Astro Gyaan, Astrology Tips, Featured

Mesh Rashi Shani शनिदेव का राशि परिवर्तन मेष राशि पर प्रभाव

Mesh Rashi Shani

शनिदेव का राशि परिवर्तन मेष राशि पर प्रभाव


Mesh Rashi Shani

Image result for mesh shani ke prabhav png

2020 में शनि धनु राशि से मकर राशि में प्रवेश कर रहा है इससे मेष राशि में क्या परिवर्तन होगा.

Image result for mesh shani ke prabhav png

पंडित एन एम श्रीमाली जी के अनुसार मेष राशि पर शनि देव के राशि परिवर्तन का क्या असर पड़ेगा उसके बारे में बतायेंगे. शनिदेव नील वर्ण हैं.शनि देव देवों में सबसे प्रथम सबसे अगर उच्च स्थान किसी को है तो वो शनि देव को है. आज की इस कलयुग में यदि सबसे ज्यादा कोई व्यक्ति अपने कुकर्मों से डरता है या अपने कर्म यदि उसने गलत किया है तो वो डरता है कि मुझे उस कर्म का दंड यदि कोई देगा तो वो शनि देव है. हमें इसी जन्म में हमारे कर्मों का वो पूरा न्याय करके और हमें उस हिसाब से फल प्रदान करते हैं. यदि हमने सत्कर्म की है तो वो हमें अच्छे फल भी देते हैं और यदि हमने हमारी लाइफ के अंदर हमारे कर्मों में हमने कुछ गलत काम किया है किसी के साथ दुर्व्यवहार किया है कुछ गलत तरीकों से हम आगे बढ़े हैं तो हमें उसका दंड भी शनिदेव इसी जन्म में प्रदान करते हैं.यानी शनि देव न्यायप्रिय देवता हैं. इसके साथ ही शनिदेव सेवक भी हैं वो शिवा यानि जाप करवाते हैं जिनको भी शनि देव जिनकी राशि के अंदर अच्छे कर्म भाव में भाग्य स्थान में बैठे हैं या फिर बहुत उच्च के ऊपर बैठे हैं तो वे आपको जॉब करवाएंगे शनिदेव कर्म में विश्वास रखते हैं.कर्म प्रिय है और व्यक्ति को कर्म निष्ठ बनाते हैं. शनि देव की मित्रता बुध और शुक्र से होती है और शत्रुता सूर्य चंद्र और मंगल से रहती है. शनि देव की महादशा यानि जब साढ़े साती लगती है तो उसमें व्यक्ति को कई प्रकार की समस्याओं का भी सामना करना पड़ता है और कई बार कुण्डली के अंदर यदि हमने अच्छे कर्म किए हैं तो हमें उस साढ़ेसाती के अंदर शनि देव हमारे बारे न्यारे कर देते हैं हमें बहुत ही ऊँचाइयों पर उन्नति पर पहुंचा देते हैं.इसी प्रकार ढैय्या में भी शनि देव जब शनि की ढैय्या किसी व्यक्ति को लगती है तो वो एक तरह से एक ट्रेलर जब हम पिक्चर देखने होते तो इस पिक्चर के ट्रेलर की तरह ये होता है कि शनि की साती हमें कैसे चल रही है तो शनि की ढैय्या में वो व्यक्ति पर जिस प्रकार से प्रभाव डालेंगे उसी प्रकार उस व्यक्ति को शनि की साढ़ेसाती भी जाएगी. इसका पूर्व अनुमान उस व्यक्ति को हो जाना चाहिए और होता भी है 24 जनवरी को शुक्रवार के दिन शनि का धनु राशि से मकर राशि में परिवर्तन ऊर्जा यानि शनिदेव धनु राशि से मकर राशि में प्रवेश करें. Mesh Rashi Shani

शुक्रवार के दिन उत्तराषाढ़ा नक्षत्र के अंदर वे धनु से मकर राशि में प्रवेश करेंगे.

वैसे 1 जनवरी 2020 से 2 फरवरी 2020 तक शनि देव अस्त रहेंगे. उसी के साथ 11 मई 2020 से 29 सितंबर 2020 तक यानी 100 बयालीस दिन तक सनी वक्री होकर लक्ष्य विराजित होने वाले हैं.अब हम सबसे सीधे आ जाते हैं कि मेष राशि वालों पर शनि देव के इस राशि परिवर्तन का क्या असर पड़ेगा.क्या प्रभाव मेष राशि वालों पर इस आने वाले वर्ष में शनि का राशि परिवर्तन कर पड़ने वाला है. आपकी राशि के लिए शनि देव कर्म भाव और लाभ भाव के स्वामी हैं जो कि 24 जनवरी 2020 को आपके भाग्य स्थान से कर्म स्थान में प्रवेश करेंगे और वहां स्वग्रही होकर बैठेंगे. आप पहले से ही सूर्य बुध और चंद्र विराजमान हैं. उनके साथ वो युति करेंगे.अब आपके शनि देव के आपकी कर्म भाव में प्रवेश के बाद में आपकी पर्सनैलिटी में निखार आएगा. आपके जीवन में सामाजिक मान प्रतिष्ठा में वृद्धि होगी. लोगों से आपके तालमेल में वृद्धि होगी.जिन लोगों पर आपका प्रभाव बढ़ेगा. आप अपनी पर्सनैलिटी लेकर समाज में उभरेंगे और लोग आपकी बातों को मानेंगे.आपके पैतृक संपत्ति संबंधी यदि कोई विवाद है तो वो विवाद सॉल्व हो जाएगा और संपत्ति संबंधी यदि आपने भी कुछ सोचा लिए या आप कुछ सोच रहे हैं कि पैतृक संपत्ति लेने का या पैतृक संपत्ति में हिस्सेदारी का तो उस समय आपके दिमाग में बेची जाएगी और आपके फेवर में आप पैतृक संपत्ति से संबंधित कोई भी कार्य को करेंगे आपके पराक्रम में शनिदेव वृद्धि करेंगे आपके यश कीर्ति में वृद्धि होगी. मान सम्मान और प्रतिष्ठा में वृद्धि होगी. परंतु शनि की ग्रस्त मियां जोकि तीसरी दृष्टि 12वें भाव पर सातवीं दृष्टि से किस स्थान पर यानी चौथे भाव पर और दसवीं दृष्टि सप्तम स्थान पर यानी दाम्पत्य भाव पर पड़ रही है वह आपके लिए ठीक नहीं रहेगी लेकिन आपको उसके पीछे एक छोटी सी कहानी बताती है कि जब शनि देव का जन्म हुआ तब उनके पिता पर उनकी दृष्टि पड़ी.सूर्यदेव उनके पिता हैं तो सूर्य पर जब उनकी दृष्टि पड़ी तो सूर्य देव को कुष्ठ रोग हो गया. उनकी जो साथी थे अरुण वे पंगु हो गए और उनके जो घोड़े थे वे अंधे हो गए तो आप समझ सकते हैं कि शनि देव की रस्सियां कितनी विनाशकारी होती हैं. शनिदेव जहां बैठते हैं उस घर को बढ़ाते हैं. उस घर की उन्नति करते हैं क्योंकि कोई भी मनुष्य आप यदि अपने घर में बैठेंगे तो आप अपने घर का नुकसान तो नहीं करेंगे. उसी प्रकार कोई भी ग्रह यदि अपने घर में बैठता है तो वो अपने घर का नुकसान या अहित नहीं करता है तो शनिदेव जहां बैठेंगे उसको बढ़ाते और शनि देव की दृष्टि बहुत ही विनाशकारी होती है तो चतुर्थ भाव पर शनि देव की सप्तम दृष्टि पड़ने से आपके सुखों में कुछ कमी आपको महसूस होगी. 24 जनवरी के बाद मैं आपके भूमि भवन वाहन जैसे सुखों में कमी आएगी. यदि आप कोई मकान का सौदा करना चाहते हैं यदि आप मकान की बिक्री करना चाहते आप कोई कंस्ट्रक्शन लाइन से जुड़े हैं तो इस समय आपको संभलकर रहना चाहिए क्योंकि शनि देव के इस राशि परिवर्तन के कारण शनिदेव की दृष्टि भारत पड़ रही है उस वजह से आपके कार्य अटके होंगे. भूमि संबंधी यदि आप कोई व्यवसाय करें तो रुक रुक कर आपके कार्य होंगे और आपके कार्यों में कुछ अटका आपको महसूस होगा. वहीं यदि इस समय आप कोई लग्जीरियस मांग करना चाहते हैं तो उसकी खरीदारी नहीं करें. आपके उसकी खरीदारी करने पर वो वाहन आपको उसमें थोड़ी सी समस्याओं का सामना करना पड़ेगा. आपके सुखों में कुछ कमी इस समय रहेगी. वहीं माता के साथ भी आपके संबंधों में कुछ मतभेद उभरकर आएंगे. माता के साथ कुछ मनमुटाव होंगे. माता से आपकी दूरियां बढ़ेगी. आप यदि अपनी मां से बहुत प्यार करते हैं उनके साथ उनका सपोर्ट तो आपके सपोर्ट में उनके सपोर्ट में कुछ कमी आप महसूस करेंगे और उनसे दूरी आपके मन में पैदा हो जाएगी. आप उनसे दूर भी जा सकते हैं वहीं माता के स्वास्थ्य का भी समाप्त ख्याल रखना पड़ेगा. उनका स्वास्थ्य भी कुछ गड़बड़ा सकता है और स्वास्थ्य डावांडोल होने से आपको हॉस्पिटल के भी चक्कर लगाने पड़ सकते हैं. Mesh Rashi Shani

इसलिए थोड़ा इस टाइम पीरियड के दौरान आपको सचेत होने की आवश्यकता रहेगी. संतान की तरफ से आपको पूरा सपोर्ट मिलेगा. बच्चों के करिकुलर एक्टिविटीज में वो आपको गौरवान्वित करवाते हुए महसूस करेंगे. यदि आप विद्यार्थी वर्ग गए तो आप पढ़ाई में अच्छे अचीवमेंट्स हासिल होंगे. आप अपनी पढ़ाई में अचानक से उछाल आएगा और आप अपनी विद्या में अच्छा कार्य करते हुए अच्छा नाम करते हुए अपने लक्ष्य को प्राप्त करते हुए दिखाई देंगे. आपके रोगों में कमी आएगी. शनिदेव आपके रोगों में कमी करेंगे आपकी यदि हड्डी संबंधी मौत लंबे टाइम से आप कुछ प्रॉब्लम से जूझ रहे हैं कुछ दाद खाज फोड़े फुंसियों संबंधी कुछ परेशानी आप झेल रहे हैं तो आपको इन सभी में रिलीफ मिलेगा. Mesh Rashi Shani

आप स्वास्थ्य लाभ को प्राप्त करेंगे परंतु सप्तम भाव पर शनि की दसवीं दृष्टि होने की वजह से आपके सप्तम भाव में कुछ तकलीफें आप महसूस करेंगे. Mesh Rashi Shani

ये दाम्पत्य का भाव भी होता है. पार्टनरशिप का भी भावुकता यानी यदि आप पार्टनरशिप में कोई कार्य करते हैं तो आपको अवश्य नुकसान उठाना पड़ेगा. इसलिए पार्टनरशिप में कार्य करने से बचें. आप कोई भी काम कर सकते हैं परंतु पार्टनरशिप में कोई भी काम आपको नहीं करना चाहिए. जीवनसाथी के साथ आपके मतभेद उभरेंगे. आप दोनों के बीच में मिसअंडरस्टैंडिंग बढ़ेगी. इस समय आपको बहुत ही सोच समझ कर चलना पड़ेगा. बहुत धैर्य के साथ अपने लाइफ पार्टनर के साथ आगे बनना पड़ेगा अन्यथा आप दोनों के मध्य टकराव की स्थिति और अधिक बढ़ेगी और हो सकता है कि तलाक की नौबत आए जैसे ऑपरेशन की नौबत आ जाए आप अपने जीवनसाथी के साथ में एक दूसरे से संबंध विच्छेद भी हो सकते हैं. इसलिए थोड़ा संभलकर अपने वैवाहिक जीवन में चलिए. प्रेम प्रसंगों के मामले में भी ये टाइम पीरियड मिस वालों के लिए अच्छा नहीं जाएगा क्योंकि प्रेम संबंधों में कुछ खटास आप महसूस करेंगे. आपकी लाइफ के अंदर कुछ बदलाव आप महसूस करेंगे. आपके जीवन के अंदर आपको जो संबंधों में जुड़े हुए थे आप प्रेम संबंधों में बने रहते हैं और आप सोच सकते हैं कि आप उसे विवाह की परिणति में कन्वर्ट कर लें परंतु ये स्थितियां अब नहीं पॉसिबल होंगी. आपको थोड़ा संभलकर चलना पड़ेगा. प्रेम प्रसंगों के मामलों में हो सकता है आप किसी गलत पार्टनर को चूज करें और वो आपको धोखा भी दे सकते हैं इसीलिए सोच समझकर आगे बढ़ें. Mesh Rashi Shani

अपने जीवन को सही दिशा में आगे बढ़ाएं. एक पार्टनर सही अगर हम चूज नहीं करते तो हमारी लाइफ उस पर डिपेंड होती है और हमारी पूरी लाइफ उसकी वजह से खराब हो जाती है. इसलिए सोच समझकर निर्णय लें. यदि आप विवाह की परिणति में भी बंध जाते हैं तो आपको बहुत कठिन समय से गुजरना पड़ेगा. अभी आपके विवाह में प्रॉब्लम्स आ सकती है.

विवाह की परिणति में बनने में भी प्रॉब्लम आ सकती है संबंध आप कुछ नहीं मिलेंगे और मिलते हैं तो आपको बहुत सोच समझकर उनके साथ आगे बढ़ना पड़ेगा अन्यथा आपको सही लाइफ पार्टनर नहीं मिलेगा तो सातवें स्थान पर शनि की दृष्टि पड़ने की वजह से सातवा स्थान गड़बड़ हो तो विवाह में और प्रेम संबंधों में थोड़ा सजग होकर आप चलें. Mesh Rashi Shani

आपके अनायास दुर्घटना में संभावनाओं में आपके दैनिक जीवन में आए घटनाओं में कमी आएगी. कोई अशुभ समाचार मिलते हैं जो आपको बहुत लंबे टाइम तक आपको कुछ मानसिक परेशानियां मानसिक टेंशन जो आप झेल रहे हैं उसमें भी कमी आएगी और आपको कहीं से अचानक लाभ की भी प्राप्ति हो सकती है. आपके अचानक कहीं से व्यापार में आपको अचानक से कहीं से लाभ प्राप्त होगा या कोई अटकी हुई कोई योजना बहुत लंबे समय से पेंडिंग पड़ी थी तो उसमें भी आपको लाभ प्राप्त होगा और यदि आप अविवाहित हैं तो ये टाइम पीरियड में आपको अपने सुसराल वालों का सुसराल पक्ष की तरफ से पूरा सपोर्ट मिलेगा. Mesh Rashi Shani

उनकी तरफ से भी आपको अच्छे लाभ की प्राप्ति होगी. भाग्य स्थान की यदि हम बात करें तो 24 जनवरी से पहले शनिदेव आपके भाग्य स्थान में विराजते हैं वो भी बहुत बढ़िया आपके भाग्य को बढ़ा रहे थे अब वो आपके कर्म स्थान में 24 जनवरी को वे 24 जनवरी 2020 को वे आपके कर्म स्थान में प्रवेश कर हैं तो वो आपके कर्म को बढ़ाएंगे. भाग्य आपका साथ देगा. आपके सब कार्यों में आपको सपोर्ट करेंगे.

आप जो भी कार्य में हाथ डालेंगे उसमें आपको निश्चित तौर पर सफलता प्राप्त होगी. कोई भी पेंडिंग पड़े हुए कार्य हैं तो उनको आप अटकी हुई जो बहुत लंबे समय से योजनाएं उनको आप इस समय पूरा कर सकते हैं. ये समय आपके लिए बिल्कुल सही है. कोई राइट टाइम में क्या आप अपने रुके हुए कार्यों को फिर गति प्रदान करें करमा आपके होगी. शनि देव जहां बैठते हैं उस व्यक्ति को परिश्रम करवाते हैं उस भाव को बढ़ाते हैं यानी आपके कर्म में वृद्धि होगी. यदि आप जॉब करें तो आपके नई नई जिम्मेदारियां नई नई अपॉच्र्युनिटीज आपको जॉब में मिलेगी. आपके बॉस आपके अधिकारी वर्ग आपके फेवर में बात करेंगे. आप आपको और अधिक ऊँचाइयों तक शनिदेव ले जाएंगे.

आपके साथ बहुत अच्छे व्यवहार होंगे. आप अचानक से प्रमोशन प्राप्त भी कर सकते हैं और यदि आप व्यापार कर रहे हैं तो आपको अचानक से लाभ मिलेगा. व्यापार में अपनी नई योजनाओं का क्रियान्वयन करेंगे. ये टाइम पीरियड के दौरान जब शनि मकर राशि में ढाई साल तक रहेंगे तब तक आपके लाइन के अंदर ये दिन बहुत बढ़िया कर्म के हिसाब से आनेवाला है. आप अपने व्यापार का विस्तार करेंगे उसे फैलाएंगे और आप एक अच्छे पॉइंट को आप जो बहुत जिन्दगी के अंदर सोच लेते कि मैं मेरे व्यापार को दुगनी ऊंचाइयों तक पहुंचाने या उन्नति करूं वो उन्नति भरा समय अब आपका आ गया है. Mesh Rashi Shani

आपको कहीं पर भी घबराने की जरूरत नहीं है. आप भी अपने कार्यक्षेत्र में आगे बढ़ें. आप जो भी कार्य हाथ में लेंगे उसमें आपको निश्चित तौर पर सफलता मिलेगी विशेषकर जो तेल से संबंधित कोई कार्य करते हैं. खनिज संपदा से संबंधित कोई कार्य करते हैं. लोहे से संबंधित कोई व्यापार कर रहे हैं. आप कोई माइनिंग डिपार्टमेंट से रिलेटेड कोई उस डिपार्टमेंट में जॉब कर रहे हैं तो यदि इन चीजों से संबंधित कोई भी कार्य करेंगे. यदि आप किसान हैं और किसानी का भी भूमि से संबंधित फसलों से संबंधित कोई कार्य करें.

एग्रीकल्चर से संबंधित कोई कार्य करें. भूमि के खरीद बेच से अधिक संबंधित कोई कार्य करें तो आपको उसमें निश्चित तौर पर अच्छे लाभ की प्राप्ति होगी. ये कार्य ये व्यवसाय आपको नई ऊँचाइयों पर ले जाएंगे. नई प्रगति दिलवाएंगे और एकदम से आप अपनी लय में अब होते हुए दिखाई देंगे. लाभ भाव के भी स्वामी शनि देव ही हैं और आप के लाभ में वृद्धि करेंगे.

कर्म भाव में यदि प्रगति होती है तो आप निश्चित तौर पर आपके लाभ में भी प्रगति होती है तो आपकी फाइनेंशल कंडीशन इतनी अच्छी हो जाएगी कि आप पीछे मुड़कर नहीं देखना पड़ेगा. Mesh Rashi Shani

आप अचानक से फाइनैंशली बहुत किया और अपने आपको स्टेबल महसूस करेंगे. आप जो एक लेवल अपनी लाइफ में पाना चाहते हैं उस लेवल तक पोंचू लग्जरी पाना चाहते हैं.

सुख सुविधाओं से युक्त होना चाहते टाइम अवागढ़ के लाभ की स्थिति अगर बहुत अच्छी बनती है परंतु मैं हमेशा ही कहती हूं कि व्यक्ति के कर्म ही उसको आगे ले जाते हैं. अब आप उन लाभ की स्थितियों का किस प्रकार से निवेश करते हैं किस प्रकार से उन लाभ की परिस्थितियों को अपने पैसे को इन्वेस्ट करते हैं किस प्रकार आप उसको आगे ले जाते हैं उस पर सभी चीजें डिपेंड करती है. शेयर मार्केट में यदि आप निवेश करते हैं. लॉटरी में यदि आप निवेश करते हैं तो आपको निश्चित तौर पर अच्छे लाभ की प्राप्ति होगी परंतु अनर्गल खर्चों से आपको बताना पड़ेगा क्योंकि शनि की तीसरी दृष्टि 12वें भाव पर आ रही है.

12वें भाव पर शनि की तीसरी दृष्टि होना आपके खर्चों में बढ़ोतरी करती है. यदि आपने अनर्गल खर्च अपने नहीं कम किए. यदि आपने सोच समझकर खर्च नहीं किए क्योंकि शनि आपको खर्च करवाएगा ही. शनि की दृष्टि पड़े तो वो अनर्गल खर्च करवाएगी. परंतु इस समय आपको बैलंस मानकर चलें. जितनी जरूरत हो तो खर्च करें अन्यथा आपको नुकसान उठाना पड़ेगा. जितना लाभ आपने कमाया है उससे ज्यादा आपको खर्चे की स्थितियां देखनी पड़ेगी. उन खर्चों से आपको गुजरना पड़ेगा और आपकी फाइनैंशल कंडिशन जो कि मैंने आपको लाभ भाव में शनि लाभ भाव के स्वामी शनि है.

अपने पैरों के निशान को इम्प्रूव करेंगे. परंतु यदि आप खर्चों में बढ़ोतरी कर देंगे तो वो फाइनैंशल कंडिशन डावांडोल हो जाएगी यानि आपकी सुखों में वृद्धि के चक्कर के अंदर आप अपने लाभ की स्थितियों को कम कर देंगे और आमदनी अठन्नी और खर्चा रुपैया वाली स्थितियां आपके जीवन में पैदा हो जाएंगी. Mesh Rashi Shani

ऐसा न करें. फिजूलखर्ची से बचें. अपने परिवार वालों को भी फिजूलखर्ची करने से रोकें. लेकिन थोड़ी तो यह रहेगी आप कितनी भी कोशिश कर लें. संयमित होकर चलने की परंतु शनि खर्च करवाएगा. परंतु फिर भी आपको सोच समझकर आगे बढ़ना पड़ेगा.

यदि आप चाहते हैं कि आपके जो खर्च की स्थिति यह हो कम हो. आपके जो सुख के स्थान में कमी आई है. प्रॉपर्टी से संबंधित जो आप बेच या खरीद करें उसमें दिक्कत देरी आपके दांपत्य भाव में विशेष तौर पर आपके जीवनसाथी से आपके संबंधों में कुछ कमी आएगी. कुछ मनमुटाव हो रहे हैं Mesh Rashi Shani

उपाय : आपको कुछ उपाय करने है हम आपके लिए बहुत ही अचूक उपाय लेकर आये  है .

  1. आपको श्री यंत्र अपने पूजा कक्ष में स्थापित करना पड़ेगा जो आपके सुख स्थान में कमी आ रही है. आपके खर्चों में बढ़ोतरी हो रही है. इस वजह से आपको अपने पूजा कक्ष में श्री यंत्र को स्थापित करना चाहिए|श्रीयंत्र को आप स्थापित करें और रोज पंचामृत से उस पर अभिषेक करेंगे तो आपके जीवन में आ रही किसी भी प्रकार की फाइनेंशियल जो प्रॉब्लम है वो दूर हो जाएगी और शनि देव का नकारात्मक प्रभाव उनकी दृष्टि का जो नकारात्मक प्रभाव आपके जीवन पर नहीं पड़ेगा और सारी समस्या आपके जीवन की साल हो जाएगी|
  2. गौरी शंकर रुद्राक्ष को यदि आप अपने गले में धारण करते हैं तो निश्चित तौर पर आपके दांपत्य जीवन में जो मिसअंडरस्टैंडिंग बढ़ने वाली है या बहुत लंबे टाइम से चल रही है उसमें कमी आएगी क्योंकि आप गौरी शंकर रुद्राक्ष शिव और पार्वती का प्रतिनिधित्व करते हैं तो दाम्पत्य जीवन के हिसाब से यह आपके प्रेम संबंधों के हिसाब से ये बहुत ही महत्वपूर्ण भूमिका निभा सकते हैं| ढाई साल का पीरियड बहुत ही लंबा होता है और इस टाइम पीरियड के दौरान यदि दाम्पत्य जीवन में कोई खटास हो तो व्यक्ति कहीं किसी भी तरफ कंसंट्रेट नहीं कर पाता है. किसी भी क्षेत्र में आगे नहीं बढ़ पाता है क्योंकि फैमिली हिस्ट्री होगी तो वह आगे क्या कुछ पाएगा तो इस वजह से आपको गौरी शंकर रुद्राक्ष को भी अपने गले में धारण करना चाहिए|

मेष राशि वालों के लिए शनि की राशि परिवर्तन का प्रभाव जो कि हमने अभी आपको बताया.  तो हमारे द्वारा बताए गए इन उपायों को जरूर आप अपनाएं| Mesh Rashi Shani

RELATED PRODUCT

Nidhi Shrimali

About Nidhi Shrimali

Astrologer Nidhi Shrimali is most prominent & renowned astrologer in India, and can take care of any issue of her customer and has been constantly effective.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *