Grah Pravesh Pooja | गृह प्रवेश पूजा | By Astrologer Nidhi Ji Shrimali |

निवारण पूजा 24 | Panditnmshrimali

Grah Pravesh Pooja


For any person having his own home is no less than a dream. How pleasant it is to enter your home for the first time. Whenever we enter a new house, new hope, new dreams, new enthusiasm naturally stir in our minds. May the new house be auspicious for us, be progressive, give success, happiness, prosperity and good fortune.

But sometimes suddenly you do not like this world of yours, there is trouble in the house and slowly your dreams start disintegrating. One of the main reasons for this could be that you have unintentionally not followed the Vastu rules during your home entry. Therefore, if you are religious, believe in good and bad, then you must worship before entering the house.

Magha, Falgun, Vaishakh, Jyeshtha months are said to be the best time for home entry. Ashadh, Shravan, Bhadrapada, Ashwin, Paush are not considered auspicious from this point of view. Home entry is not done even on Tuesday.

According to the scriptures, there are three types of Griha Pravesh,

Apoorva Griha Pravesh – When one enters a new house built for the first time, it is called Apoorva Griha Pravesh.
spoorva Griha Pravesh – When a person stays with his family for some reason and leaves his house vacant for some time, then when he goes to live there again, it is called Sapoorva Griha Pravesh.
Davandhav Griha Pravesh – When one has to leave the house due to some trouble or calamity and after some time has to re-enter that house, it is called Davandhav Griha Pravesh.

Keep these things in mind:-

  • According to astrologer Nidhi ji Shrimali, whenever you enter a new house, put an abandonware at the main entrance of the house. If the bandanavar is made of mango leaves then it is very auspicious. This allows positive energy to enter the house.
  • The new house should be decorated with flowers and rangoli at the main entrance of the house. Rangoli is very dear to Goddess Lakshmi. If you make it at the door of the house, then Goddess Lakshmi resides in your house and you do not have to face any kind of financial trouble.
  • According to astrologer Nidhi ji Shrimali, the owner and mistress of the house should enter five auspicious things with auspicious things like coconut, turmeric, jaggery, rice and milk in hand. By doing this all the negative energy present at that place gets destroyed.
  • While entering the house, establish Ganpati and do Vastu Puja. Along with this, decorate your house according to Vastu. Establishment of Dakshinavarti conch shell, Shri Yantra in the house on the day of house entry, there is always happiness and peace in the house.
  • According to astrologer Nidhi ji Shrimali, in the new house, make a swastika sign with kumkum on the urn, coconut.
  • Whenever entering a new house for the first time, the man should raise his right foot and the woman left foot and enter the new house.

On the day of Griha Pravesh, boil milk in the kitchen, as well as make some sweet thing and offer it to God first. Not only this, whatever food is prepared in the new house on the first day, take it out for the ancestors and feed it to dogs, crows and cows. It is said that this not only brings happiness and peace to the house but also removes all kinds of defects.

Mantras related to Griha Pravesh Puja will be chanted by Pandit ji. Griha Pravesh Puja will be done. This puja will be done by 2-3 pundits with full rituals. The main Havan of Puja begins, in which Pandit ji starts chanting mantras for happiness and prosperity in your new house, so you should chant the mantras by following the rules given by our Pandit ji. After the completion of the puja, you get the blessings of Pandit ji. You should recite the mantras told by Pandit ji daily and pray for no obstruction in the new house, remove all kinds of defects and live peacefully.

Astrologer Nidhi Ji Shrimali Ji explains and guides the proper remedies for Griha Pravesh Puja. If you want to do puja for planetary entrance, then astrologer Nidhi ji Shrimali is the best choice in India.

For any assistance or confusion regarding Puja, contact us by clicking below. You can also WhatsApp us on this number. Our team is always there to assist you.

गृह प्रवेश पूजा


किसी भी व्यक्ति के लिए अपना घर होना किसी सपने से कम नहीं है। पहली बार अपने घर में प्रवेश करना कितना सुखद है। जब भी हम नए घर में प्रवेश करते है तो नई आशा , नए सपने , नयी उमंग स्वाभाविक रूप से मन में हिलोर लेती है नया घर हमारे लिए मंगलमयी हो, प्रगतिकारक हो यश सुख समृद्धि और सौभाग्य की सौगात दें यही कामना होती हैं |

लेकिन कभी-कभी अचानक से आपको अपनी यह दुनिया अच्छी नहीं लगती, घर में क्लेश आ जाता है और धीरे-धीरे आपके सपने बिखरने लगते हैं। इसका एक मुख्य कारण यह हो सकता है कि आपने अनजाने में अपने गृह प्रवेश के दौरान वास्तु नियमों का पालन नहीं किया है। इसलिए यदि आप धार्मिक हैं, अच्छे-बुरे में विश्वास रखते हैं, तो घर में प्रवेश करने से पहले पूजा अवश्य करें।

माघ, फाल्गुन, वैशाख, ज्येष्ठ माह को गृह प्रवेश के लिए सबसे सही समय बताया गया है। आषाढ़, श्रावण, भाद्रपद, आश्विन, पौष इसके लिहाज से शुभ नहीं माने गए हैं। मंगलवार के दिन भी गृह प्रवेश नहीं किया जाता विशेष परिस्थितियों में रविवार और शनिवार के दिन भी गृह प्रवेश वर्जित माना गाया है।

शास्त्रों के अनुसार गृह प्रवेश तीन प्रकार के होते हैं

अपूर्व गृह प्रवेश – जब कोई पहली बार बने नए घर में प्रवेश करता है, तो उसे अपूर्व गृह प्रवेश कहा जाता है।
सपूर्व गृह प्रवेश – जब कोई व्यक्ति किसी कारण से अपने परिवार के साथ रहता है और अपने घर को कुछ समय के लिए खाली छोड़ देता है, तो जब वह फिर से वहाँ रहने के लिए जाता है, तो उसे सपूर्व गृह प्रवेश कहा जाता है।
दवंधव गृह प्रवेश – जब किसी परेशानी या विपत्ति के कारण घर छोड़ना पड़ता है और कुछ समय बाद उस घर में फिर से प्रवेश करना पड़ता है, तो इसे द्वांधव गृह प्रवेश कहा जाता है।

इन बातों का रखें ध्यान:-

  • एस्ट्रोलॉजर निधि जी श्रीमाली के अनुसार जब भी आप नए घर में प्रवेश करें तो घर के मुख्य द्वार पर बंदनवार लगाएं। अगर बंदनवर आम के पत्तों से बना हो तो बहुत ही शुभ होता है। इससे घर में सकारात्मक ऊर्जा का प्रवेश होता है।
  • नए घर को बंदनवार , फूलो सहित घर के मुख्य द्वार पर रंगोली बना सजाना चाहिए | रंगोली देवी लक्ष्मी को बहुत प्रिय है। अगर आप इसे घर के दरवाजे पर बनाते हैं तो आपके घर में देवी लक्ष्मी का वास होता है और आपको किसी भी तरह की आर्थिक परेशानी का सामना नहीं करना पड़ता है।
  • एस्ट्रोलॉजर निधि जी श्रीमाली के अनुसार घर के स्वामी और स्वामिनी को पांच मांगलिक वस्तुएं हाथ में नारियल, हल्दी, गुड़, चावल और दूध जैसी शुभ चीजें लेकर प्रवेश करना चाहिए। ऐसा करने से उस स्थान पर मौजूद सारी नकारात्मक ऊर्जा नष्ट हो जाती है।
  • घर में प्रवेश करते समय गणपति की स्थापना करें और वास्तु पूजा करें। इसके साथ ही अपने घर को वास्तु के अनुसार सजाएं। दक्षिणावर्ती शंख , श्री यन्त्र को गृह प्रवेश वाले दिन घर में स्थापित करने से घर में हमेशा सुख-शांति बनी रहती है।
  • एस्ट्रोलॉजर निधि जी श्रीमाली के अनुसार नए घर में कलश , नारियल पर कुमकुम से स्वस्तिक का चिन्ह बनाये |
  • जब भी किसी नए घर में पहली बार प्रवेश करें तो पुरुष अपना दाहिना पैर और स्त्री बायाँ पैर बढ़ा कर नए घर में प्रवेश करें ।
  • गृहप्रवेश के दिन रसोई में दूध उबाल लें, साथ ही कोई मीठी चीज बनाकर पहले भगवान को अर्पित करें। इतना ही नहीं नए घर में पहले दिन जो भी खाना बनाया जाता है, उसे पितरों के लिए निकालकर कुत्तों, कौओं और गायों को खिलाएं | कहते हैं इससे न सिर्फ घर में सुख-शांति आती है, बल्कि सभी तरह के दोष भी दूर होते हैं |

पंडित जी द्वारा गृह प्रवेश पूजा से संबंधित मंत्रों का जाप किया जाएगा। गृह प्रवेश पूजा की जाएगी। यह पूजा 2-3 पंडित पूरे विधि-विधान से करेंगे। पूजा का मुख्य हवन शुरू होता है, जिसमें पंडित जी आपके लिए नए घर में सुख समृद्धि के लिए मंत्रों का जाप करने लगते हैं अतः आप हमारे पंडित जी द्वारा बताए गए नियमों का पालन करते हुए मंत्रों का जाप करें। पूजा संपन्न होने के बाद पंडित जी का आशीर्वाद आपको मिलता है। आपको प्रतिदिन पंडित जी द्वारा बताए गए मंत्रों का पाठ करना चाहिए और नए घर में किसी भी प्रकार की बाधा न आए , सभी प्रकार के दोष दूर हो और शांतिपूर्वक रहने के लिए प्रार्थना करनी चाहिए।

ज्योतिषी निधि जी श्रीमाली जी गृह प्रवेश पूजा के उचित उपायों की व्याख्या और मार्गदर्शन करती हैं। यदि आप ग्रह प्रवेश के लिए पूजा करना चाहते हैं, तो ज्योतिषी निधि जी श्रीमाली भारत में सबसे अच्छी पसंद हैं।

पूजा के संबंध में किसी भी सहायता या भ्रम के लिए, नीचे क्लिक करके हमसे संपर्क करें। आप हमें इस नंबर पर व्हाट्सएप भी कर सकते हैं। हमारी टीम आपकी सहायता के लिए हमेशा मौजूद है।

Contact : +918955658362 | Email: [email protected] | Click below on Book Now
Subscribe on YouTube – Nidhi Shrimali

 

Shopping cart
Shop
0 items Cart
My account