़ोनिक/ विडीओ कॉल अपॉइंटमेंट प्राप्त करने हेतु नीचे दिए गए नंबरों पर सम्पर्क करे। 9571122777 | 9929391753 | 8955658362


[/vc_column_text][/vc_column][/vc_row][vc_row][vc_column][vc_video link=”https://youtu.be/uCYp8mKgXTU” el_width=”70″ align=”center” image_poster_switch=”no”][/vc_column][/vc_row]

Back to list

Leave a Reply

Your email address will not be published.