Astro Gyaan, Astrology Tips, Featured

Dhanteras 2019 धनतेरस तिथि एवं शुभ मुहर्त की सम्पूर्ण जानकारी एवं सरल उपाय 

Dhanteras 2019

धनतेरस तिथि एवं शुभ मुहर्त की सम्पूर्ण जानकारी एवं सरल उपाय 


Dhanteras 2019

“या देवी सर्वभूतेषु लक्ष्मी रूपेण संस्था

     नमस तस्ये नमस तस्ये नमो नम” ||

पंडित एन एम श्रीमाली जी की और से दीपावली के इस पंच दिवसीय पर्व की आप सभी को हार्दिक शुभकामनाएं दीपावली के इस पंच दिवसीय पर्व की शुरुआत धन त्रयोदशी से होती है| जो की इस बार 25 अक्टूम्बर को आने वाली है और ये हर साल कार्तिक मास के कृष्ण पक्ष के त्रयोदशी तिथि को मनाई जाती है| धन त्रयोदशी पर हम सबसे पहले गणेश जी की पूजा आराधना करते है| ऐसी मान्यता है की पूजा में सबसे पहले शुभ कार्य की शुरुआत के लिये हम गणेश जी की ही पूजा आराधना करते है| इसलिये आज धन त्रयोदशी से दीपावली के इस पंच दिवसीय पर्व की शुरुआत सबसे पहले गणेश जी के पूजन से करेंगे| उसके बाद हम कुबेर देवता की पूजा आराधना हम आज के दिन करते है| क्योकि कुबेर देवता का जन्म दिवस आज के दिन मनाया जाता है| और कुबेर धन के देवता है यानि जहां कुबेर वहा लक्ष्मी इसलिये आज के दिन हम कुबेर देवता की भी पूजा आराधना करते है| इसके साथ ही आज के दिन समुन्द्र मंथन से भगवान धनवंतरी अमृत कलश लेकर प्रकट हुए थे| इसलिये आज के दिन धनवंतरी देवता की भी पूजा आराधना करने का भी विधान है| ये देवताओं के वैद्य के और आयुर्वेद के जनक माने जाते है| इसीलिये आज आरोग्य और अच्छे स्वास्थ्य की कामना के लिये धनवंतरी देवता की भी पूजा आराधना की जाती है| और माँ लक्ष्मी की पूजा आराधना तो इन पांचो दिनों में की जायेगीं| Dhanteras 2019

धनतेरस के पूजन का शुभ मुहर्त

धनतेरस के पूजन का शुभ मुहर्त 25 अक्टूम्बर 2019 को सांय 7 बजकर 08 मिनट से लेकर 8 बजकर 14 मिनट तक रहेगा ये मुहर्त स्थिर लग्न का है|

प्रदोष काल शाम को 5 बजकर 39 मिनट से लेकर 8 बजकर 14 मिनट तक रात्रि में रहेगा इस शुभ समय के दौरान आप धनतेरस की पूजा कर सकते है| इसके अलावा पुरे दिन आप धनतेरस का दिन बहुत ही शुभ माना जाता है| मित्रो इसीलिये आपको धनतेरस के दिन किसी मुहर्त को देखने की खरीदारी के लिये आवश्यकता नही है| धनतेरस पर राहू काल को छोड़कर जो की 10 बजकर 30 मिनट से 12 बजे तक रहेगा इस समय को छोड़कर बाकी पुरे दिन आप खरीदारी कर सकते है| और महिलाओं के लिये तो ये दिन बहुत ही शुभ होता है| दीपावली से भी ज्यादा महिलाओं में धनतेरस का उत्साह रहता है| क्योकि इस दिन वो जमकर खरीदारी करती है| और उन्हें घर का कोई भी सदस्य रोक टोक कर सकता है| यानि महिलाओं के लिए बहुत ही अच्छा दिन और लाभदायक यह दिन माना जाता है| धनतेरस के दिन हम सुबह स्नान करके स्वच्छ कपड़े पहन के सबसे पहले तो आपको गणेश जी की पूजा आराधना करनी चाहिए| गणेश का पूजन करना चाहिए| उसके बाद कुबेर देबता की आराधना करे विष्णु मंदिर जाये भगवान विष्णु के दर्शन करे और माँ लक्ष्मी जी के दर्शन अवश्य करे उसके बाद आप कोई भी खरीदारी कर सकते है| Dhanteras 2019

खरीदारी में आपको क्या करना है और आज के दिन के कुछ उपाय

पंडित एन एम श्रीमाली जी बताते है की हर कोई व्यक्ति धनवान नही होता है| और हर व्यक्ति इतना सामर्थ्यवान भी नही होता है| की वो सोने और चांदी की ही खरीदारी करे हम यही चाहते है की हमारे सभी दर्शक सोने और चांदी की ही खरीदारी करे उनके घर में माँ लक्ष्मी का आशीर्वाद प्राप्त हो और उनके घर में धन,धान्य,समृद्धि,और पैसा सबकुछ हो परन्तु हर व्यक्ति के पास ये चीजे उपलब्ध नही होती है तो आप अपने बजट अपने जेब के हिसाब से इस दिन खरीदारी कर सकते है| परन्तु धनतेरस के दिन आपको कुछ न कुछ खरीदारी अवश्य करनी चाहिए| तो आपको क्या खरीदना चाहिए यदि आप कुछ ना खरीद पाए तो भी खुश रहिए अपना अपने घर का माहौल बहुत अच्छा रखिये घर में कुछ मीठा बनाइए सभी के साथ आज के दिन यदि आप इस दिन को उत्साह से मनाते है| तो आपके घर में जहां सुख शांति और प्रेम और प्यार का वातावरण रहता है| जहाँ घर के सभी सदस्य मुस्कुराते हुए रहते है| जहाँ कलह का वातावरण नही रहता उनको भी माँ लक्ष्मी का आशीर्वाद प्राप्त होता है| माँ लक्ष्मी का स्थाई निवास वहाँ पर भी होता है| इसीलिये यदि आपके पास बहुत ज्यादा पैसा नही नही है तो आज कुछ खरीदने की गुंजाइश आपके पास नही है| तो भी आप हस्ते मुस्कुराते रहे और माँ लक्ष्मी की पूजा आराधना जैसी आपकी सामर्थ हो वैसा करे घर के सदस्यों के साथ उत्साह करे और कुछ न कुछ मीठा बना कर घर के सदस्यों के साथ उसे अवश्य खाये आज के दिन और कुछ ना हो आपसे तो आज के दिन आपको अपने पुराने झाड़ू और सिक झाड़ू को बदलना चाहिए| Dhanteras 2019 और नये झाड़ू को आपको अपने घर में लाना चाहिए| क्योकि कहते है की झाड़ू में लक्ष्मी का निवास होता है| इसलिये नये झाड़ू को आज के दिन अपने घर में लाये उस पर मोली बांधे और कुमकुम अक्षत्र चढ़ा कर उसकी पूजा करे इस झाड़ू को आपको खड़े नही रखना है| कहते है जहाँ खड़ा झाड़ू रखा जाता है वहाँ लक्ष्मी नही आती और दरिद्रता का निवास होता है| इसीलिये आज के दिन खड़ा झाड़ू ना रखे| झाड़ू को हमेशा नीचे जमींन पर लेटा कर रखना चाहिए| एक बात और की जब भी झाड़ू को रखे तब उस झाड़ू को ऐसे स्थान पर रखे जिस पर हर किसी की नजर नही जानी चाहिए| जहाँ किसी की नजर ना जाए क्योकि इस पर नजर जाने से घर में दरिद्रता आती है| और लक्ष्मी कभी भी उस घर में निवास नही करती ये तो रहा एक उपाय अब आपको बताते है की आज के दिन बर्तनों की खरीदारी बहुत लोग करते है और बर्तनों की खरीदारी करना धनतेरस के दिन बहुत ही शुभ माना जाता है| परन्तु बर्तनों की खरीदारी में भी आपको एक चीज का विशेष ध्यान रखना है| की आज आपको लोहे या स्टील के बर्तन नही खरीदने है लोग बहुत स्टील के बर्तन आज के दिन खरीदते है| कई लोग सामर्थवान नही होते है| तो वो सोने,चांदी के बर्तन तो नही खरीद सकते है| इसीलिये वे स्टील के बर्तन खरीदते है| परन्तु स्टील भी लोहे का ही रूप है| इसीलिये आपको आज के दिन स्टील या लोहे के बर्तन को अपने घर में नही लाना चाहिए| ये अशुभ माना जाता है और बर्तनों की ये स्टील या लोहे के बर्तन खरीदने से आपके घर में दरिद्रता आती है| इसीलिये आज के दिन स्टील और लोहे के बर्तन ना खरीदे सबसे अच्छा रहेगा यदि आप चांदी खरीद सके चांदी के बर्तन खरीदे अगर चांदी के बर्तन आप नही खरीदते है तो पीतल और तांबे के भी बर्तन आप खरीद सकते है| ये धातुएँ बहुत ही शुभ मानी जाती है| और इनको खरीदने से लक्ष्मी माँ आप पर प्रसन्न होगी और आपके घर में धन का, पैसो का आगमन होता रहेगा| एक काम आज आपको और करना चाहिए एक कलश छोटा जो आप पूजा में रख सके वैसा आपको तांबे, पीतल, या चांदी में जरुर खरीदना चाहिए| यदि आपके घर में कोई रोगी है और या फिर आपके घर में स्वस्थ सम्बन्धी समस्या होती ही रहती है| कभी किसी को,कभी किसी को तथा किसी को बड़ी समस्या नही है| उसके बावजूद भी घर में स्वास्थ्य समस्या हर किसी को रहती है| कभी सर्दी, जुकाम हो गया तो कभी बुखार आ गया एक के बाद एक घर का हर व्यक्ति बीमार होता रहता है| तो ये उपाय धनतेरस के दिन जरुर करे पूजा का कलश आपको खरीदना है| Dhanteras 2019 जो की पहले हमने आपको बताया इस पूजा के कलश में आपको जल भर कर रखना है| इस पुरे दिन धनतेरस पर रखे शाम को धनतेरस की जब आप पूजा करते है| पूजन विधि को आप शुरू करते है भगवान धनवंतरी,कुबेर देवता,गणेश जी, और लक्ष्मी जी की जब पूजा आराधना करते है तो इस जल को वहाँ पर उस कलश में डाल कर रखे इस कलश को रखने से ये जल अमृत तुल्य हो जायेगा और पूजा के बाद आप अपने पारिवारिक सभी सदस्यों को इस जल को थोडा थोडा पंचामृत की तरह बाट दे फिर इस जल को पीने से आपको अच्छे आरोग्य की प्राप्ति होगी अच्छे स्वास्थ्य की प्राप्ति होगी और उसके बाद भी यदि इस तांबे के कलश में जल रह जाये तांबे, चांदी, या पीतल का जो भी आप कलश लेकर आये है| उसमे यदि जल रह जाये तो उसे आप तुलसी की क्यारी में डाल दे इससे भगवान धनवंतरी का आपको आशीर्वाद प्राप्त होगा आरोग्य की आपको प्राप्ति होगी और जो बार बार आप बीमारी की समस्या से गुजर रहे है| उससे आपको निजात मिलेगी आपके घर में रोगों का वास नही होगा तो ये एक छोटा सा उपाय है जो आपको धनतेरस के दिन जरुर करना चाहिए इसके अलावा एक और उपाय है जो हम आपको बतायेंगे की आप यदि बहुत गम्भीर बीमारी से गुजर रहे है या आपको घर का कोई बुजुर्ग आपके माता पिता, भाई बहन या आपके घर के दादा दादी, नाना नानी, कोई भी पारिवारिक सदस्य कोई गम्भीर बीमारीयो से यदि गुजर रहा है तो आपको ये आपको बहुत ही कारगर धनतेरस के दिन सिद्ध होगा एक तांबे का लोटा ले उस तांबे के कलश के अन्दर कुछ दवाईया जो जरुरी दवाईया है वो डालनी है और उन दवाइयों को किसी भी जरूरतमंद व्यक्ति को दान करे परन्तु दान करने से पहले ध्यान रखे की जो गम्भीर बीमारी से जो रोगी गुजर रहा है| Dhanteras 2019 उस रोगी के सर से उसको उस लौटे को गुमाना न भूले उसको गुमा के उसके बाद में जरूरतमंद व्यक्ति को दान कर दे अब आप कहेंगे की जरूरतमंद व्यक्ति कहां से लाये तो आप इसका पता पहले ही करके रखे की किसी भी आप सरकारी अस्पताल जाते है| या किसी भी ऐसे सरकारी अस्पताल में मुंशीपाल्ट्री अस्पताल में जाते है| तो कई रोगी ऐसे है जो ईलाज के पैसे देने में समर्थ नही है| इसलिये दवाईया नही खरीद पा रहे है| तो ऐसे रोगी आपको उन अस्पताल में मिल जायेंगे वहाँ पता करके रखे और उस दिन उनके हिसाब की दवाईया पहले से ही ले के ये नुस्का अपना कर उस रोगी को दान कर दे ये करने से आपके जो बहुत ही गहरा और बहुत ही विकट जो रोग है| वह कट जायेगा धीरे धीरे आपको स्वास्थ्य लाभ होगा | निरोगी आपकी काया होगी भगवान धनवंतरी का आपको आशीर्वाद प्राप्त होगा| और भविष्य में किसी भी विकट बीमारी का आपको सामना नही करना पड़ेगा| तो ये बहुत ही चमत्कारित उपाय है जो आपको धनतेरस के दिन जरुर करना चाहिए| इसके अलावा धनतेरस पर इलेक्ट्रोनिक की खरीदारी करना टेबलेट्स, मोबाईल खरीदना भी बहुत ही शुभ माना जाता है| धनतेरस के दिन यदि चांदी खरीदना बहुत ही अच्छा रहता है| क्योकि चांदी शीतल और ठंडी धातु है| और ये हमारे मन को शांत करती है| हमे शीतलता प्रदान करती है और मन शांत होगा वहाँ लक्ष्मी का वास होगा| जहाँ घर में शांति होगी वहाँ लक्ष्मी का वास होगा क्योकि यदि हम दिमाग से सही शांत रहेगे तो हम विश्वास से कोई भी काम कर पाएंगे| और उस कार्यो में हम सफल भी रहेंगे| इसीलिये हमे चांदी को धनतेरस के दिन अपने घर में जरुर लाना चाहिए| देखीये आप बहुत बड़ी चीजे चांदी की नही खरीद पाये तो कोई चांदी का छल्ला खरीद लीजिये, छोटी सी पायलें चांदी की खरीद सकते है| आप कोई चांदी का सिक्का आप अपने घर में ला सकते है| और कुछ नही चांदी की बिच्छिया और भी छोटे छोटे कई चीजे है जो आपके जेब के हिसाब से आपके लिये उपयुक्त रह सकते है| तो आपको आज के दिन चांदी जरुर खरीदनी चाहिए तो आप चांदी को घर पर लाये और उसको धनतेरस की पूजा से पहले पूजा कक्ष में जरुर रखे एक उपाय जो आज के दिन आपको जरुर करना चाहिए और वो उपाय आपको स्थिर लक्ष्मी की प्राप्ति में सहायक रहेगा आज कुबेर देवता का जन्मदिवस होता है| और उनके जन्मदिवस पर यदि आप ये उपाय करते है| तो आपको धन के देवता कुबेर देवता का आशीर्वाद यदि मिल गया तो आप मानो लक्ष्मी का स्थाई निवास आपके घर में हो गया तो कुबेर देवता के आशीर्वाद के लिये आप को 5 गोमती चक्र लेने है| एक हकिक पत्थर लेना है| काला,भूरा,सफ़ेद,या हरे रंग का आप उस हकिक पत्थर को ले सकते है| इसके अलावा दो सफ़ेद कौड़ी, एक पीली कौड़ी को भी आप ले ले और इसे एक पीले कपड़े क अन्दर बांधे और पूजा से पहले आप इस पूरी सामग्री को पूजा में रखे| धनतेरस की पूजा के बाद इस सामग्री को आप एकत्रित करे पीले कपड़े में बांधे इस कपड़े में आप कुमकुम, मोली, अक्षत्र, जरुर रखे| और थोड़ी सी हो सके तो सरसों भी आप इस पोटली में डाले और उसके बाद उस पोटली को बाँध कर अपनी तिजोरी में रखे| हां ये ध्यान रहे की तिजोरी में रखने से पहले आपको पूर्व में पिछली दीपावली पर आपने तिजोरी में जो सामग्री रखी थी| उसको आपको  समेट लेना है और उस सभी सामग्री को एक थेले में आपको डाल देना है| Dhanteras 2019 अब वो पूरी सामग्री को आपको किसी थेले में डाल के आज के दिन विसर्जित नही करना है| ये यदि आज के दिन विसर्जित करते है तो घर में नई लक्ष्मी आई नही तो उससे पहले पुराणी लक्ष्मी को विसर्जित कैसे कर सकते है| इसलिये आज के दिन उस थेले को आप एक जगह रख दे| और दीपावली के बाद सारी  सामग्री को इक्ठ्ठा आप पीपल के पेड़ के नीचे उस सामग्री को रख सकते है| देखिये मित्रो हम आपको एक बात बताना चाहेंगे की सभी लोग कहते है| पवित्र सरोवर में या तालाब में इस सामग्री को विसर्जित करना चाहिए परन्तु हमे पर्यावरण का भी ध्यान रखना आवश्यक है हमारा दायित्व है की हम इस पर्यावरण को स्वच्छ रखे और ये पवित्र सरोवर नदिया हमारे लिये बहुत ही पूज्यनीय है| और इसे दूषित होती है| और ये सभी सामग्री भी इन सभी पवित्र नदियों को दूषित करती है| इसीलिये किसी भी पवित्र सरोवर या नदी में इस सामग्री को नही विसर्जित करना चाहिए| नही प्रवाहित करना चाहिए | इसे आप पीपल के पेड़ के नीचे रख सकते है| इससे आपको कोई भी दोष नही लगेगा अब आप इस जो पीली पोटली में हमने आपको ये सामग्री बताई उसे पूजा के बाद में आपको अपनी तिजोरी में पीली पोटली में बाँध के रख देना है| और उसके सामने वर्ष भर नही देखना है| दीपावली से दीपावली ये सामग्री बदली जाती है| तो यह आपको इस सामग्री को रखने से कुबेर देवता का आशीर्वाद प्राप्त होगा ये बहुत ही छोटा मामूली उपाय है परन्तु आपके लिये बहुत ही कारगर है| आज के दिन यानि धनतेरस के दिन छिपकली आपको देखना बहुत ही शुभ माना जाता है| इसके पीछे एक राज है| की धनतेरस से पहले दीपावली की हम सारी तैयारियां कर देते है घर की साफ़ सफाई कर देते है| तो जितने भी कीड़े मकोड़े, छिपकलिया है वो घर से चले जाते है पर यदि धनतेरस के दिन आपके अपने घर में छिपकली दिखाई दे आपके घर के फर्श पर, दीवार पे, छत पे टंगी हुई, लटकी हुई, या चलती हुई छिपकली दिखाई दे तो आप समझ लीजिये आपके घर में लक्ष्मी जी का आगमन होने वाला है| क्युकी छिपकली को लक्ष्मी आगमन का प्रतीक माना जाता है| Dhanteras 2019 इसीलिये आज के दिन यानि धनतेरस के दिन छिपकली देखना बहुत शुभ होता है| धनतेरस पर एक उपाय जो अभी आपको हम बताने वाले है| जो आपके लिये बहुत ही लाभदायक है हर व्यक्ति कई न कई उधारी से पैसे से झुझता हुआ आज के समय में दिखाई देता है| आम तरह की समस्या से लड़ता है| और उसकी पैसे की समस्या फिर भी सही नही हो पाती है| जिंदगी भर दौड़ भाग करने के बाद में भी आप अपना पैसा नही कमा पाते है| माँ लक्ष्मी का आशीर्वाद नही प्राप्त कर पाते है तो आज धनतेरस के दिन एक छोटा सा उपाय आप जरुर करे इससे यदि आपने कोई उधार लिया है, आपके ऊपर बहुत क़र्ज़ चढ़ गया है तो वो क़र्ज़ चुक जायेगा आपके भाग्य का सितारा बुलंद होगा और आपको माँ लक्ष्मी का आशीर्वाद प्राप्त होगा और स्थाई लक्ष्मी की प्राप्ति आपके घर में होगी ये एक छोटा सा उपाय है जो आज आपको जरुर करना चाहिए क्या करेंगे हमें आज के दिन एक ताला लेकर आना है| इस ताले को आप बिना जांचे परखे लेकर आइये और इसे आप अपने पूजा कक्ष में रख दीजिये पूरी पूजा धनतेरस की करे तब तक ताला आपके पूजा कक्ष में रहना चाहिए| इस बात का आपको ध्यान रखना है| अब पूजा करने के बाद इस ताले में चाबी डालनी है परन्तु इसको खोले नही इस चाबी को डाल के आपके घर में कोई बुजुर्ग महिला दादी, माँ, बहन, पत्नी, या बेटी जो भी महिला आपके घर में है| उस महिला के हाथ से यदि हो सके तो आज के दिन अपनी धर्मपत्नी से, बेटी से, बहन से, या माँ से इस ताले को खुलवाना चाहिए| यानी चाबी अन्दर डाले और उनसे इस ताले को खुलवाएं ये बहुत ही छोटा सा उपाय है| ये आप आज के दिन जरुर कर सकते है| और हर व्यक्ति इसे कर सकता है| ये करने से आपके भाग्य का ताला भी माँ लक्ष्मी खोल देगी और आपके घर में स्थाई लक्ष्मी का वास होगा| जो भी कर्ज़ आपने लिया है वो स्वतः ही धीरे धीरे आप चूका देंगे और धीरे धीरे आप पैसो से आप बहुत मजबूत हो जायेंगे| और मजबूत होने की वजह से आपके जीवन की कई तरह की समस्याएँ खत्म हो जाएगी क्युकी आज के समय में लक्ष्मी की प्राप्ति सबसे आवश्यक हर व्यक्ति के लिये है इसलिये इस उपाय को आपको जरुर करना चाहिए| अब हम आपको एक अंतिम उपाय बतायेंगे धनतेरस का जो आपको शाम को पूजा से पहले करना है| पूजा शुरू हो उससे पहले धनतेरस के दिन 13 दीपक जलाने का विधान है| क्युकी आज त्रयोदसी है इसलिये आपको आज के दिन 13 दीपक जलाने चाहिए आज के दिन से हर घर में दीपक और लाइट लगानी लोग शुरू कर देते है| दीपावली की लाइटिंग शुरू हो जाती है| दीपक शुरू हो जाते है| 13 दीपक ले और उसे जलाये तेल के दीपक लेने है| ये आपको और इन 13 दीपकों को जला ले| इन 13 दीपकों के दर्शन घर के सभी व्यक्तियों को करने है| पूजा में इन दीपकों को रखना है और एक दीपक आपको यम का बनाना है जिसको आपको सरसों के तेल में उस दीपक को लगाना है तेल सरसों का ही काम में लेना है| इस दीपक को आपके घर के मुख्यद्वार के दक्षिण दिशा में इस दीपक को रखना है ये दीपक इस दीपक के भी आपको दर्शन करने है| और ये सभी काम पूजा से पहले करना है| और पूजा के बाद ये यम का दीपक घर के मुख्यद्वार के दक्षिण दिशा में रखना है| ये करने से आपके घर में यमराज का आशीर्वाद आप सभी को प्राप्त होगा और घर के सभी सदस्यों की आयु में वृद्धि होगी अच्छा एक उपाय और आपको करना है| ये दक्षिण दिशा में रखने के बाद में इस दीपक में आपको एक सफ़ेद कौड़ी छेद करके जरुर डालनी है| ये दीपक जलता है तब तक कौड़ी उसी दीपक में रखे रहने दे और दीपक को कुमकुम, मोली, चावल, से हर व्यक्ति को घर के जितने भी सदस्य घर के है उन सभी व्यक्तियों को घर का मुख्या के सहित उन सभी व्यक्तियों को उस दीपक के दर्शन करने है| उन पर कुमकुम, मोली, चावल से पूजा करने है फिर इस दीपक को दक्षिण द्वार पर रख दे| दक्षिण दिशा में रखने के पश्चात ये दीपक जब बुझ जाता है| तब आपको इसमें से सफ़ेद कौड़ी जो छेद की हुई है उसे निकाल लेना है| और उसे भी आपको अपनी तिजोरी में रखना है| ये बहुत ही मामूली सा उपाय है और धनतेरस के दिन हर व्यक्ति को यह उपाय अपनाना चाहिए| इसको करने से आपके जीवन में आरोग्य की प्राप्ति आपको रहेगी अच्छा स्वास्थ्य आपका रहेगा घर का प्रत्येक व्यक्ति लम्बी आयु प्राप्त करेंगे| यमराज का आशीर्वाद जिस घर को मिल जाता है उस घर में अकाल मृत्यु कभी नही होती तो अकाल मृत्यु के भय से आपको मुक्ति मिलेगी और वो कौड़ी आपके लिये संजीवनी बूटी जैसी रहेगी| यानी उस कौड़ी को हर दीपावली पर आपको बदलना है| एक साल तक उस कौड़ी को अपनी तिजोरी में रखे इससे स्थिर लक्ष्मी की प्राप्ति होगी माँ लक्ष्मी का आपको आशीर्वाद प्राप्त होगा| और जो भी पैसो की परेशानी आप अपने जीवन में झेल रहे है| वो दूर हो जायेगा तो ये छोटे से उपाय है| जो हर व्यक्ति को करने ही चाहिए धनतेरस के दिन यदि आप कुछ भी ना खरीद सके असमर्थ है| खरीदने में तो आपको दक्षिणावर्ती शंख, घंटा, एकाक्षी नारियल, श्री यन्त्र, छोटा सा श्री यन्त्र ले आए या फिर छोटा सा शंख ले आए ये तो आपके जेब के बचत के हिसाब से ही होगा| तो क्योकि शंख लक्ष्मी के सहोधर है सहोधर का मतलब होता है| भाई तो लक्ष्मी के सहोधर होने की वजह से माँ लक्ष्मी को शंख अतिप्रिय है और भगवान विष्णु की पूजा आराधना में भी शंख ही लिया जाता है| इसीलिये लक्ष्मी जी के सहोधर को धनतेरस के दिन आप अपने घर में अवश्य लाये यदि आपके घर में पहले से शंख है तो पूजा में उस शंख को जरुर रखे और यदि नही है तो आज के दिन लेकर आ जाये श्री यन्त्र लक्ष्मी को अतिप्रिय है और लक्ष्मी जी का प्रतिरूप कहलाता है| कहते है जिस घर में श्री यन्त्र नही होता वहा लक्ष्मी का वास नही होता इसलिये छोटा सा श्री यन्त्र जैसा भी आपका पुरुषार्थ हो वैसा श्री यन्त्र अपने पूजा कक्ष में आपको रखना चाहिए| तो ये कुछ उपाय थे जो हमे आपको आज बताये धनतेरस पर आपको ये उपाय जरुर करने चाहिए| यदि आप जानना चाहते है| धनतेरस की आपको फिर एक बार ढेर सारी शुभकामनाएँ, धनतेरस पर आपको माँ लक्ष्मी का आपको आशीर्वाद प्राप्त हो| Dhanteras 2019

RELATED PRODUCT

Nidhi Shrimali

About Nidhi Shrimali

Astrologer Nidhi Shrimali is most prominent & renowned astrologer in India, and can take care of any issue of her customer and has been constantly effective.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *