Astro Gyaan, Astrology Tips, Featured

Do Mukhi Rudraksha दो मुखी रुद्राक्ष के लाभ एवं पहचान

Do Mukhi Rudraksha

दो मुखी रुद्राक्ष के लाभ एवं पहचान


Do Mukhi Rudraksha

 श्रीमाली जी के अनुसार प्रकति ने हमे कई अमूल्य वस्तुएं प्रदान की है| उन अमूल्य वस्तुओं में रुद्राक्ष भी आते है| रुद्राक्ष भगवान भोलेनाथ को अतिप्रिय है| और ऐसी मान्यता है की भगवान भोलेनाथ के पसीने से रुद्राक्ष की उत्पति हुई और कई ग्रंथो में ये भी मान्यता है की भगवान भोलेनाथ के अश्रुओ से रुद्राक्ष की उत्पति हुई है| भगवान भोलेनाथ का प्रतिनिधित्व रुद्राक्ष करते है| और रुद्राक्ष हमारे दैनिक जीवन में भी कई समस्याओ को दूर करते है| यदि हमारे जीवन में रुद्राक्ष का विशेष महत्व है| विशेष स्थान है| तो आज में आपके सामने दो मुखी रुद्राक्ष की जानकारी लेकर उपस्थित हुई हूँ दो मुखी रुद्राक्ष का भी अपना एक अलग महत्व है इससे पहले मेने आपको एक मुखी रुद्राक्ष की विस्तृत जानकारी प्रदान की थी उसी प्रकार दो मुखी रुद्राक्ष अर्द्धनारेश्वर यानी शिव और शक्ति दोनों का प्रतिनिधित्व करता है| Do Mukhi Rudraksha इन दोनों की शक्तियाँ इस दो मुखी रुद्राक्ष में समाहित होती है| ऐसी मान्यता है की दो मुखी रुद्राक्ष धारण करने वाले व्यक्ति के दाम्पत्य जीवन में आ रही सभी समस्याए दूर होती है| दो मुखी रुद्राक्ष वशीकरण में भी और समोहन आकर्षण के लिए जाना जाता है| और उसमे भी सहायक ये रुद्राक्ष रहता है दो मुखी रुद्राक्ष कई प्रकार के प्रकति ने हमको प्रदान किए है जिसमे इंडियन, इंडोनेशियन, और नेपाली दो मुखी रुद्राक्ष पाये जाते है| इंडियन और इंडोनेशियन दो मुखी रुद्राक्ष आसानी से मिल जाते है| Do Mukhi Rudraksha परन्तु नेपाली दो मुखी रुद्राक्ष थोड़ा सा दुर्लभ माना जाता है| और वो बहुत मूल्यवान भी दो मुखी रुद्राक्ष होता है| मित्रों दो मुखी रुद्राक्ष के लाभ दाम्पत्य जीवन के अलावा वे आपके दुसरे सम्बन्धो जैसे पिता पुत्र का सम्बन्ध हुआ, भाई बहनो का सम्बन्ध हुआ, मित्रों का सम्बन्ध हुआ, आपसी सम्बन्धो को मजबूत करने का कार्य दो मुखी रुद्राक्ष करता है| Do Mukhi Rudraksha  इसके अलावा यदि आपने क़र्ज़ ले रखा है और उस क़र्ज़ से मुक्त होना चाहते है तो क़र्ज़ मुक्ति में भी विशेष लाभदायक दो मुखी रुद्राक्ष को माना जाता है| पंडित एन एम श्रीमाली जी कहते है की झगड़ो यदि आपके घर में कलह का वातावरण है और झगड़े हो रहे है तो भी आप यदि दो मुखी रुद्राक्ष धारण करते है| तो आपका मन शांत होता है और आपके घर का वातावरण झगड़ो से रहित हो जाता है| यानि वापस से पुनः आपका घर का वातावरण सुख समृद्धिदायक हो जाता है| दो मुखी रुद्राक्ष अपने आप में बहुत ही बहुमूल्य रुद्राक्ष कहलाता है| ये चंद्र के दोष को दूर करता है| यानि चन्द्रमा के दोष को दूर करने का कार्य भी दो मुखी रुद्राक्ष ही करता है| दो मुखी रुद्राक्ष को धारण करने से पहले आपको कुछ सावधानिया रखनी अतिआवशयक होती है| दो मुखी रुद्राक्ष को धारण करने के लिए आप सोमवार के दिन बहुत ही उपयुक्त रहता है| Do Mukhi Rudraksha उस दिन आप दो मुखी रुद्राक्ष को धारण कर सकते है| परन्तु आप रात्रि के समय दो मुखी रुद्राक्ष या कोई भी रुद्राक्ष आप धारण करते है तो सोते वक्त उस रुद्राक्ष को आपको अवश्य उतार लेना चाहिए | उसके साथ ही आपके घर में कोई नया शिशु जन्मा है तो उस अन्तराल के दौरान जिसे हम स्थानीय भाषा में पिण्डलु कहते है| उस अन्तराल के दौरान भी रुद्राक्ष धारण नहीं करना चाहिए इसके अलावा आपके घर में किसी व्यक्ति की मृत्यु हो गयी है तो उस अन्तराल को हम स्थानीय भाषा में सूतक कहते है| Do Mukhi Rudraksha तो उस सूतक के दौरान भी आपको रुद्राक्ष धारण नहीं करना चाहिए| इसके अलावा यदि आपको  मास, शराब आदि का सेवन नहीं करना चाहिए| ये कुछ सावधानियां है जो आपको रुद्राक्ष धारण करते समय अवश्य रखनी चाहिए| दो मुखी रुद्राक्ष को सोमवार के दिन पूजा करके उसे धारण करते समय निम्न मंत्र का उच्चारण अवश्य करना चाहिए| वह मंत्र है|

ॐ नमः

ॐ नमः मंत्र बहुत ही सरल मंत्र है| और इसे बहुत ही सरलता से उच्चारण कर सकते है| कम से कम एक माला आपको इस मंत्र की उस दो मुखी रुद्राक्ष को धारण करते समय अवश्य करने चाहिए| Do Mukhi Rudraksha यदि आप इस मंत्र का जाप नहीं कर सके और आपको दो मुखी रुद्राक्ष धारण करने का मंत्र नहीं पता हो तो आप

ॐ नमः शिवाय

का जाप करते हुए दो मुखी रुद्राक्ष को धारण कर सकते है| तो दो मुखी रुद्राक्ष अर्द्धनारेश्वर का प्रतिक है शिव शक्ति का प्रतिक है| आपके वैवाहिक बंधन में मजबूती, मधुरता का प्रतिक है दो मुखी रुद्राक्ष हो सकता है| यदि आपके वैवाहिक जीवन में कोई समस्या आ रही है या आपके जीवन में शादी को कोई समस्या है| आपका विवाह नहीं हो पा रहा है| Do Mukhi Rudraksha तो आपको दो मुखी रुद्राक्ष अवश्य धारण करना चाहिए| यदि आप किसी को संमोहित करना चाहते है| तो भी दो मुखी रुद्राक्ष आपको अवश्य धारण करना चाहिए| आपके जीवन में आ रही सभी बाधाओं का दो मुखी रुद्राक्ष निवारण करे| इन्ही शुभकामनाओं के साथ आप सब को पंडित एन एम श्रीमाली जी का नमस्कार| Do Mukhi Rudraksha

RELATED PRODUCT

Nidhi Shrimali

About Nidhi Shrimali

Astrologer Nidhi Shrimali is most prominent & renowned astrologer in India, and can take care of any issue of her customer and has been constantly effective.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *