Astro Gyaan|Astrology Tips|Featured

मीन राशि 12 April 2022 Rahu Rashi Parivartan in Hindi | – Rahu Transit | Pisces Prediction

[vc_row][vc_column][vc_column_text]

मीन राशि 12 April 2022 Rahu Rashi Parivartan in Hindi


This image has an empty alt attribute; its file name is meen-rashi-pieces-300x267.png

 

12 2 | Panditnmshrimali

 

ज्योतिषी एक विज्ञान है और इसे गहराई से समझा जाए तो जीवन में बदलाव संभव है तो आइए हम करेंगे आपकी हर समस्या का समाधान। नमस्कार स्वागतम् आज हम आपके सामने राहु के राशि परिवर्तन की जानकारी लेकर उपस्थित हुवे है और अब तक मेष से लेकर कुम्भ राशि तक राहु के इस राशि परिवर्तन के प्रभावों के बारे में बताया और आज आपको मीन राशि पर राहु की राशि परिवर्तन के होने वाले प्रभाव के बारे में बताएंगे । इसका क्या प्रभाव मीन राशि पर देखने को मिलेगा। राहू 12 अप्रैल को सुबह 10:36 बजे पर वृषभ राशी से मेष राशि में कृतिका नक्षत्र में प्रवेश करेंगे और लगभग 18 महीने तक वे मेष राशि में विराजमान होंगे। 30 अक्टूबर वर्ष 2023 तक वे मेष राशि में ही गोचर भ्रमण करेंगे। ज्योतिष शास्त्र में नौ ग्रहों की भूमिका बताई गई है, जिसमें सात ग्रह प्रत्यक्ष देखे जाते हैं और दो ग्रह राहु और केतु को हम छाया ग्रह के रूप में देखते हैं। राहू छाया ग्रह है। साथ में वक्री चाल चलते हुए उल्टा गोचर भ्रमण करता है। यानि वृषभ से मेष राशि में प्रवेश करता है। उल्टा प्रवेश कर रहा है तो हमेशा राहू वक्री अवस्था में चलते हैं। राहु, सूर्य और चंद्र के साथ में ग्रहण दोष का निर्माण भी करता है, परंतु यदि आपकी कुण्डली में राहु, तृतीय षष्टम और एकादश भाव में विराजमान हो तो उत्तम परिणाम भी देता है। राहु के उच्च और नीच को लेकर विरोधाभास की स्थिति भी बनी हुई है। कुछ आचार्यो का मत है कि राहु कन्या में स्वग्रही मिथुन में उच्च के और धनु में नीच के होता है। वह कुछ अन्य आचार्यों का मत है कि राहु वृषभ में उच्च के और वृश्चिक में नीच के माने गए हैं। राहु के मंगल ग्रह शत्रु शनि सम और अन्य ग्रहों से मित्रता रहती है। राहु की दृष्टि शनि के समान ही अच्छी नहीं मानी जाती। पंचम सप्तम नवम दृष्टि से राहु उन स्थानों पर दुष प्रभाव डालता है। राहू के लिए मंगल शत्रु शनि सम और शेष ग्रह मित्र माने गये हैं। मीन राशि 12 April 2022 Rahu Rashi Parivartan in Hindi

मीन राशि वालों के लिए राहू के क्या परिणाम देखने को मिलेंगे। राहू पहले आपके तृतीय भाव में बैठे थे जो कि बहुत ही अच्छे परिणाम आपको दे रहे थे। तृतीय भाव में राहु के रिजल्ट बहुत ही अच्छे।देखने को मिलता हैं। आपके पराक्रम में वृद्धि भाई बहनों से सादर सहयोग, सम्मान सम्मान और प्रसिद्धि में वृद्धि में आपकी सभी इच्छाएँ समय राहु पूर्ण कर रहे थे। आपको आर्थिक रूप से भी लाभ दिलवा रहे थे। जब राहु आपके तृतीय स्थान में थे तब दृष्टि आपके सप्तम भाव पर भाग्य स्थान पर और लाभ भाव पर थी, जोकि इन तीनों ही स्थानों का नुकसान करता है। दाम्पत्य जीवन में मिसअंडरस्टेनिंग क्रिएट होना बात बात पर झगड़ा हो जाना। एक दूसरे के साथ सिंक्रोनाइज नहीं कर पाना, व्यापार में भी दिक्कतें परेशानियां और रुकावटें आना | भाग्य आपका साथ नहीं देना और वही युवक युवतियों के लिए थोड़ा सा स्ट्रगलिंग टाइम बना हुआ था। हायर एजुकेशन से जुड़े छात्रों को भी अपने मन अनूकूल परिणामों की प्राप्ति नहीं हो रही थी | लाभ की स्थिति फ्लॉचुवेक्शन से भरी थी । वहीं पारिवारिक विवादों में आप घिरे हुए थे और आप अपने मन मुताबिक किसी भी कार्य को नहीं कर पा रहे थे। मीन राशि 12 April 2022 Rahu Rashi Parivartan in Hindi

अब राहु आपके द्वितीय भाव में आकर विराजमान हो रहा है। द्वितीय भाव से राहू का राहु का द्वितीय भाव में बैठना आपको पैतृक संपत्ति संबंधी विवादों से छुटकारा दिलवाएगा एवं धनलाभ की स्थितियों को बढ़ाएगा। बड़े व्यवसाय में अच्छा लाभ प्राप्त होगा। छोटे व्यवसाय में फ्लॉचुवेक्शन बना रहेगा। यदि आपके स्थायी संपत्ति कोई गिरवी पड़ी है तो वो मुक्त हो जाएगी। लेकिन घर में स्त्रियों का व गाव और समाज के लोगों का विरोध आपको सहन करना पड़ेगा। यानि घर की स्त्रियों का आपको सपोर्ट नहीं मिलेगा। थोड़ा सा समाज में भी आपके कार्यों की वजह से आपकी वाणी की वजह से थोड़ा सा आप नेगेटिव छवि की तरफ आगे बढ़ते हुए दिखाई देगी। थोड़ी सी स्ट्रेट फॉर्वडनेस आपको इस समय करनी चाहिए। राहु 2nd हाउस में आपके बैठे है और वहां पर वो मिक्स रिजल्ट आपको दे रहे है तो सबसे बड़ी बात ये कि आपको अपनी बोली पर बहुत ज्यादा काम करना पड़ेगा। शब्दों का चयन करते समय सोच समझकर अपने जीवन में आगे बढ़े क्योकि शब्द एक बार अगर अपने मुख से निकल गए जैसे धनुष से तीर निकलने के बाद वापस नहीं आता। वैसे शब्द भी वापस नहीं आ सकते और वो अगले व्यक्ति पर आपकी छवि को निर्धारित करते हैं। इसलिए शब्दों का प्रयोग करते समय बहुत ज्यादा आपको केयरफुल रहना है ताकि आपके किए गए काम आपके किए गए व्यवहार का मूल्यांकन सही तरीके से सही दिशा में पॉजिटिवली आगे बढ़ सकें। अब ये तो है राहु 2nd हाउस में बैठकर आपको ये रिजल्ट दे रहे। मीन राशि 12 April 2022 Rahu Rashi Parivartan in Hindi

अब राहू के दृष्टिया कैसी है राहु की पंचम दृष्टि आपके षष्टम भाव पर राहु की सप्तम दृष्टि आपके अष्ठम भाव पर और नवम दृष्टि आपके कर्म भाव पर पड़ रही है। तो सबसे पहले बात करते हैं षष्टम दृष्टि की ये आकस्मिक रोगों को न्यौता देना। छोटे मोटे इन्फेक्शन हो जाना बार बार बार बार बीमार होना और घर में रोगों का प्रवेश इसको बढ़ावा दे सकता है। शत्रु पक्ष विरोधी पक्ष भी आपके कामों में येन केन प्रकारेण कुछ न कुछ खलल डालने का प्रयास करता है और कभी कबार वो सफल भी हो जाता है तो राहु की जो षष्टम भाव पर पंचम दृष्टि पड़ रही है। उस वजह से ही अधिकतर परेशानी आपको झेलनी पड़ सकती है। नशे की आदत बढ़ना एल्कोहॉल की प्रवृति बढ़ना गलत मित्रों की संगति हो जाना रुपए पैसे से संबंधित कार्यों में नुकसान की स्थितियां देखना ऐसी स्थितियां बढ़ सकती है। इसलिए आपकी सतर्कता ही इन समस्याओं से आपको बचा सकती है। गलत मित्र को हम या हमारी अंतरआत्मा जरूर पहचानती है तो ये बंदा गलत है। हम के साथ आगे नहीं बढ़ना । फिर भी हम उसके इन्फ्लुएंस में आ जाते हैं तो ऐसा आपको बिल्कुल भी नहीं करना | अपने कार्यों को खुद खड़े रहकर पूर्ण करेंगे। अपने कार्यों के प्रति सतर्क रहेंगे तो शत्रु पक्ष चाहकर भी आपका कुछ नहीं बिगाड़ पाएगा। वही स्वास्थ के प्रति थोड़ा सा सावधान रहें और योगा मेडिटेशन प्राणायाम जो भी आप करते हैं उसे अपने रूटीन का हिस्सा आपको बनाना चाहिए। मीन राशि 12 April 2022 Rahu Rashi Parivartan in Hindi

अब राहु की सप्तम दृष्टि की बात करें जो की अष्टम भाव पर पड़ रही है तो यह दृष्टि उल्टा आपके अष्ठम भाव को ठीक करेगी क्योंकि राहु है क्रूर ग्रह और अष्टम भाव है एक क्रूर स्थान तो ऐसे पाप ग्रहो के अंदर राहु की दृष्टियों के रिजल्ट इतने नेगेटिव आपको नहीं मिलेंगे जो भी यात्राएं होंगी वो आपके लिए सुखद और मंगलमय रहेगी। धार्मिक प्रवृति से आप ओतप्रोत रहेंगे। अगर आपके जीवन में कोई बाधा है। कोई समस्या है। पारिवारिक दृष्टि से चल रही है तो उसका निवारण हो जाएगा। परंतु अपनी आर्थिक स्थिति को देखकर ही आपको खर्च करना है। इस बात का ध्यान रखें वरना कर्ज की स्थितियां राहू की वजह से बढ़ सकती है।

राहु की नवम दृष्टि की बात करें जो कि आपके कर्म भाव पर पड़ रही है तो यह समय आपके कामकाज में दिक्कत ला सकता है। परेशानियां ला सकता कन्फ्यूजन की स्थतिया बना सकता है | भ्रम की स्थितियों में आपको ला सकता है । यदि आप व्यापारी वर्ग है तो आपके डिसीजन गलत निकलेंगे। लोग आपको टोकेंगे भी पर आप बहुत ओवर कॉम्पिटेंट होकर डिसीजन ले लेंगे, जिसकी वजह से आपको बाद में पछताना भी पड़ सकता है। वहीं नौकरी पेशा लोगों के लिए भी यह समय इतना अच्छा और लाभदायक नहीं।रहेगा। काम में फ्लक्चुएशन बार बार बॉस की डाट सुनना सहयोगियों का सहकर्मियों का सहयोग आपको प्राप्त नहीं होगा । अकेले ही अपने कार्यों को पूर्ण करते चले जाना जितनी मेहनत कर रहे है उतना रिजल्ट ना मिलना ऐसे परिणाम आपको मिल सकते हैं। व्यापार में पिता के साथ मतभेद हो सकते हैं और आपका व्यापार जो आप साथ में कर रहे है वो अलग अलग हो सकता है। यानी खंडित हो सकता है तो थोड़ा सा आपको इस मामले में बहुत ज्यादा ध्यान लगाने कि आपके पैरंट्स जो है वह कभी भी आपका गलत नहीं चाहते इस बात को ध्यान रखिएगा। क्योकि पैरंट्स हमेशा ही उनके बच्चे तरक्की और उन्नति के रास्ते पर आगे बढ़ते चले जाएं। इसलिए अगर वो आपको कोई बात समझाते हैं तो उनकी बातों को आपको समझना चाहिए और उस पर गौर भी करना चाहिए। एक टीम वर्क की तरह काम करेंगे जो अकेले कार्य करने की प्रवृति है। कभी कभी आप जो ओवर कॉन्फिडेंट हो जाते है | कॉन्फिडेंस लीक आप बहुत जल्दी हो जाता है। कोई भी छोटी सी असफलता प्राप्त की ओर आप निराश हो जाते हैं। मैं तो कुछ भी नहीं कर सकता या कर सकती तो यह भावना को आपको अपने मन से निकालना पड़ेगा। तभी आप अपने जीवन में सफलता के आयाम तय कर पाएंगे | ये तो थे राहु के मीन राशि के रिजल्ट। मीन राशि 12 April 2022 Rahu Rashi Parivartan in Hindi


उपाय

  • आपको सोमवार और शनिवार के दिन जल में काले तिल मिलाकर शिवलिंग पर अर्ध्य जरूर देना चाहिए। इससे राहु के दुष्प्रभाव से मुक्ति मिलती है।
  • वहीं अगर आपके जीवन में राहू का कोई दोष बना हुआ है। तो नियमित रूप से राहु। के बीज मंत्र ॐ रां राहवे नमः का संध्याकाल यानी सूर्यास्त के बाद में भूरे आसन पर बैठकर राहु यंत्र के सामने बैठकर और शनि माला से जाप करना चाहिए | ये अगर आप नियमित रूप से करेंगे तो राहु के दोषो से निश्चित रूप से आपको मुक्ति मिलेगी।
  • बृहस्पतिवार के दिन मूली का दान जरुर करें
  • कच्चे कोयले को बहते हुए जल में प्रवाहित करें। इससे राहु के दुष्प्रभाव से आपको मुक्ति मिलेगी।वहीं राहु आपको गलत रिजल्ट दे रहा है तो मांस, मछली और शराब का सेवन आपको करना नहीं चाहिए। यानि इन पदार्थों के सेवन से बचना चाहिए।
  • भ्रष्टाचार से सदैव दूर रहें।
  • निर्धन व्यक्ति के आर्थिक रूप से सहायता जरूर करें।
  • लोहे का छल्ला अथवा कड़ा आपके लिए पहनना बहुत ही अधिक लाभदायक रहेगा।
  • गणपति जी की पूजा आराधना प्रत्येक दिन करे । और कोई भी कार्य करने जा रहे हैं तो विघ्नहर्ता का आव्हान करके उस कार्य को प्रारंभ करें।

 

 

[/vc_column_text][vc_video link=”https://youtu.be/-l8hcRXIUZE” image_poster_switch=”no”][/vc_column][/vc_row]

 

Note: Daily, Weekly, Monthly, and Annual Horoscope is being provided by Pandit N.M.Shrimali Ji, almost free. To know daily, weekly, monthly and annual horoscopes and end your problems related to your life click on (Kundali Vishleshan) (Kundali Making) (Kundali Milan) or contact Pandit NM Srimali  WhatsApp No. 9929391753, E-Mail- [email protected]

Contact : +918955658362 | Email: [email protected] | Click below on Book Now
Subscribe on YouTube – Nidhi Shrimali

Back to list

Leave a Reply

Your email address will not be published.