Astro Gyaan, Astro Gyaan|Astrology Tips|Featured, VIDEOS

वृश्चिक राशि जनवरी 2023 राशिफल in hindi | Scorpio Horoscope 2023 | Nidhi Shrimali |

vrishchik rashifal january 2023

वृश्चिक राशि जनवरी 2023 राशिफल

ये नया साल आपके लिए उन्नतिदायक है। सभी तरक्की और उन्नति के रास्ते आप अपने जीवन में तय करें। शुभ आपके जीवन में हो यही हम मंगल कामना आप सभी के लिए करते हैं और लेकर आये हैं। नए साल की प्रथम माह यानि जनवरी माह का वृश्चिक राशि वालो का मासिक राशिफल | वृश्चिक राशि वालो के लिए साल का ये प्रथम माह कैसा रहने वाला है। सबसे पहले तो जान लेते हैं। इस माह में आने वाले कुछ विशेष पर्वों के बारे में तो 1 जनवरी को नववर्ष प्रारंभ हो जाएगा। 12 जनवरी को स्वामी विवेकानंद जयंती मनाई जाएगी। 14 जनवरी को लोहड़ी या मकर सक्रांति इन दोनों का पर्व एक साथ धूमधाम से मनाया जाएगा। 21 जनवरी को मौनी अमावस्या आ रही है और 26 जनवरी को गणतंत्र दिवस और बसंत पंचमी का पर्व साथ में धूम धाम से मनाया जाएगा।

अब जान लेते हैं कि साल के प्रथम माह में ग्रहों की स्थिति कैसी रहेगी तो सबसे पहले बात करते हैं सूर्य ग्रह की जो कि वर्तमान में अपनी अति मित्र राशि धनु में विराजमान हैं और 14 जनवरी को वे अपनी सम राशि मकर में प्रवेश कर जाएंगे और यहां सूर्य उत्तरायण होते हुए दिखाई देंगे। मकर सक्रांति का पर्व इस दिन मनाया जाएगा। बुध ग्रह इस पूरे माह अपनी मित्र राशि धनु में विराजमान रहेंगे। वहीं मंगल ग्रह वक्री अवस्था में अपनी राशि शत्रु राशि वृषभ में इस पूरे माह विराजमान रहने वाले हैं। गुरू अपनी ही राशि मीन में इस पूरे माह विराजमान रहेंगे। वहीं शुक्र ग्रह की बात करें तो वे वर्तमान में अपनी सम राशि मकर में विराजमान हैं और 22 जनवरी को वे अपनी सम राशि कुम्भ में प्रवेश कर जाएंगे। शनि ग्रह की अगर बात करें तो वे वर्तमान में स्वग्रही अवस्था में अपनी राशि मकर में विराजमान हैं और इस माह में यानि 17 जनवरी को वे अपनी मूल त्रिकोण की राशि कुम्भ में स्वग्रही होकर विराजमान होने वाले हैं। शनि का ये जो राशि परिवर्तन इस साल का सबसे बड़ा राशि परिवर्तन कहलाएगा | राहू इस पूरे माह अपनी सम राशि मेष में विराजमान रहेंगे और केतु इस पूरे माह अपनी राशि तुला में विराजमान रहने वाले हैं। तो ये हैं इस माह की ग्रह गोचर की स्थिति का हाल। अब जान लेते हैं कि इन ग्रहों की स्थितियों का। इस साल के सबसे बड़े राशि परिवर्तन का क्या इम्पैक्ट आपके इस माह पर पड़ने वाला है तो शुरू करते हैं वृश्चिक राशि वालो का जनवरी माह का मासिक राशिफल राशिफल | 

सबसे पहले आपके राशि स्वामी यानि मंगल की बात करते हैं जो कि आपके लग्नेश भी है। तो आपकी राशि स्वामी मंगल की बात करें तो सप्तम भाव में बैठकर अपने घर को देख रहें। है। मंगल का अपने घर को देखना आपके प्रभाव क्षेत्र को बढ़ाएगा। आपकी डिसीजन मेकिंग को बढ़ाएगा। मंगल बहुत ऊर्जावान ग्रह है। इसमें बहुत एनरजेटिक रहेंगे। यह महीना आपके लिए बहुत एनर्जी से भरा रहेगा। एक जोश बहुत अलग दिखाई देगा। हर कार्य को करने की प्रवर्ती रहेगी। इस काम को भी कर लो जो कोई भी काम नहीं कर पायेंगे। साधारण लोग उन कार्यो को करने का हौसला आपके अंदर आ जाएगा और उस वजह से आपके मान सम्मान और ख्याति में प्रतियोगी लोग आपसे प्रभावित होंगे। आपको कई लोग आइडियल भी मानेंगे और इस जोश को आपको सकारात्मक लगाना है। इस पर भी आप विचार करेंगे। आगे बढ़ेंगे क्यूंकि जोश हमेशा पॉजिटिव वे में लगना चाहिए। नेगेटिव वे में नहीं लगना चाहिए। तो मंगल आपको पॉजिटिव में आगे बढ़ाने का प्रयास करेंगे। इस समय आप कुछ टेक्निकल काम हाथ में ले सकते हैं जो बड़ी इंडस्ट्रीज स्थापित करना चाहते हैं, नयी मशीन खरीदना चाहते हैं, उनके लिए भी ये समय बहुत ही अच्छा है। आप नयी मशीनरी की खरीदारी कर सकते हैं। इस समय जो भी काम आप हाथ में लेंगे उसमें आपका दृढ़निश्चय झलकेगा और इस आत्मविश्वास और दृढ़ निश्चय के दम पर आप आगे बढ़ेंगे। पर आपको इस समय अपनी वाणी पर संयम रखना है क्यूंकि शब्द बोलते समय आपका ध्यान थोडा सा कम रहेगा और उस वजह से आप अगले को आहत कर सकते हैं। ये आपकी प्रोफेशनल लाइफ के लिए भी अच्छा नहीं है और पर्सनल लाइफ के लिए भी नहीं है। इसीलिए आप कुछ शब्दों को तोल मोल कर बोलना है। शब्दों के चयन में विशेष रूप से। सावधानी रखनी है। तभी आप अपनी सफलता को दुगना कर पाएंगे। जब भी अच्छा अवसर है तब आप अपनी कमजोरियों पर जब विजय पा प्राप्त करेंगे तो उस अवसर का आप विशेष रूप से लाभ प्राप्त। कर सकेंगे। और कमजोरियों को लोग थोडा सा नजरअंदाज कर दें। हमेशा अपने बारे में अच्छा सुनना और अच्छा ही करना कहना पसंद करते हैं। पर जिस व्यक्ति ने अपनी कमजोरी को भांप लिया और अपनी कमजोरी को मन में ज्ञात कर लेगी। मेरी कमजोरी मुझे इसे दूर करना है तो व्यक्ति निश्चित रूप से सफलता के नए आयाम अपने जीवन में स्थापित। करता है। तो आपको भी इस माह ऐसा ही करना है।

अब मंगल चूंकि आपके लग्नेश होने के साथ साथ आपके रोग भाव के स्वामी हैं और अपने से एक घर आगे बैठा है। लेकिन रोग भाव के स्वामी का अपने से इतर आगे बैठना आपके स्वास्थ संबंधी समस्याओं से आपको मुक्ति दिलवाएगा। हालाँकि थोड़ा सा इन्फेक्शन संबंधी समस्याएं हो सकती हैं पर ये कोई बड़ी बात नहीं है। बड़े रोगों में आप को निश्चित रूप से लाभ प्राप्त होगा। यह समय आपको रिस्की इन्वेस्टमेंट में भी लाभ दिलवाएगा क्यूंकि राहु आपके रोग भाव में बैठा है। पहले इस भाव में अच्छे रिजल्ट देते। हैं। राहु अगर किसी की कुण्डली में अच्छा हो तो व्यक्ति बहुत अच्छी सफलता और प्रसिद्धि हासिल करता है और ये आपके लिए वैसे भी बहुत अच्छा मंगल बहुत अच्छी पोजीशन में बैठा है तो जो भी दूसरे ग्रह हैं ना वो सपोर्टिव बन जाएंगे।

मंगल के तो राहु भी अभी इस समय मंगल को और सपोर्ट करेंगे और निश्चित रूप से ये समय आपके लिए उन्नतिदायक रहेगा। इस समय आप बहुत स्ट्रॉन्ग पर्सनैलिटी में रहेंगे। इससे विरोधी अपने आप ही दब जाएंगे। आप रुपए पैसे से संबंधित कार्यों में सजगता लाएंगे। अगर नुकसान की स्थिति थी तो वो भी क्लेरेंस हो जाएगी। कोई झूटे आरोप अगर आप पर लगे हैं तो उन आरोपों से भी आपको मुक्ति मिलती हुई दिखाई देगी। कर्ज की स्थितियों से आप बाहर निकल जाएंगे। यानि लोन अगर आपके ऊपर चल रहा बहुत पैदा हो गया और आप सोच रहे के भी लोन चुकता हो जाए तो ठीक रहेगा। तो अब इस माह लोन चुकता हो जाएगा। साल की शुरुआत आपके लिए बहुत अच्छी रहेगी। तो मंगल चूंकि आपकी राशि स्वामी है वे आपको साल की शुरुआत में बहुत अच्छे और सुद्रढ़ परिणाम दिलवा रहे हैं।

अब आते हैं द्वितीय स्थान पर। द्वितीय इस स्थान के स्वामी हैं गुरू जो कि पंचमेश हैं और पंचम भाव में स्वग्रही हो रहा है। धनेश का अपने से चतुर्थ में जाकर बैठना बहुत ही अच्छे रिजल्ट आपको देने वाला है। धन भाव में वृद्धि होगी। आर्थिक स्थिति बहुत ही उन्नत होगी और काम में आपकी निपुणता बढ़ेगी। रोजमर्रा के लाभ में वृद्धि होगी। अगर आप नौकरी कर रहे हैं तो अधिकारियों के द्वारा आपको सराहे जाएंगे। अधिकारियों के चहेते रहेंगे। आपके कार्यों की चारो तरफ प्रसंशा होती हुई दिखाई देगी। जो काम अपना काम नहीं कर पा रहे थे वो पेन्डिंग चल रहे थे। उन कार्यों में भी अब आपको सफलता मिल जाएगी। एक कॉन्फिडेंस लेवल देखने लायक रहेगा। सामाजिक मान सम्मान तो बढ़ेगा ही, कुटुम्ब में भी आपकी एक अलग पहचान बनती हुई दिखाई दी। बुजुर्गों के आशीर्वाद से और व्यक्ति को अगर अपने बड़ों का आशीर्वाद मिल जाए। तो मेरा सबसे बड़ा धनी आशीर्वाद है। आशीर्वाद से बड़ा धन कुछ भी नहीं है। हम जीवन में मानते हैं कि रुपया पैसा कमाना तो आसान है पर आशीर्वाद और किसी की दुआएं कमाना बहुत ही मुश्किल है और अगर वो आपने कमाई तो आप किसी भी कठिन परिस्थिति से निकल सकते हैं और किसी भी कठिनाई को पार कर अपने जीवन में सफलता के रास्ते तय कर सकते हैं। इसीलिए आशीर्वाद हमेशा बुजुर्गों का अपने ऊपर बनाए रखने के लिए ऐसे प्रयास करें कि वे सदेव आपको आशीर्वाद दे रहें हैं।

अब गुरु चूंकि आपके पंचम भाव के स्वामी हैं। और चूंकि गुरु ज्ञान का ग्रह है, पढ़ाई का ग्रह कहते हैं, तो जो शिक्षा में सारी बाधाएं तो विद्यार्थियों के लिए खत्म होंगी। विद्यार्थियों को उत्तम परिणामों की प्राप्ति पढ़ाई में होगी। जो भी अब तक आपने लक्ष्य निर्धारित किये थे वो लक्ष्य आपको इस समय मिल जाएंगे। करियर में दिक्कतें परेशानियां खत्म हो जाएगी। बहुत अच्छा प्रदर्शन आप कैरियर में करते हुए दिखाई देंगे। वहीं अगर आपको कोई इच्छा रखते हैं मन में कोई साहित्य कला के क्षेत्र में आगे बढ़ना चाहते हैं तो उसके लिए भी यह समय उचित है। आप उसमें प्रयास कीजिए, आपको अलग पहचान जरूर मिलेगी। इस समय आपको कुछ भी काम हाथ में लेंगे, उसमें आप निश्चित तौर पर सफलता प्राप्त करेंगे।

जो निसंतान दंपत्ति है, बहुत लंबे टाइम से सोच है कि संतान प्राप्ति हो जाये, उसकी अभिलाषा रखते हैं तो वो भी इस साल की शुरुआत में आपको पूरी होने वाली है। ये तय है संतान से सम्बंधित शुभ समाचारों की प्राप्ति होगी। वो आपको गौरवान्वित महसूस करवाएगी। अपने बिहेवियर से पढ़ाई के माध्यम से आप तो ऐसे व्यवहार से आप उसके प्रति सदेव प्राउड फील करेंगे तो गुरु के रिजल्ट आपको बहुत ही अच्छे और शानदार देखने को मिलेंगे।

अब आते है तृतीय स्थान पर | लेकिन तृतीय स्थान का अगर हम बात करें तो तृतीय स्थान के स्वामी हैं शनि जो कि आपके तृतीय स्थान में स्वगृही होकर बैठ है। शनि का तृतीय स्थान में स्वग्रही होकर बैठना बहुत ही अच्छा शनि आपको बेहतरीन परिणाम 17 जनवरी तक तो देंगे पर उसके बाद का समय आपके पराक्रम में उत्तरोत्तर प्रगति करेगा। भाई बहनो का साथ और सहयोग भरपूर मिलेगा व अभी भी स्वगृही है तो बहुत अच्छे परिणाम और उसके बाद आपसे एक घर आगे बैठेंगे तो शनि के रिजल्ट तो बहुत ही शानदार आपको मिलने वाले है। भाई बहनों के साथ में आपकी ट्यूनिंग बहुत अच्छी होगी। रिश्तों में माधुर्य बना रहेगा। घर का माहौल बहुत ही हेल्दी रहेगा। आप अपने रिश्तो को प्रायोरिटी देंगे और अगर बेटी के जीवन में रिश्ते बहुत महत्वपूर्ण हो जाते है। रिश्तों से उनको सपोर्ट मिलता है तो वे सबसे पावरफुल व्यक्ति है दुनिया का क्यूंकि उसके साथ उसके रिश्ते हैं जो कि उसके नेगेटिव टाइम में और पॉजिटिव टाइम में उसके साथ खडे। रहने वाले है। तब वो हर चीज से डील कर सकता है। हर कठिनाई से डील कर सकता है। इसीलिए रिश्तों की मिठास बनी रहें। यही हर व्यक्ति चाहता है अपने जीवन में क्यूंकि हम केवल पैसों के लिए नहीं कमाते हैं। हम रिश्तों के लिए कमाते हैं और मेरे हिसाब से पैसे कमाना आसान है। रिस्ते कमाना बहुत मुश्किल है। इसीलिए रिश्तों की कमाई बहुत महत्वपूर्ण हर व्यक्ति के लिए होनी चाहिए। तो आप भी अपने आदर्शों पर चलते हुए अपने जीवन के लक्ष्य को साधने का प्रयास करेगें और काफी हद तक उसमें सफलता भी हासिल करेंगे। इस समय आप कला के क्षेत्र में हैं तो मान सम्मान और प्रसिद्धि में भी वृद्धि होगी।

अब चूंकि आपके सुख स्थान के स्वामी हैं। और 17 जनवरी से पहले अपने  में बैठेंगे परन्तु अपने घर में बैठेंगे। तो सुख बराबर निरंतर चलते चले जायेंगे। पर 17 जनवरी के बाद का समय तो आपके लिए बहुत ही शानदार है। अच्छी  स्थिति हो जाएगी क्यूंकि 17 जनवरी को शनि आ जाएंगे। आपके सुख स्थान में मूल त्रिकोण की राशि है और वहां पर शश नामक महापुरुष योग भी बनाएंगे। शनि का नामक महापुरुष योग बनाना आपके सुखों में निरंतर वृद्धि करेगा। अब तक जो प्रोपर्टी से संबंधित कुछ लेन देन में अटकाव की समस्या थी वो खत्म हो जाएगी। डिसप्यूट प्रोपर्टी डिस्प्यूट का कोई मामला है तो वो भी खत्म हो जाएगा। नए घर का सपना आपका पूर्ण होता हुआ दिखाई देगा। इस समय आप नया घर अपना शुरू करवा देंगे। अपने घर को अपग्रेड करना चाहते तो अपग्रेड कर लेंगे। नए वाहन की खरीदारी के लिए भी यह साल बहुत ही अच्छा रहने वाला है।

फंड कहीं से चाहिए तो वो फंड भी आपको मिल जाएगा। आर्थिक स्थिति बहुत ही उन्नत और सुद्रढ़ होती हुई दिखाई देगी और शनि के बेहतरीन परिणाम आपको प्राप्त होंगे क्योंकि शुक्र भी उनके साथ बैठेंगे। सप्तमेश और शुक्र की युति होगी। लाइफ पार्टनर के सपोर्ट से आप अपने सुखों में निरंतर प्रगति करेंगे। इस समय आप कई स्थानों की यात्रायें भी करेंगे और वो यात्रायें आपके लिए सुखद और मंगल मिलेगी। परिवार का सुख बच्चों का सुख, दाम्पत्य जीवन का सुख, पैरेंट्स का सुख सारे सुखों की अनुभूति आप अपने जीवन में करते। हुए दिखाई देंगे। तो सभी के रिजल्ट बहुत ही अच्छे और शानदार आपको इस माह। देखने को मिलेंगे।

अब आ जाता है सीधे सप्तम भाव पर | सप्तम भाव की अगर बात करें तो सप्तमेश हैं शुक्र, जो की आपके पराक्रम भाव में जाकर बैठा हैं अपने से नवम जाकर बैठा है। तो 22 जनवरी तक शुक्र आपके पराक्रम भाव में बैठेंगे और शुक्र के साथ युति करके सूर्य पराक्रमेश के साथ युति करके बैठेंगे। बहुत ही शानदार परिस्थितियां आपको मई महीने तक आप बन तक देखने को मिल सकती है। इस समय सुखों में वृद्धि होगी। अगर आपको शुक्र से रिलेटेड काम करते हैं जैसे आप ट्रैवलिंग का अगर बिजनेस करते हैं। यदि आप को होटल व्यवसाय का काम करते रेस्ट्रो का काम करते फैशन डिजाइनिंग का काम करते हैं। इंटीरियर डेकोरेशन का काम करते हैं या सुगन्धित पदार्थों से संबंधित कोई काम करते हैं जैसे प्यार और परफ्यूम तो निश्चित रूप से ये समय आपके लिए बहुत ही सकारात्मक रहेगा। आपके काम को रफ्तार मिलेगी और ऐसा काम करना शुरू करना चाहते हैं तो उसके लिए भी ये समय बहुत ही उचित है।

अब 22 जनवरी को जब शनि शुक्र आपके सुख स्थान में आ जाएंगे तब भी वे बहुत अच्छे रिजल्ट देंगे और उससे पहले तो वे पराक्रम में इसके साथ मजबूती करेंगे और 22 जनवरी को फिर सुखेश के साथ में युति करते हुए दिखाई देंगे। तो टोटल ये महीना आपके लिए शुक्र के बेहतरीन रिजल्ट दिलवाएगा। अब इस समय कोई भी इन्वेस्टमेंट करें तो अपने लाइफ पार्टनर के नाम से करें। पर इस समय मंगल सप्तम भाव में है तो दाम्पत्य जीवन में किसी भी प्रकार का ईगो नहीं आना चाहिए। आपको ये नहीं लगना चाहिए। मैं मैं अगर दाम्पत्य जीवन के बीच में आ गया तो वो उसको खराब कर देता है। आप दोनों एक साथ मिलकर शक्ति बन सकते हैं। परंतु अगर आप ने समझ लिया मैं बहुत ज्यादा हूँ तो कुछ भी नहीं है। दूसरे को तुच्छ समझ लिया तो दांपत्य जीवन की गाड़ी अटक जाएगी। और मंगल ये क्रिएट कर सकता है। इसीलिए आपको करे कि ईगो नहीं है। और एक साथ इक्वैलिटी के साथ आगे बढ़ें। माधुरी के साथ आगे बढ़ें। एक दूसरे की ताकत भी बनेगें और इस समय का दुगुना लाभ भी प्राप्त करेंगे।

अब शुक्र चूंकि आपके द्वादश भाव के स्वामी हैं खर्च भाव के स्वामी हैं। और खर्चे भाव का स्वामी आपके पराक्रम भाव में जाकर बैठा हैं अपने से चतुर्थ बैठा है। इसमें विदेशों का आपका जाने का सपना पूर्ण हो जाएगा।

विदेश यात्रा का सपना पूर्ण होगा। इस समय धर्म कर्म के कार्यों में आपकी रुचि बढ़ेगी। इसमें थोड़ा सा आप मोक्ष की तरफ। मैं मेरे जीवन को सवारे लोगों की सेवा करूँ। कुछ ऐसे कार्य करूं जिससे मुझे मोक्ष की प्राप्ति हो। ऐसे कार्यों में आपका मन लगेगा क्योंकि केतु भी उसमें है। केतु तो उसमें बहुत अच्छे रिजल्ट देते हैं। ठीक रिजल्ट देता। है। इसीलिए इस समय आपका मन कुछ ऐसे कार्य करने का रहेगा जिससे आप अपने इस जीवन को सुधार सकें। और ये होना भी चाहिए। इस समय आपको लोगों की सहायता के लिए आगे आएंगे। विदेशी कंपनियों से आपको बहुत अच्छा लाभ प्राप्त हो सकता है। मिसअंडरस्टैंडिंग का कोई स्थान नहीं है। इसीलिए अपने और अपने अधिकारियों के बीच में किसी भी प्रकार की समस्या न आने दें। इमानदारी से अपने कार्य को करेंगे तो अधिकारी वर्ग आपसे प्रसन्नचित नजर आएंगे। तो शुक्र के रिजल्ट आपको खर्च स्थान के हिसाब से और सप्तम भाव के हिसाब से बहुत ही अच्छे मिलेंगे। अब आ जाते हैं आपके अष्टम भाव पर |  अष्टम भाव के स्वामी हैं बुध जो कि अपने से सप्तम जाकर बैठें और अपने घर को देख रहे हैं। यानी अष्टम भाव को देख रहे हैं। अष्टम भाव पर अष्टमेश की दृष्टि होना बहुत ही अच्छे परिणाम लेकर आएगा। इस समय आपके शत्रु समाप्त हो जाएंगे। रुपए पैसे से संबंधित कार्यों में आपको सफलता मिलेगी। ऋण से आपको मुक्ति मिलेगी। अचानक लाभ की स्थिति आपके जीवन में आएगी। रिस्की कामों से आपको लाभ प्राप्त होगा परंतु लॉन्ग टर्म इन्वेस्टमेंट ये ध्यान रखेगा। शॉर्ट टर्म नहीं करना और सोच समझकर करना। एकदम सारी राशि आप ऐसा काम बिलकुल मत कीजिएगा। इस समय आप जो भी काम अपने हाथ में लेगें उसे पूरा करके ही दम लेंगे। पर जानवरों से थोड़ा सा सावधान हैं। यात्राएँ करते ध्यान रखें यानि ट्रैफिक नियमों का पालन करें। सीटबेल्ट हेलमेट का प्रयोग करें और कोई भी यात्रा पर दूरगामी अगर यात्रा हो तो खुद ड्राइव करके ना जाएं। कुछ और संसाधन ड्राइवर रखें। जैसे भी आप करें पर खुद ड्राइव ना करें। बस इस बात का अगर आप ध्यान रखेंगे तो बुध के रिजल्ट और भी अच्छे आपको नजर आएंगे।

अब बुध चूंकि आपके लाभेश भी है और लाभ भाव का स्वामी अपने से चतुर्थ जाकर बैठा है। लाभेश का अपने से चतुर्थ जाकर बैठना आपके लाभ में निरंतर वृद्धि करेगा। इस समय उत्तरोत्तर लाभ की स्थिति आपको देखने को मिलेगी। अचानक अगर आपने किसी को उधार दे रखा है तो वो व्यक्ति उधार चुका कर जाएगा जिससे आप प्रसन्नचित नजर आएंगे। सर्कल और लेवल बढ़ेगा। सामाजिक कार्यक्रमों में आपकी भागीदारी बढ़ेगी। समाज में आप गणमान्य व्यक्तियों की सूची में रहेंगे और आपको कई सीपीएस बनाकर भी बुलाया जा सकता है। यानि एक सम्मानित पोजिशन में आप अपने आप को पाएंगे। इस समय आप के सर्कल में ऐसे लोग जुड़ेंगे जो कि आगे चलकर आपको बिजनस में फायदा दिलवाएंगे। दोस्तों की संख्या बढ़ेगी परंतु ये दोस्त आपके लिए बहुत ही लाभदायक साबित होंगे और आगे चलकर आपको पूरा सपोर्ट करेंगे। आपका सपोर्ट सिस्टम बनेंगे।

बड़े भाई की मदद से आपको बहुत बड़ा लाभ इस माह मिल सकता है। घर में मांगलिक कार्यक्रमों की रूपरेखा रखी जाएगी और घर का माहौल बहुत ही हेल्दी होता हुआ दिखाई देगा। तो बुध के रिजल्ट भी आपको बहुत अच्छे मिलने वाले हैं।

अब आपके भाग्य स्थान पर | भाग्येश हैं चंद्रमा जो कि आपके लिए श्रेष्ठ होता रहता है पर कर्म प्रधान है इसलिए भाग्य के भरोसे नहीं बैठेंगे। ये ठीक रहेगा आपके लिए। इस समय दृढ़ता से अपने कार्यों को कीजिए और आपकी विल पावर बहुत मजबूत रहेगी। इसीलिए आप अपने कार्यों में सक्सेस भी हासिल करेंगे। जो हायर एजुकेशन से जुड़े हुए छात्र हैं, उनके लिए थोड़ा सा यह समय डिस्ट्रक्शन का नहीं, उनके अपने लक्ष्य प्रधान होना चाहिए। यानि पहले आप अपने लक्ष्य पर ध्यान दें। डिस्ट्रक्ट हो और उसके बाद अपनी हॉबी से संबंधित सब कार्य करें। धर्म कर्म के कार्यों में आपकी रुचि बढ़ेगी। परिवार के साथ बॉन्डिंग बहुत अच्छी रहेगी और मित्रों के साथ इस महीने आप कहीं बाहर घूमने जाने का प्लान बना सकते हैं।

अब आते हैं आपके कर्म भाव पर | कर्मेश हैं आपके सूर्य जो कि आपके धन भाव में जाकर विराजमान हो गया, अपने से पंचम जाकर बैठे और ये ये सूर्य आधे महीने तक आपके धन भाव में जाकर बैठेंगे। तो कर्मेश का पंचम जाकर बैठना। करियर में सारी दिक्कतें परेशानियां दूर करेगा। इस समय अगर आप गवर्मेंट जॉब की तैयारी कर रहे हैं और उसका रिजल्ट आ रहा है तो वो रिजल्ट आपके लिए फेवरेबल रहेगा। हालांकि 14 जनवरी के बाद अगर रिजल्ट आता है तो थोड़ा सा ऊपर नीचे हो सकता है क्योंकि फिर वे अपने षस्टम चले जाएंगे। यानी कर्मेश षष्ठम में चले जाएंगे तो कुछ दिक्कतें परेशानियां आ सकती हैं। परंतु उससे पहले परिस्थितियां आपके लिए सकारात्मक रहेगी। कर्म प्रधान बनने का प्रयास करें। इलेक्ट्रोनिक व्यवसाय से जो व्यावसायी जुड़े हुए हैं उनको कोई बड़ा ऑर्डर मिल सकता है। सरकारी कार्यों में आ रही बाधाएं दूर हो सकती हैं। पिता का साथ और सानिध्य जरुर प्राप्त होगा और उनके मार्गदर्शन से आप अपनी समस्याओं को हल कर पाएंगे। तो ये था वृश्चिक राशि वालो का साल के प्रथम यानि जनवरी माह का मासिक राशिफल।

शुभ तिथियां – 3, 4, 8 से 14, 18 से 23, 26, 27, 30 और 31 |

अशुभ तिथियां – 1, 2, 15, 17, 24, 25, 28 और 29।

शुभ रंग – हरा. लैमन, ग्रीन, लेमन यलो और पिस्ता |

उपाय

  • प्रतिदिन हनुमान चालीसा का पाठ करें।
  • बंदरों को भोजन और फल जरूर खिलाएं।
  • प्रतिदिन सुबह उठते ही सबसे पहले शहद का सेवन करें।
  • लाल रंग के रुमाल अपनी जेब में सदैव रखें |
  • संकट मोचक स्त्रोत का नियमित रूप से पाठ जरूर करें। यह कार्य आपको नियमित रूप से करने चाहिए।
  • रोजाना पीपल के वृक्ष के नीचे सरसों के तेल का दीपक जरूर जलाएं और सफाई कर्मियों की भी सेवा करें।

Note: Daily, Weekly, Monthly, and Annual Horoscope is being provided by Pandit N.M.Shrimali Ji, almost free. To know daily, weekly, monthly and annual horoscopes and end your problems related to your life click on (Kundali Vishleshan) (Kundali Making) (Kundali Milan) or contact Pandit NM Srimali  WhatsApp No. 9929391753, E-Mail- [email protected]

Contact : +918955658362 | Email: [email protected] | Click below on Book Now
Subscribe on YouTube – Nidhi Shrimali