Pandit NM Shrimali – Best Astrologer in India

Free Shipping above 1999/-

Vrishabh Rashi July 2023 Hindi blog | वृषभ राशि जुलाई 2023 राशिफल | Taurus July Horoscope | by Nidhi Shrimali

Vrishabh Rashi July 2023 Hindi blog

नमस्कार स्वागतम वेलकम जुलाई का महिना आने वाला है और हम लगभग आधे साल तक पहुँच गए हैं। इन छह महीनों में हम अगर अपना मुल्यांकन करें तो कई बातों में हमने नुकसान प्राप्त किया होगा, कई गलतियाँ हमने की होगी और कई अच्छे पल भी हमने हमारे जीवन में पाए होंगे तो हमें आगे बढ़ना है एक पॉजिटिविटी के साथ परन्तु हमारी गलतियों को, हमारी असफलता को भी हमें नहीं भूलना है क्यूंकि उन गलतियों को सुधार कर ही हम उस असफलता को सफलता में परिवर्तित करेंगे। परन्तु पॉजिटिविटी के साथ तो आज भी हम आपके लिए लेकर आये है  जुलाई माह में वृषभ राशि वालो का मासिक राशिफल और इस विडियो के दौरान हम आपको बताने वाले है  जुलाई माह के कैलेण्डर की जानकारी यानि व्रत और त्योहारों की जानकारी जुलाई माह में कौन से ग्रह किस राशि में जाने वाले हैं, ग्रहों के राशि परिवर्तन की जानकारी और उन राशि परिवर्तन के आधार पर वृषभ राशि वालो का जुलाई माह का मासिक राशिफल कैसा रहेगा उसके बारे में बताएंगे और अंत हम आपको लकी दिन  लकी कलर और कुछ इस माह में किए जाने वाले विशेष उपायों की जानकारी बताएंगे तो सबसे पहले व्रत और त्योहारों पर आते हैं। चूंकि जुलाई माह में आने वाले हैं तो जुलाई माह में एक बार कैलेण्डर की तरफ बढ़ते हैं। 3 जुलाई को गुरु पूर्णिमा का व्रत किया जायेगा। गुरु पूर्णिमा अपने आप में गुरु को समर्पित की जाने वाला दिन होता है। इस दिन हम हमारे गुरु का वंदन करते हैं, उन्हें नमन करते हैं ताकि गुरु का आशीर्वाद मिले और हम हमारे जीवन में आगे बढ़ सकें। 4 जुलाई को श्रावण मास प्रारंभ होने वाला है जो कि शिव का सबसे प्रिय महीना माना जाता है और शिव भक्तों के लिए यह समय बहुत ही महत्व का होता है। इस बार 7 जुलाई को नागपंचमी का पर्व मनाया जायेगा। नाग पंचमी के दिन काल सर्प पूजा भी की जाती है। यानि जिनको काल सर्प दोष निवारण करना हो उनके लिये नाग पंचमी का दिन बहुत ही उपयुक्त रहता है। 10 जुलाई को पहला सावन सोमवार आएगा जो की बहुत ही महत्व का रहेगा। 13 जुलाई को कामदा एकादशी का पर्व मनाया जायेगा। वहीं 17 जुलाई को दूसरा श्रावण सोमवार मनाया जायेगा। 17 जुलाई को हरियाली अमावस्या, सोमवती अमावस्या और पित्र दोष पूजा या कालसर्प दोष निवारण पूजा का भी विधान रहेगा। 18 जुलाई को अधिक मास प्रारंभ हो जायेगा। 24 जुलाई को तीसरा श्रावण मास आएगा और 31 जुलाई को चौथा श्रावण मास मनाया जायेगा। अधिकमास श्रावण मास में आ रहा है तो शिव भक्तों को दो महीने इस श्रावण में भगवान शिव की भक्ति के मिल जायेंगे। साथ ही अधिकमास है क्योंकि भगवान विष्णु का ये मास कहलाता है इसलिए इस बार श्रावण महिना बहुत ही इम्पोर्टेन्ट रहने वाला है क्यूंकि हम भगवान विष्णु और भगवान शिव दोनों की कृपा इस माह प्राप्त करेंगे। और साथ ही 7 जुलाई को नाग पंचमी और 17 जुलाई को हरियाली अमावस्या का दिन आ रहा है और इस दिन काल सर्प दोष निवारण की पूजा और पित्र दोष निवारण की पूजा का आयोजन हमारे संस्थान में किया जा रहा है। तो अगर आप इन दोषों से पीड़ित हैं तो सामूहिक पूजा में भाग लेकर आप इन दोषों का निवारण करवा सकते हैं।

अब आगे और जान लेते हैं इस माह में ग्रहों की स्थिति कैसी रहने वाली है। तो सबसे पहले ग्रहों के राजा सूर्य की बात करें तो वे वर्तमान में अपनी राशि मिथुन में विराजमान हैं और 17 जुलाई को वे अपनी अति मित्र राशि कर्क में प्रवेश करेंगे। बुध ग्रह की बात करें तो वे वर्तमान में अपनी खुद की राशि मिथुन में विराजमान हैं और 8 जुलाई को वे अपनी सम राशि कर्क में प्रवेश करेंगे। पुनः राशि परिवर्तन कर 25 जुलाई को सिंह राशि में प्रवेश कर जायेंगे। मंगल ग्रह की बात करें तो वे अपनी नीच की राशि कर्क में विराजमान हैं और 1 जुलाई को यानि महीने की एक तारीख को ही वे अपनी अति मित्र राशि सिंह में प्रवेश कर जायेंगे। मेष और वृश्चिक राशि वालो के लिए थोडा सा रिलैक्सिंग टाइम रहेगा। अब तक जो मुश्किल समस्याएं चल रही थीं उनसे मुक्ति मिल जाएगी।  शुक्र ग्रह की बात करें तो वर्तमान में कर्क राशि में विराजमान हैं और 7 जुलाई को अपनी सिंह में प्रवेश करेंगे। गुरु ग्रह  इस पूरे माह अपनी अति मित्र राशि मेष में विराजमान रहेंगे। वहीं शनि अपनी मूल त्रिकोण की राशि कुम्भ में विराजमान रहेंगे। राहू और केतु अपनी राशियाँ और तुला में इस माह विराजमान। रहने वाले हैं। तो ये हैं इस माह की ग्रह गोचर की स्थति का हाल |

शुरू करते हैं वृषभ राशि का जुलाई माह का मासिक राशिफल। सबसे पहले हम आपको बता दे कि ये राशिफल हम आपको चंद्र गणनाओं पर दे रहे है और ये आपकी राशि और लग्न दोनों पर समान रूप से प्रभावशाली रहने वाला है। तो आप इसे अपने लग्न और राशि दोनों के हिसाब से देख सकते हैं। सबसे पहले आपके राशि स्वामी की बात करते हैं जो कि शुक्र और 7 जुलाई को ही शुक्र का राशि परिवर्तन होना है होने जा रहा है और वे आपके राशि स्वामी अपने से चतुर्थ यानि सुख स्थान में जाकर विराजमान होंगे। यहां पर शुक्र की मंगल के साथ ही युति होने वाली है क्योंकि मंगल और रेड्डी आपके सुख स्थान में आ चुके हैं और शुक्र के साथ ये जो मंगल की युति होगी यानि आपके सप्तमेश और लग्नेश की युति होगी। दो केन्द्र इस स्थान के स्वामियों की युति केन्द्र स्थान में ही होना शानदार परिणाम आपके लिए लेकर आएगा। पर्सनैलिटी पावरफुल हो जाएगी। इस समय आप अपने परिवार को साथ लेकर रिश्तों को सहेज कर चलना प्रारंभ कर देंगे। यानि रिश्तों का तालमेल बहुत अच्छा देखने को मिलेगा। दादा दादी का आशीर्वाद आपको प्राप्त होगा। आपके मार्ग में आ रही कठिनाइयां समाप्त हो जाएगी। इंटीरियर से रिलेटेड यदि आप कोई भी काम कर रहे हैं यानी साज सज्जा, घर की साज सज्जा से संबंधित कोई काम आप करते हैं तो डेफिनेटली यह समय आपके लिए उत्तम लाभ की परिस्थितियां उत्पन्न करेगा। वहीं यह समय लव रिलेशनशिप वालों के लिए भी बहुत ही अच्छा रहेगा। आपके प्यार को आपके परिवार की स्वीकृति मिल ही जाएगी या फिर आप किसी को मन ही मन चाहते हैं तो उसे अपने मन की बात जाहिर कर देंगे और वो भी आप के साथ आपके प्यार को स्वीकृति प्रदान करता हुआ आपके साथ आगे बढ़ेगा। तो शुक्र के परिणाम आपके राशि स्वामी के हिसाब से शानदार देखने को मिलेंगे।

अब बात करते हैं आपके रोग भाव के स्वामी की जिसके स्वामी भी शुक्र ही हैं और रोग भाव के स्वामी शुक्र अपने से 11वें जाकर बैठे हैं। यानि जिन महिलाओं को पीसीओडी की प्रॉब्लम थी वो समाप्त हो जाएगी। थोड़ा सा डिप्रेशन, चिड़चिड़ापन, एंग्जाइटी अगर आप अपने बिहेवियर में देख रहे थे तो वो भी अब खत्म हो जाएगी। थोड़ा कॉंफिडेंट होते हुए दिखाई देंगे। समस्याएं कम होती हुई और आप इन समस्याओं का उचित हल निकालते हुए दिखाई देंगे। शत्रु पक्ष भी आपसे भयभीत रहेगा। आप अपने प्रत्येक कार्य में सफलता की प्राप्ति करेंगे। वहीं ननिहाल से भी आपको फाइनैंशली सपोर्ट मिलता हुआ दिखाई देगा। यात्रा आपके लिए सुखद और मंगलमय रहेगी और सुखों में आपकी प्रगति होगी। अब आते हैं आपके धन भाव पर। धन भाव के स्वामी हैं बुध जो कि इस बार दो बार राशि परिवर्तन करने जा रहे हैं। 8 जुलाई तक बुध अपनी खुद की राशि मिथुन में विराजमान रहेंगे। धनेश अपनी ही घर में जाकर बैठना बहुत ही शानदार परिणाम आपके लिए लेकर आएगा और 8 जुलाई को बुध का राशि परिवर्तन होगा और धनेश अपने से एक ग्रह आपके पराक्रम भाव में आकर बैठेंगे या कुटुम्ब से मान सम्मान मिलेगा। अटके हुए काम चल निकलेंगे। वाणी से आप सबको मोहित करते हुए नजर आएंगे और आपकी बोली से ही आपके काम बन जाएंगे। लोग आपकी बोली से प्रभावित होंगे। कई लोग आपको आइडियल मानेंगे। प्रॉपर्टी से संबंधित वाद विवाद की स्थितियां आपसी बातचीत के द्वारा ही सॉल्व हो जाएगी। यदि कोई पारिवारिक मुद्दे हैं तो उनका हल भी आप अपनी सूझ बूझ से निकालते हुए दिखाई देंगे। वर्क प्लेस पर आपकी बुद्धिमता से आपके बॉस भी प्रभावित होंगे और डेफिनेटली इंटेलिजेंसी के कारण आपको कोई बड़ी अपॉर्च्युनिटी इस समय मिल सकती है। अब बुध चूंकि आपके पंचमेश भी हैं, पंचम भाव के स्वामी अपने से ग्याहरवें जाकर बैठेंगे और यहां पर आपके काम में, आपकी पढ़ाई में आपको उत्तम सफलता दिलवाएंगे। छात्रों के लिए यह समय पढ़ाई में एकाग्रचित होकर आगे बढ़ने का है और बड़ी सफलता हासिल करने का रहेगा। खासकर जो कॉमर्स के छात्र हैं, जो सीए, सीएस करें, एकाउंटिंग का काम करें, फाइनेंस से संबंधित कोई पढ़ाई कर रहे हैं या फिर कोई टेक्निकल कामों से संबंधित पढ़ाई कर रहे कंप्यूटर इंजीनियरिंग कर रहे, उन सभी के लिए यह समय शानदार सफलता का रहेगा। साहित्य लेखनी से संबंधित अगर आप कोई भी काम कर रहे हैं, कंटेंट राइटिंग का अगर आप काम करते हैं तो डेफिनेटली ये समय आपके लिए सपोर्टिव रहेगा। इस समय आप उत्तम लाभ की परिस्थितियां प्राप्त करते हुए दिखाई देंगे। आपकी एक अलग पहचान बन जाएगी। तो ये है बुध के रिजल्ट,

अब आते हैं आपके पराक्रम भाव पर पराक्रम भाव के स्वामी हैं चंद्रमा परन्तु पराक्रम भाव में सूर्य बुध का बुधादित्य योग भी बनेगा। यहां पर 17 जुलाई को जैसे ही सूर्य आपके पराक्रम भाव में आकर बैठेगा बुध के साथ सूर्य की जो युति होगी इससे सूर्य बुध का बुधादित्य योग का लाभ आप प्राप्त करेंगे। धनेश और सुखेश के इस सम्बन्ध से आपको बहुत अच्छा अपने वर्क प्लेस पर उत्तम परिणामों की प्राप्ति करेंगे। प्रमोशन और इन्क्रीमेंट के योग बनेंगे। छोटे भाई बहनों से बॉन्डिंग सुधरेगी। इस समय रिश्तों का अच्छा तालमेल देखने को मिलेगा। वहीं सामाजिक मान सम्मान में बढ़ोतरी होगी। मित्र आपकी पूर्णतया मदद करने के लिए हमेशा तत्पर रहेंगे। फ्रेंड्स के साथ आप इस माह क्वॉलिटी टाइम भी बिताएंगे। नए दोस्त बनाएंगे और वे दोस्त भी आपके लिए समर्पित दिखाई देंगे। तो कुल मिलाकर पराक्रम में वृद्धि और जो कलाकार हैं उनके लिए यह समय मान सम्मान और प्रसिद्धि दायक रहेगा। खूब नेम ऑफ फेम इस महीने प्राप्त करेंगे।

अब आते हैं आपके सुख स्थान पर सुख सुख स्थान के स्वामी हैं सूर्य जो कि अपने से 11वें 17 जुलाई तक बैठेंगे। उसके पश्चात सूर्य अपने से 12वें जाकर बैठ जाएंगे। हालांकि सूर्य तृतीय स्थान में अच्छे रिजल्ट देंगे और यहां पर आपकी समस्याओं को जलाते हुए दिखाई देंगे। यानि आपकी समस्याएं थोड़ी सी कम होती हुई दिखाई देंगी। इस समय घर में नए वाहन की खरीददारी की जा सकती है या फिर कोई लग्जीरियस आइटम की खरीदारी हो सकती। घर के इंटीरियर पर पैसा खर्च हो सकता है पर बजट देखकर चलना जरुरी है। इस बात का भी ध्यान रखिएगा और बजट बनाकर जो भी करेंगे उससे आपको फाइनेंशियली दिक्कतों का सामना करना पड़ सकता है। इसलिए और बजट जाकर कुछ भी न करें।

अब आते हैं आपके सप्तम भाव पर सप्तम भाव के लॉर्ड  हैं मंगल जो कि अपने से दशम जाकर बैठेंगे। मंगल का अपने से दसम जाकर बैठना आपके लिए बहुत अच्छा और खासकर अब तक मंगल नीच के थे। दाम्पत्य जीवन में बहुत मिसअंडरस्टैंडिंग चल रही थी। ईगो की प्रॉब्लम चल रही थी। रिश्ता खराब हो रहा था। पर अब वो सारी समस्याएं खत्म हो जाएगी। पूनम माधुरी के संबंध में बंध जाएंगे। एक दूसरे के साथ आपकी बॉन्डिंग अच्छी होगी। एक दूसरे से आकर्षण से आप बंधे रहेंगे। आप दोनों का एक दूसरे के प्रति अट्रैक्शन वापस स्थापित हो जाएगा और इससे आपकी मैरिटल लाइफ में चल रही प्रॉब्लम्स सॉल्व हो जाएगी। मई ये समय आपके बिजनेस मैं आपको बहुत अच्छी ग्रोथ देगा। खासकर जो टेक्सटाइल्स मार्केट से जुड़े हुए हैं उनके लिए ये समय शानदार रहने वाला है। वो मैन्युफैक्चरर जो चाहे आप कपड़ों का कोई और आपका शोरूम हो। आप कोई और काम करते हों। कपड़ों से संबंधित बुनाई से संबंधित अगर आप कोई काम कर रहे हैं या धागों से संबंधित कोई काम कर रहे हैं तो डेफिनेटली ये महीना आपके लिए उत्तम सफलतादायक रहेगा। यानि बिजनस में अच्छी ग्रोथ करेंगे। नई नई योजनाओं का क्रियान्वयन करेंगे? नहीं। नई कंपनियों से आपका टाईअप होगा और नए और बड़े ऑर्डर आपको इस समय मिलते हुए दिखाई देंगे। क्लाइंट की संख्या में वृद्धि हो जाएगी। तो यह समय आपको मंगल के बहुत ही अच्छे और बेहतरीन परिणाम दिखाएगा। पर यहां पर हम आपको बता दे कि मंगल आपके खर्च भाव के स्वामी हैं। अपने से पंचम जाकर बैठेंगे। खर्च भाव में गुरु राहु का चांडाल योग भी बन रहा है। इसलिए खर्चों पर थोड़ा सा नियंत्रण करके आगे बढ़ें। गलत मार्ग पर चलकर रिश्वत लेकर आगे बढ़ने का प्रयास बिल्कुल भी न करें। अपनी सूझ बूझ से जो भी काम करेंगे, उसमें आप सफलता जरूर प्राप्त करेंगे। पावर को किस तरह लगाना है? बहुत एनर्जेटिक। आप इस समय फील करेंगे, परंतु इस एनर्जी को आपको प्रोड्यूसिंग में लगाना। या एक्टिंग में लगाना। ये आपको ही तय करना पड़ेगा। इसीलिए सकारात्मक दिशा की तरफ आगे बढ़िए। अपनी एनर्जी को उस जगह लगाइए, जहां आप कंस्ट्रक्टिव काम कर सकें। नौकरी उस जगह लगाइए जहां पर वो नेगेटिव चली जाए और इससे आपको आगे चलकर लेने के देने पड़ जाए। तो थोड़ा सा इस मामले में केयरफुल है।

अब आते हैं आपके अष्टम भाव पर अष्टम भाव के स्वामी हैं गुरु, जो कि आपके लाभ भाव के स्वामी हैं। लाभ भी अपने से एक करेंगे और अंत में अपने से पंचम जाकर बैठे हैं। यहां पर गुरु का अपने से पंचम में बैठना बढ़िया। लाभेश का अपने से एक घर आगे जाकर बैठना बढ़िया पर गुरू राहु के साथ जो कि रिजल्ट इफेक्ट कर करें और गुरु बैठे हैं उसमें जो खर्च कई स्थान है। गुरु 100 में ग्रह तो हर तरीके से गुरु के इतने अच्छे रिजल्ट नहीं मिलेंगे। मैनेजमेंट आपको परफेक्ट रखना पड़ेगा। स्टाफ का मैनेजमेंट तो चाहे घर का मैनेजमेंट चाहे कोई टॉप कर रहे हों तो उसका मैनेजमेंट तो बहुत ज्यादा मैनेजमेंट को परफेक्ट रखना पड़ेगा। किसी और पर डिपेंड न रहे खुद डिसीजन। और थोड़ा सा बैलेन्स होकर चलें। काम को ऑर्गनाइज्ड करें ताकि नुकसान की स्थितियां कम हो सकें। हालांकि आपकी उन्नति और तरक्की से चलने वाले लोग भी बहुत अधिक होंगे, पर फिर भी आपको केयरफुल होकर ही चलना होगा। अब गुरू चूंकि लाभेश लाभ भाव का स्वामी अपने से एक ओर आगे बैठा है, इसलिए लाभ तो छिपाएंगे, परन्तु आपको काफी लाभ की स्थितियों को और अधिक भुनाना यानी आगे कैसे लेकर जाना है, उसको आपको सही तरीके से तय करना होगा। इसके लिए आप किसी अनुभवी मित्र की सलाह ले सकते हैं। अपने पारिवारिक सदस्य की सलाह ले सकते हैं। सोच समझकर उस लाभ को आप निवेश करें। आपको पुनः अपने बिजनेस में डालना है या लाभ की कमाई को आपको कहीं और डालना है। इन्वेस्टमेंट करते समय सावधानी रखें। शेयर मार्केट, लॉटरी, जुआ, सट्टा कोई रिस्की काम आप कर रहे हैं तो उसमें भी निवेश करते समय बहुत सोच समझ कर आगे बढ़ें। बिना के आप अगर न हो तो ऐसे कामों में पैसा इन्वेस्ट न करें, वरना नुकसान की स्थितियां बढ़ सकती हैं।

अब आते हैं आपके भाग्येश और कर्मेश पर जो कि शनि और शनि वैसे भी आपकी राशि के लिए शश नामक महापुरुष योग बनाते हुए आपके कर्म भाव में स्वग्रही होकर बैठे हैं। भाग्येश और कर्मियों के हिसाब से रिजल्ट शानदार मिलने वाला है। युवक युवतियों के लिए समय बड़ी बड़ी अपॉर्च्युनिटी का रहेगा। जॉब स्विच करना चाहते हैं तो अच्छी जॉब मिल जाएगी। अगर आप गवर्नमेंट जॉब में हैं तो आपको मनचाही ट्रांसफर, इंक्रीमेंट, प्रमोशन इन के योग बनते हुए दिखाई देंगे। कोई काम आपके अटके हुए फ़ॉर्मेट में तो वो भी अब निर्विघ्न संपन्न हो जाएंगे। पिता का आपको पूरा साथ और मार्गदर्शन देखने को मिलेगा। अधूरे पड़े हुए कार्य फटाफट से कंप्लीट होते हुए दिखाई देंगे। नवीन कार्यों की शुरुआत के लिए भी यह समय बहुत शानदार रहेगा। यदि आप अपना खुद का कोई बिजनेस स्टैब्लिश करना चाहते हैं तो उसके लिए भी यह समय बहुत ही अच्छा रहेगा। तो शनि के रिजल्ट आपको बहुत ही अच्छे मिलेंगे। तो ये था वृषभ राशि वालो का जुलाई माह का मासिक राशिफल।

शुभ तारीखे :- 8 तारीख , 13 तारीख , 14 तारीख, 17 तारीख, 22 से 24 तारीख।

अशुभ तारीखे :-  1 से 7 तारीख  , 12 तारीख , 15 तारीख  16 तारीख , 18 से 21 तारीख , 25  तारीख

शुभ रंग  :-  ब्राउन, पर्पल, ब्लू, डार्क ब्लू और रॉयल ब्लू

उपाय

  • कामदा एकादशी पर एक मुट्ठी काले तिल को बहते हुए पानी में प्रवाहित कर दें। साथ ही तिल का दान जरूर करें।
  •  सावन मास में किसी भी दिन भगवान शिव के मंदिर जाकर शिवलिंग पर दूध और काले तिल का अभिषेक जरुर करें।
  • गुरु पूर्णिमा के दिन भगवान श्री कृष्ण के सामने घी का दीपक जरुर जलाएं।
  • हरियाली अमावस्या के दिन किसी नदी या तालाब में जाकर मछली को आटे की गोलियां जरूर खिलाएं और सफेद चन्दन से रोजाना तिलक जरुर करें।

Note: Daily, Weekly, Monthly and Annual Horoscope is being provided by Pandit N.M.Shrimali Ji, almost free. To know daily, weekly, monthly and annual horoscopes and end your problems related to your life click on (Kundali Vishleshan) or contact Pandit NM Shrimali  Whatsapp No. 9929391753, E-Mail- info@panditnmshrimali.com
Connect with us at Social Network:-

Contact : +918955658362 | Email: info@panditnmshrimali.com | Click below on Book Now
Subscribe on YouTube – Nidhi Shrimali