Garbhadaan Sanskar Pooja | गर्भाधान पूजा | By Astrologer Nidhi Ji shrimali |

निवारण पूजा 3 2 | Panditnmshrimali

Garbhadaan Sanskar Pooja


According to the Hindu religion, it is believed that the soul never dies, it just changes its body. On this basis, it can be said that the moment the soul enters the womb, at that very moment, the journey of life of that soul begins. She goes. Not only this, Shubh Muhurta is observed to ensure that the soul going to enter the womb of a woman is auspicious, pure and completely positive.

The scholars of astrology say that if you conceive these days, then the child to be born will definitely be pure.

January
The first month of the year is giving you 4 auspicious dates. 1, 12, 28 and 31. These will be auspicious days for conception.

February
This month is very good for conception, from 1st to 10th February is auspiciously followed by 27 and 28 days.

March April
The time from 1st to 11th April and 27th to 30th April is auspicious.

May
May 1-10 and then 26 and 31 are auspicious for conception.

June
The time from June 1 to January 9 is auspicious, followed by June 24 to 30.

July
July 1-8 is a good time in July, after that, you have to wait from 24 to 31.

August
The best time is from 1-7 August and 22 to 30 August.

September
There is a need to be a little careful in the month of September. If you want to conceive, then you should do it between 1 to 6 or wait after 20 because 7-20 is Pitru Paksha, during this time it is not auspicious to conceive.

October
October 1-5 and then October 20-31 is a very good time.

November
In the month of November, 1-4 and 19 to 30 are auspicious times.

December
In the month of December, you can consider 1, 3 and 19 as auspicious and then the only date after this is 31 December.

Astrologer Nidhi ji Shrimali Ji explains and guides the proper Garbhadaan Sanskar Puja remedies. If you want to do Garbhadaan Puja, then astrologer Nidhi ji Shrimali is the best choice in India.

For any assistance or confusion regarding Puja, contact us by clicking below. You can also WhatsApp us on this number. Our team is always there to assist you.

 

गर्भाधान पूजा


हिंदू धर्म के अनुसार यह माना जाता है कि आत्मा कभी मरती नहीं है, वह सिर्फ अपना शरीर बदलती है। इस आधार पर यह कहा जा सकता है कि जिस क्षण आत्मा गर्भ में प्रवेश करती है, उसी क्षण उस आत्मा के जीवन की यात्रा शुरू हो जाती है। जाती है। इतना ही नहीं, स्त्री के गर्भ में प्रवेश करने वाली आत्मा के शुभ, शुद्ध और पूर्ण रूप से सकारात्मक होने को सुनिश्चित करने के लिए भी शुभ मुहूर्त मनाया जाता है।

ज्योतिष शास्त्र के जानकारों का कहना है कि अगर आप इन दिनों में गर्भ धारण करते हैं, तो जन्म लेने वाला बच्चा निश्चित रूप से शुद्ध होगा।

जनवरी
साल का पहला महीना आपको 4 शुभ तिथियां दे रहा है। 1, 12, 28 और 31.. गर्भाधान के लिए ये शुभ दिन होंगे।

फ़रवरी
गर्भाधान के लिए यह महीना बहुत अच्छा होता है, 1 फरवरी से 10 फरवरी तक शुभ होता है इसके बाद 27 और 28 दिन होते हैं।

मार्च अप्रैल
1 से 11 अप्रैल और 27 से 30 अप्रैल तक का समय शुभ है।

मई
1-10 मई और फिर 26 और 31 मई गर्भाधान के लिए शुभ हैं।

जून
1 जून से 9 जनवरी तक का समय शुभ है, इसके बाद 24 से 30 जून तक का समय है।

जुलाई
जुलाई में 1-8 जुलाई का समय अच्छा है, उसके बाद आपको 24 से 31 तक इंतजार करना होगा।

अगस्त
सबसे अच्छा समय 1-7 अगस्त और 22 से 30 अगस्त तक है।

सितंबर
सितंबर के महीने में थोड़ा संभलकर रहने की जरूरत है। यदि आप गर्भधारण करना चाहती हैं तो 1 से 6 के बीच करें या 20 के बाद प्रतीक्षा करें क्योंकि 7-20 पितृ पक्ष है, इस दौरान गर्भधारण करना शुभ नहीं होता है।

अक्टूबर
1-5 अक्टूबर और फिर 20-31 अक्टूबर बहुत अच्छा समय है।

नवंबर
नवंबर के महीने में 1-4 और 19 से 30 तक शुभ मुहूर्त हैं।

दिसंबर
दिसंबर के महीने में आप 1, 3 और 19 को शुभ मान सकते हैं और फिर इसके बाद की एकमात्र तारीख 31 दिसंबर है।

ज्योतिषी निधि जी श्रीमाली जी उचित गर्भाधान संस्कार पूजा उपायों की व्याख्या और मार्गदर्शन करती हैं। अगर आप गर्भाधान पूजा करना चाहते हैं, तो ज्योतिषी निधि जी श्रीमाली भारत में सबसे अच्छी पसंद हैं।

पूजा के संबंध में किसी भी सहायता या भ्रम के लिए, नीचे क्लिक करके हमसे संपर्क करें। आप हमें इस नंबर पर व्हाट्सएप भी कर सकते हैं। हमारी टीम आपकी सहायता के लिए हमेशा मौजूद है।

Contact: +918955658362 | Email: [email protected] | Click below on Book Now
Subscribe on YouTube – Nidhi Shrimali

 

Shopping cart
Shop
0 items Cart
My account