Astro Gyaan|Astrology Tips|Featured

Kanya Rashifal July 2022 in Hindi | कन्या राशिफल जुलाई 2022 | Nidhi Ji Shrimali

maxresdefault 4 7 | Panditnmshrimali

[vc_row][vc_column][vc_column_text]

Kanya Rashifal July 2022


 

This image has an empty alt attribute; its file name is kanya-rashi-virgo-300x267.png

उतार चढ़ाव हर व्यक्ति के जीवन में आते हैं और सही मार्गदर्शन से उनका समाधान संभव है तो आइए हम करेंगे आपकी हर समस्या का समाधान नमस्कार आज हम आपके सामने जुलाई माह का कन्या राशि वालों का मासिक राशिफल लेकर उपस्थित हुए है | सबसे पहले इस जुलाई माह में आने वाले व्रत और त्योहारों के बारे में जान लेते हैं तो 13 जुलाई को गुरु पूर्णिमा का पर्व आ रहा है और ये पर्व गुरु को समर्पित होता है। गुरु बिना व्यक्ति का जीवन उस नाव के समान है जो कि पतवार विहीन है और किनारे तक नहीं पहुँच सकती है। इसीलिए यदि आपके जीवन में कोई गुरु नहीं है तो अपने जीवन में गुरु जरुर बनाएं। 28 जुलाई को हरियाली अमावस्या यानि श्रावण अमावस्या का पर्व धूमधाम से मनाया जाएगा। इस दिन पेय पदार्थों का फल फ्रूट्स का दान करना विशेष लाभदायक रहता है और 31 जुलाई को हरियाली तीज का पर्व सभी सुहागिनें मनाएगी। ये पर्व सुहागिनें अपने सुहाग की लम्बी उम्र के लिए रखती है। तो ये है इस माह में आने वाले विशेष व्रत और त्योहार जो कि इस जुलाई माह को और भी अधिक विशेष बना रहे है।  Kanya Rashifal July 2022 in Hindi

बढते है आगे और जान लेते है ग्रहों की स्थति के हिसाब से ये माह किस प्रकार से इम्पोर्टेन्ट रहने वाला है तो सूर्य जो कि वर्तमान में अपनी मित्र राशि मिथुन में विराजमान है और 16 जुलाई को वे अपनी अति मित्र राशि कर्क में प्रवेश कर जाएंगे। बुध ग्रह जो कि वर्तमान में अपनी अति मित्र राशि वृषभ में विराजमान है। वे महीने की शुरुआत में यानि 2 जुलाई को अपनी खुद की राशि मिथुन में प्रवेश करेंगे। यानी वहां पर जाकर भी स्वगृही होंगे और उसके बाद वे 17 जुलाई को पुनः राशि परिवर्तन करते हुए अपनी सम राशि कर्क में विराजमान हो जाएंगे। जब सूर्य और बुध मिथुन राशि में विराजमान रहेंगे, तब भी बुधादित्य योग बनाएंगे और उसके बाद कर्क राशि में भी वे आधे माह के बाद में बुधादित्य योग का निर्माण करते हुए दिखाई देंगे। मंगल ग्रह इस पूरे माह अपनी खुद की राशि मेष में स्वगृही होकर विराजमान रहेंगे, जो आपकी राशि स्वामी भी है। गुरु ग्रह इस पूरे माह अपनी खुद की राशि मीन में स्वगृही होकर विराजमान रहेंगे। शुक्र वर्तमान में अपनी खुद की राशि वृषभ में विराजमान है और 13 जुलाई को वे अपनी अति मित्र राशि मिथुन में प्रवेश कर जाएंगे। शनि ग्रह इस माह अपने वर्तमान में अपनी मूल त्रिकोण की राशि कुम्भ में विराजमान है और 12 जुलाई को राशि परिवर्तन करते हुए पश्चगामी होकर वे पुनः मकर राशि में स्वग्रही होकर विराजमान हो जाएंगे। राहु इस पूरे माह अपनी सम राशि मेष में विराजमान रहेंगे और केतु इस पूरे माह अपनी स्वराशि तुला में विराजमान रहेंगे। जुलाई माह ग्रहों के हिसाब से भी बहुत इम्पोर्टेन्ट है क्योंकि बहुत बड़ा ग्रह शनि और शनि का प्रभाव हमारे जीवन पर बहुत अधिक रहता है और 12 जुलाई को शनि पश्चगामी हो रहे है। पुनः मकर राशि में जा रहे है और मकर राशि में जाते ही वे मिथुन और कन्या राशि को पुनः ढैय्या लग जाएगी और धनु राशि को चूंकि शनि की साढ़ेसाती हट चुकी है। पुनः शनि की साती धनु राशिवालों को लगने वाली है तो शनि का राशि परिवर्तन है ये सभी राशियों के लिए बहुत ही इम्पोर्टेन्ट और महत्वपूर्ण रहने वाला है। हालाँकि इस माह चार चार ग्रह स्वगृही होकर भी बैठा है, जिसमें गुरु शनि और मंगल और शुक्र ये चारों ग्रह इस माह स्वग्रही होकर विराजमान रहेंगे। जिसमे शुक्र आधे माह तक स्वग्रही होकर विराजमान रहने वाले है यानि चार चार स्वगृही होकर बैठना और बड़े ग्रह शनि का राशि परिवर्तन वापस पश्चगामी होकर मकर राशि में चले जाना ये क्या इस माह आपके जीवन पर डालेगा? उसके बारे में जान लेते हैं|

सबसे पहले बात करते हैं आपके राशि स्वामी बुध की, जो कि आपके कर्मेश और लग्नेश दोनों हैं और बुध इस माह दो बार राशि परिवर्तन भी करने जा रहे हैं। महीने की शुरुआत में बुध अपनी खुद की राशि मिथुन में विराजमान रहेंगे। आपके कर्म भाव में बुध बैठेंगे। लग्नेश का कर्मभाव में जाकर बैठना केन्द्राधिपति का केंद्र में जाकर बैठना बहुत शानदार परिणाम आपको दिलाने वाला है। इस समय आपको अपने कार्यों में बहुत ही सफलता मिलेगी। सामाजिक मान सम्मान में बढोतरी होगी। अच्छा सपोर्ट आपको इस समय मिलता हुआ दिखाई देगा जो काम आपके द्रुत गति से संपन्न हो सकता है। उन कार्यों में और अधिक आप तेजी से आगे बढ़ेंगे। इसमें सूर्य बुध का बुधादित्य योग भी बन रहा है कि यह पूरा सूर्य बुध के बुधादित्य योग का निर्माण आपकी और आपकी राशि में होता रहेगा और सूर्य बुध का बुधादित्य योग की वजह से आपके कार्यों में सारी बाधाएं दूर हो जाएगी। अच्छे लाभ की परिस्थितियां आपको देखने को मिलेगी। आपकी बॉण्डिंग बहुत ही अच्छी होगी। 17 जुलाई को जब बुध राशि परिवर्तन करते हुए केंद्र के लाभ भाव में जाकर बैठेंगे, तब वे लाभ भाव में भी बहुत अच्छे परिणाम आपको दिलवाएगी आपके लाभ की स्थितियों को उत्तरोत्तर बढ़ाते हुए दिखाई देने वाला हर ग्रह अच्छे रिजल्ट देता है। इसलिए सूर्य बुध के बुधादित्य योग से आपके लाभ की स्थितियां उत्तरोत्तर बढ़ती हुई दिखाई देगी। इस समय आप धर्मकर्म के कार्यों से भी जुड़ेंगे और आपके परिवार के साथ आपकी बॉन्डिंग बहुत अच्छी होगी। आईक्यू लेवल बहुत अच्छा होगा। लोगों को पहचानने की क्षमता अच्छे बुरे में परिवर्तन अंतर करने की क्षमता में आ जाएगी और ये डिसीजन आपको बहुत ही स्ट्रॉंग आपको डिसीजन दिलवाएगा। आपके डिसीजन मेकिंग आपके कॉन्फिडेंस लेवल को बढ़ाता हुआ दिखाई देगा। वहीँ इस समय आपको दादा दादी का आशीर्वाद उनका स्नेह पूर्ण रूप से प्राप्त होगा और उनके आशीर्वाद से आप अपने जीवन में उन्नति के रास्ते तय करते चले जाएंगे।

अब कर्मेश बुध जो कि पहले तो अपने ही घर में स्वग्रही होकर बैठे हैं, उसके बाद में बुध जो कर्मभाव के स्वामी अपने से एक घर आगे यानि लाभ भाव में जा रहे हैं तो ये समय आपके लिए कर्म के हिसाब से भी बहुत अच्छा रहेगा। खासकर जो सीए, सीएस की स्टडी किए हुए जिन्होंने जिन्होंने कोई परीक्षा दी है जिनका कोई परिणाम है उनका परिणाम उनके लिए सकारात्मक रहेगा। वहीं इस समय अगर आप एकाउंटिंग, फाइनैंस, बैंकिंग, सेक्टर सीए, सीएस या आप किसी भी तरह का टेक्निकल काम करते हैं। कंप्यूटर का काम करते हैं। आईटी फील्ड से जुड़े हुए हैं तो निश्चित रूप से बुध के परिणाम आपको बहुत ही अच्छे देखने को मिलेंगे। नौकरी में तो प्रमोशन के चांसेस बनते हुए दिखाई देगी। अधिकारियों का सहयोग मिलेगा। आपके प्रगति के मार्ग में रोड़े अब खत्म हो जाएंगे और आप बहुत अच्छी प्रगति करेंगे। बड़े बड़े प्रोजेक्ट आपको मिलेंगे अपनी एक टीम को लीड करने का मौका आपको इस समय प्राप्त होता हुआ दिखाई देगा। परंतु यदि आप अपना खुद का काम करें तो उसमें भी आप बहुत अच्छी उन्नति करेंगे और आपका काम चल रहा है तो इस समय आप अपनी एक ब्रैंड इमेज बनाते हुए दिखाई देंगे। अपनी कंपनी की एक ब्रैंडिंग करते हुए दिखाई देंगे और इस समय आप अपने काम की नई ब्रांच अपने ऑफिस की नयी ब्रांच अपनी कंपनी की नई ब्रांच खोलते हुए दिखाई देंगे तो यह समय आपके लिए बहुत ही अच्छा रहने वाला है। इस समय आपकी इच्छाएं पूर्ण होगी और काम के सिलसिले में विदेश यात्रा के भी पूर्ण योग बने हुए हैं। इस समय आपको विदेशी कंपनियों से बड़े मौके मिलेंगे। वहां जाकर अपनी कंपनी को रीप्रेजेंट करने के मौके मिलेंगे। कोई बड़ा प्रोजेक्ट के सिलसिले में आपको बाहर जाकर काम करने के अवसर प्राप्त होंगे और आप इन अच्छे अवसरों का पूरा लाभ भी प्राप्त करेंगे। यानि कन्या राशि वालों के लिए ये माबूद के बाहर शानदार रिजल्ट लेकर आया है।

अब बात है द्वितीय भाव पर | द्वितीय भाव के स्वामी हैं। शुक्र, जो आपके भाग्य के स्वामी और भाग्य स्थान में शुक्र स्वग्रही हो रहैं हैं। शुक्र का भाग्य स्थान में जाकर स्वग्रही होकर बैठना बहुत ही अच्छा है | तो द्वितीयेश का भाग्य स्थान में बैठना आपके भाग्य में बहुत अच्छी वृद्धि करेगा। रोजमर्रा के लाभ को बढ़ाएगा आपके सर्कल लेवल को बढ़ाता हुआ दिखाई देगा। रिश्तेदारों के साथ आपकी ट्यूनिंग बढ़ेगी। सामाजिक कार्यक्रमों में आपकी भागीदारी को बढ़ाएगा। इस समय अधिकारी आपसे प्रसन्नचित नजर आएंगे। आपके कार्यों की हर हर तरफ प्रसन्नता होती हुई दिखाई देगी। वाणी से आप सबको मोहित करते नजर आएंगे। इस समय पैतृक संपत्ति संबंधी विवाद को तूल न लेने दें, क्योंकि यह विवाद गहरा होगा तो उसका फैसला आपके पक्ष में नहीं जाएगा। थोड़ा सा संभलकर इस मामले में आपको रहना ही पड़ेगा। जो काम अपने हाथ में लिए है, उन कामों को आप द्रुतगति से संपन्न करें। उन कार्यों में आपको निश्चित रूप से सफलता और आपके सफलता में चार चांद लगते हुए दिखाई देंगे तो ये जो रियल टाइम पीरियड है वो आपके लिए बहुत ही अच्छा रहने वाला हैं। शुक्र अच्छे रिजल्ट लेकर आ रहा हैं | शुक्र जब तक आपके नवम भाव में बैठेंगे तब तक भी बहुत अच्छा और उसके बाद में जब शुक्र आपके कर्मभाव में आ जाएंगे तो शुक्र के रिजल्ट और भी अच्छे आपको देखने को मिलेंगे। काम में बहुत अच्छा लाभ और अच्छी प्रगति आपको देखने को मिलेगी। यात्राएं सम्पन होगी, परंतु यात्राएं आपके लिए सुखद और मंगलमय रहेगी। Kanya Rashifal July 2022 in Hindi

शुक्र की बात करें तो भाग्येश का स्वगृही होकर बैठना आपके लक को और अधिक मजबूत करेगा। इस समय अगर आप कोई ऐसी कंपनी में इन्वेस्टमेंट करते है जिसे कोई कॉस्मेटिक या शुक्र से रिलेटेड जो कंपनियां काम कर रही है, उन कंपनियों में अगर आप निवेश करते हैं, शेयर लेते हैं उन कंपनियों के या फिर कोई भी किसी भी प्रकार का इन्वेस्टमेंट करता हैं तो वो इन्वेस्टमेंट आपके लिए दूरगामी लाभदायक परिणाम लेकर आएगा। वही इस समय आपको अपने कार्यों में सजग रहना पड़ेगा। कोई भी काम करें तो उस कार्य में बहुत अधिक सजग रहें। आपके परिवार का साथ और सहयोग भरपूर देखने को मिलेगा जो युवा नौकरी की तलाश करें उनकी वो तलाश खत्म हो जाएगी। इस समय आप अपने हुनर से भी अपने अर्निंग के सोर्स को बढ़ा सकते हैं। कोई ऑनलाइन बिजनस या फिर कोई कॉस्मेटिक का कपड़ों का काम करना या फिर अपना खुद का कोई बुटीक खोल लेना ऐसी स्थितियां अधिक देखने को मिलेगी। खासकर महिलाओं के लिए यह समय बहुत ही सपोर्टिव रहने वाला है। रेंज से जुड़े छात्रों के लिए ये समय आपकी उन्नति को बढ़ाएगा। आपके लक्ष को आप जल्द ही अचीव कर लेंगे। वहीं कला के क्षेत्र से जुड़े हुए छात्रों के लिए यह समय कला के क्षेत्र में बहुत अच्छी उपलब्धियां हासिल करवाएगा। आपके उन्नति में आए रोड़े अब खत्म हो जाएंगे। बाधाएं खत्म हो जाएगी।

अब आगे बढ़ते हैं और जान लेते हैं पराक्रमेश के बारे में, पराक्रम भाव का स्वामी मंगल जो कि अष्टम भाव में राहु के साथ में विराजमान हो रहा है। मंगल का स्वग्रही होकर राहु के साथ में बैठना आपके लिए बहुत ही अच्छा और मंगलदायक भी रहेगा। पराक्रम में वृद्धि होगी। पराक्रम सही दिशा में लगेगा। प्रभाव क्षेत्र बढ़ेगा। सभी लोग आपसे इम्प्रेस होते हुए दिखाई देंगे। भाई बहनों से कोई विशेष लाभ की परिस्थिति आप को इस माह देखने को मिलेगी। छोटे भाई बहनों के साथ आपकी बॉन्डिंग और अधिक बेहतर होती हुई दिखाई देगी। इस समय जो भी काम करने जा रहे हैं, उसमें आप बहुत अधिक सतर्क रहते हुए उस कार्य को अंजाम देंगे। आपकी इच्छाएं पूर्ण होंगी। यात्राएं बहुत अधिक संपन्न होगी। परंतु यात्राओं से आपको प्रसन्नता की प्राप्ति होगी। इस समय आपके कार्य द्रुत गति से संपन्न होते चले जाएंगे और आपके मार्ग में सारी बाधाएं दूर होगी। कार्यक्षेत्र में अच्छा लाभ आपको प्राप्त होगा। कोई बड़ी जिम्मेदारी आपको मिल सकती है। कोई मीटिंग के सिलसिले में आपको बाहर जाना यानि दूरगामी यात्रा करनी पड़ सकती है, परंतु यात्रा आपके लिए सुखद और मंगलमय रहेगी। मंगल आपके अष्टम भाव में बैठे राहु के साथ युति करें। रोजमर्रा की लाइफ को थोड़ा सा ठीक करेंगे। ऐक्सिडेंट होने की संभावना बनी हुई है। इसलिए ड्राइव करते समय थोड़ा सा सावधान रहें। लंबी दूरी की यात्रा खुद ड्राइव करके बिल्कुल भी न जाएं। विमान के रखरखाव पर विशेष रूप से ध्यान दें। इस समय आपको गुप्त धन की प्राप्ति भी हो सकती है और इस समय आपके गुप्त शत्रु अपने कामों में नाकामयाब हो जाएंगे। यानी आप अपने प्रत्येक क्षेत्र में अपनी विजय के झंडे गाड़ते हुए दिखाई देंगे। इस समय आपकी कोई मनोकामना इच्छा बहुत लंबे टाइम से कोई काम आपका अटका हुआ था। कोई इच्छा आपके मन में अटकी हुई थी तो वो इच्छा अब पूर्ण हो जाएगी। इसमें आपको थोड़ा सा अपने काम पर कंसन्ट्रेट करना जरूरत से ज्यादा किसी पर भी भरोसा करने की आवश्यकता नहीं है। अपने काम को खुद खड़ा रहकर पूर्ण करें और किसी और पर अपने कामों को न डालें। बस इन बातों का अगर आप विशेष रूप से ध्यान रखेंगे तो समस्याएं आपके जीवन में कम होती चली जाएगी।

अब आतें हैं सुख स्थान पर | सुख स्थान की बात करें तो सप्तमेश गुरु जो सप्तम भाव में स्वगृही होकर बैठा है। बहुत शानदार परिस्थिति गुरु की तरफ से आपको मिलने वाली है। सुखों में किसी भी प्रकार की कमी नहीं होगी। गुरू वैसे भी केन्द्र स्थान में अच्छे रिजल्ट देते हैं और सप्तम भाव में गुरु के रिजल्ट और भी अच्छे मिलेंगे क्योंकि सप्तम भाव में गुरू स्वगृही होकर बैठा है। इसीलिए इस समय आप मैनेजमेंट से संबंधित कोई भी काम को बहुत अच्छे तरीके से करेंगे। याद के रिश्तों को मैनेज करना घर को अच्छे से मैनेज करना ये आपकी क्वॉलिटी बन कर रह जाएगी और लोग आपके इस गुण का बखान करेंगे। उस गुण की तारीफ करते हुए दिखाई देंगे। आप अपने परिवार में भी एक अच्छा बैलेंस बनाकर एक अच्छी बॉन्डिंग स्थापित करते हुए अपने जीवन में आगे बढ़ेंगे। वही रिश्तों में बॉन्डिंग के साथ साथ मां के साथ आपके संबंध और भी अधिक प्रगाढ़ होंगे और आपके सामाजिक मान सम्मान को बढ़ाने में उनकी अहम भूमिका रहेगी। यदि आपको गुरू से गुरु की महादशा अंतर्दशा चल रही है तो इस समय प्रॉपर्टी से संबंधित लेन देन के कार्य द्रुत गति से संपन्न होंगे। वही नए वाहन का सपना नए घर का सपना का पूरा होता हुआ दिखाई देगा। वही इस समय पाने के लिए आप बहुत अपने आपको सिक्योर और मजबूत स्थिति में पाएंगे, जिससे आपको कुछ नई योजनाओं का क्रियान्वयन करेगी। परंतु आपको बस ध्यान देना है कि ये योजनाएं आपके लिए ठीक है या नहीं है। यानि उसकी पूरी जांच पड़ताल के बाद ही आप इन योजनाओं को क्रियान्वित करें। उन योजनाओं की पूरी रूपरेखा बनाकर पूरी प्लानिंग के साथ मैं आपको उतरना चाहिए। तभी आपको इन योजनाओं का अच्छा और सही लाभ प्राप्त होता हुआ दिखाई देगा। Kanya Rashifal July 2022 in Hindi

सप्तमेश गुरू अपने ही घर में स्वगृही होकर बैठा है तो जो अविवाहित युवक है उनके विवाह से संबंधित जो भी बाधाएं चल रही थी, वो अब खत्म हो जाएगी और आपको अपना मनचाहा लाइफ पार्टनर मिल जाएगा। आप के विवाह शादी सगाई जैसे न्योते आपको इस समय प्राप्त होते हुए दिखाई देंगे। दाम्पत्य जीवन में सुखों की अनुभूति होगी। सेकंड चाइल्ड की यदि प्लानिंग कर रहे हैं तो आपको इस समय समाचारों की प्राप्ति हो सकती है। मनी मैनेजमेंट का काम अगर आप संभालते हैं। कोई अपना खुद का कोई बिजनेस कर रहे कोई कंसल्टेंसी का काम कर रहे हैं। आपका कोई कोचिंग सेंटर है या फिर शिक्षण व्यवसाय से आप संबंधित काम कर रहे हैं तो निश्चित रूप से यह समय आपको नई ऊँचाइयाँ दिलवाएगा और आपके काम को नई दिशा नई गति प्रदान होगी। कुछ नए आइडिया आप अपने काम में इम्प्लीमेंट करते हुए दिखाई देंगे और ये आइडिया आपको दूरगामी लाभ की स्थितियां भी दिलवाएंगे तो ओवरऑल यह समय आपके लिए बहुत शानदार परिस्थितियां लेकर आएगा। साथ ही लव रिलेशनशिप में आपको बहुत अच्छे और सुखद परिणामों की अनुभूति होगी। शुभ समाचारों की प्राप्ति होगी। वहीं यदि आप किसी को प्रपोज करना चाहते हैं तो वो आपके प्रपोजल को नहीं ठुकराएगा ।

अब आते है पंचम भाव पर | पंचम भाव की यदि हम बात करें तो पंचम भाव के स्वामी हैं शनि और शनि 12 जुलाई को राशि परिवर्तन कर रहें हैं और आपके पंचम भाव के स्वामी का इस भाव में आकर विराजमान हो जाना आपके करियर में एक नई ऊँचाई एक नई उड़ान पैदा करेगा। आपके करियर में सारी बाधाओं को दूर कर देगा। नौकरी की इच्छा अगर आप नौकरी की तलाश आपकी खत्म हो जाएगी। अच्छी नौकरी आपको इस समय मिल जाएगी। अगर आप अपने करियर में अपने लक्ष्य को प्राप्त करने के लिए बहुत तत्पर हैं तो इस समय आप अपने लक्ष्य को हासिल कर लेंगे। इस समय आपको संतान से संबंधित समाचारों की प्राप्ति होगी। वहीं विद्यार्थी वर्ग कोई न्याय से संबंधित कोई पढ़ाई कर रहे हैं या क्लैट कर रहे हैं या फिर लोन संबंधित कोई पढ़ाई कर रहे हैं। तो इन शिक्षाओं में आपको विशेष सफलता प्राप्त होगी। करियर की तरफ आप अपना एक सकारात्मक कदम बढ़ाते हुए दिखाई देंगे। इस समय आपको किसी से भी बहस नहीं करनी है। रिश्तों के प्रति आपकी एकाग्र चिन्ता आपको रिश्तों के साथ और अधिक जोड़ती हुई दिखाई देगी। धन कर्म के कार्यों में आपकी रुचि बढ़ेगी। आध्यात्मिक भावों से भरे रहेंगे। अपने आत्ममंथन से आप अपने जीवन में उन्नति के रास्ते तय कर लेंगे। शनि आपके रोग भाव के स्वामी हैं और रोग भाव के स्वामी अपने से बार में बैठा थोड़ा सा हड्डियों से संबंधित प्रॉब्लम हो सकती है तो थोड़ा सा उसके प्रति अवेयर रहें। सर्जरी होने के चांसेज बन रहे हैं। थोडा सा संभल कर रहें। साथ ही इस समय आपके शत्रु आपके खिलाफ प्रबल हो जाएंगे, परन्तु आप अपने बुद्धिबल और चातुर्य से अपने शत्रुओं को भी परास्त कर देंगे। ननिहाल से आपको विशेष लाभ की परिस्थितियां देखने को मिलेगी। मित्रों का विशेष सहयोग आपके साथ रहेगा। गलत मित्र भी आपके मित्रता में जुड़ सकते हैं तो ऐसे मित्रों से थोडा सा एक है। उनके साथ नजदीक जाने का प्रयास न करें वरना उनकी वजह से आप कोई बड़ी समस्या में फंस सकते हैं। कोई बुरी आदत आपको लग सकती है। ऐसी आदतों से थोडा सा परहेज करें। थोड़ा सा इस समय आप सजगता से अपने कार्यों को करेंगे तो कामों में सारी बाधाएं दूर हो जाएंगी।

अब आतें हैं आपके खर्च भाव पर | यानी खर्च भाव की बात करें तो खर्च भाव के स्वामी हैं सूर्य, जोकि अपने से 11वें जाकर बैठ है। उसके बाद में सूर्य अपने से बाहरवें में आ जाएंगे तो आधे माह यानी 16 जुलाई तक का जो समय है वो आपके लिए बहुत ही अच्छा रहेगा। खर्चों में कमी आएगी। आपके काम द्रुतगति से संपन्न होंगे। अधिकारी आपसे प्रसन्नचित नजर आएंगे। सहकर्मियों का सहयोग मिलेगा। परंतु 16 जुलाई के बाद जब सूर्य अपने से बार में आकर बैठेंगे तो आपके सहकर्मियों का तालमेल बिगड़ सकता है। किसी से मतभेद हो सकता है। इस वजह से आपको अकेले ही अपने कार्यों को पूर्ण करना पड़ेगा। अधिकारियों की नाराजगी भी आपको झेलनी पड़ सकती है। इस समय मिथ्या आरोप से भी आपको बचना होगा और बहुत सतर्क रहकर अपने कार्यों को करने का प्रयास करें। झूठे आरोपों की वजह से आप बुरी तरह से टेंशन में आ सकते हैं। बुरी तरह से मानसिक संताप में जा सकते हैं। इस समय मानसिक मानसिक संताप की जगह आपको बहुत दृढ़ रहने की आवश्यकता है। थोड़ा सा संभलकर रहें। अपने शत्रुपक्ष से सावधान रहें और अपने कार्यों को इमानदारी से पूर्ण करें। गलत मार्ग को अपनाने का प्रयास न करें तो आप किसी भी तरह की समस्या का सामना आपको नहीं करना पड़ेगा और आप हर समस्या से जल्दी ही बाहर आ जाएंगे तो थोड़ा सा आपको उसके हिसाब से संभलकर रहना पड़ेगा। तो ये था कन्या राशिवालों का जुलाई माह का मासिक राशिफल। Kanya Rashifal July 2022 in Hindi

शुभ तारीख – 1, 2, 6 से 11,14 से 20, 23 से 29 |
ध्यान देने योग्य तारीख – 3 से 5, 12, 13, 21, 22 और 31 |
शुभ रंग – बादामी |

विशेष उपाय

  • सिद्ध रोगनाशक यंत्र को अपने पूजा कक्ष में स्थापित करें।
  • गणेश और सिद्ध कात्यायनी यंत्र को अपने घर में रखें।
  • गाय को हरा चारा जरूर खिलाएं।
  • शिवजी को असली मेल गिरीश चंदन लगाएं और उत्तम भोग प्रसाद भाव पूर्वक अर्पित करें।
  • आपको भगवान श्री गणेश जी के गणेश अथर्वशीर्ष का पाठ भी इस माह जरूर करना चाहिए।

Note: Daily, Weekly, Monthly, and Annual Horoscope is being provided by Pandit N.M.Shrimali Ji is almost free. To know daily, weekly, monthly and annual horoscopes and end your problems related to your life click on (Kundali Vishleshan) (Kundali Making) (Kundali Milan) or contact Pandit NM Srimali  WhatsApp No. 9929391753, E-Mail- [email protected]

Contact : +918955658362 | Email: [email protected] | Click below on Book Now
Subscribe on YouTube – Nidhi Shrimali

[/vc_column_text][vc_video link=”https://youtu.be/UfYefWNsW9g” image_poster_switch=”no”][/vc_column][/vc_row]

Back to list

Leave a Reply

Your email address will not be published.