Astro Gyaan|Astrology Tips|Featured, Astro Gyaan, Astro Gyaan|Astrology Tips|Featured|Jeevan Mantra, Astro Gyaan|Astrology Tips|Featured|Jeevan Mantra|jems and stone|Numerology|Palm Reading

मिथुन राशि मई 2023 राशिफल in Hindi| Mithun Rashi Rashifal May 2023 | Monthly Horoscope

मिथुन राशि मई 2023 राशिफल in Hindi

नमस्कार स्वागतम् वेलकम आज हम आपके सामने मिथुन राशि वालो का मई माह का मासिक राशिफल लेकर उपस्थित हुवे है और सबसे पहले जान लेते हैं इस माह में आने वाले कुछ विशेष पर्व बड़े ही धूमधाम से मनाया जाएगा और 31 मई को निर्जला एकादशी आ रही है। इस दिन निर्जल रह कर व्रत किया जाता है। ये सभी एकादशियों में सबसे बड़ी एकादशी के रूप में जानी जाती है। निर्जला एकादशी के दिन दान पुण्य की भी अपनी विशेष महिमा रहती है। विशेष महत्व रहता है। इसीलिए इस दिन ठन्डे पेय पदार्थो का जो भी सीजनल फ्रूट है उसका, जल का आप दान कर सकते हैं और निर्जल रह कर इस दिन भगवान विष्णु की जो पूजा आराधना करता है उसको सभी पापों से मुक्ति मिलती है और सभी पुण्य फलों का 100 गुना फल इस एकादशी पर व्रत करने पर ही प्राप्त हो जाता है। मिथुन राशि मई 2023 राशिफल in Hindi

अब बढ़ते हैं आगे और जान लेते हैं इस माह की ग्रह गोचर की स्थिति के बारे में सबसे पहले बात करते हैं सूर्य की जो कि ग्रहों के राजा है। वर्तमान में वे अपनी उच्च राशि मेष में विराजमान हैं और 15 मई को वे अपनी राशि वृषभ में प्रवेश कर जाएंगे। बुध ग्रह की बात करें तो वे इस पूरे माह अपनी मित्र राशि मेष में विराजमान रहेंगे। मंगल ग्रह की बात करते हैं तो वे वर्तमान में अपनी सम राशि मिथुन में विराजमान हैं और 10 मई को वे अपनी नीच की राशि कर्क में प्रवेश करने वाले हैं। गुरु ग्रह की बात करें तो वे इस पूरे माह अपनी अति मित्र राशि मेष में विराजमान रहने वाले हैं। वहीं शुक्र ग्रह वर्तमान में अपनी खुद की राशि वृषभ में विराजमान हैं और 2 मई को वे राशि परिवर्तन करके अपनी अति मित्र राशि मिथुन में प्रवेश कर जाएंगे। उसके बाद वे 30 मई को पुनः राशि परिवर्तन कर कर्क राशि में प्रवेश कर जाएंगे। शनि ग्रह की बात करें तो वे इस पूरे माह अपनी मूल त्रिकोण की राशि कुम्भ में स्वग्रही होकर विराजमान रहेंगे। राहु और केतु अपनी सम राशियाँ मेष और तुला में इस माह विराजमान रहने वाले हैं तो ये है इस माह की ग्रह गोचर की इस तिथि का हाल।

शुरू करते हैं मिथुन राशि वालो का मई माह का मासिक राशिफल। सबसे पहले हम आपको बता दे कि ये जो हम आपको राशिफल बता रहे है ये चंद्र गणनाओं पर आधारित है और आपकी राशि और लग्न दोनों के हिसाब से समान रूप से प्रभावशाली भी है। तो सबसे पहले आपकी राशि स्वामी पर आते हैं जो कि है बुध और वे इस पूरे माह मेष राशि में विराजमान रहने वाले हैं। वहीं चूंकि लग्नेश अपने से 11वें जाकर बैठे हैं, इसीलिए यह समय आपके लिए बहुत ही अच्छा रहने वाला है। रिश्तों में मिठास रहेगी। सामाजिक मान सम्मान में बढोत्तरी होगी। आपके बुजुर्गों का आशीर्वाद आप पर रहेगा। ददिहाल से आपके रिलेशन और भी अधिक प्रगाढ़ और बेहतर होते हुए दिखाई देंगे। वहीं इस समय जो भी काम आप हाथ में लेंगे उसे बुद्धिमता से पूर्ण करते हुए दिखाई देंगे। अपनी इच्छाओं को भी आप इस माह पूर्ण करेंगे। रमणीक स्थलों की यात्राएं भी संभव है। अपने जिज्ञासाओं को शांत कर अपने विज़न को आप बहुत क्लियर रखेंगे। तोल मोल कर चलने की आवश्यकता है जितना सोच समझ कर कार्य करेंगे उसमें आप उतना ही अधिक लाभ प्राप्त करते हुए दिखाई देंगे। बुध के रिजल्ट्स लग्नेश के हिसाब से तो बहुत अच्छे देखने को मिलेंगे क्योंकि लग्नेश बैठे हैं अपने से 11वें परन्तु लग्नेश चूंकि सुखेश भी हैं यानि बुध सुख स्थान के भी स्वामी हैं। इसीलिए सुखेश की परिस्थितियों पर अगर हम विचार करे तो वे अपने से अष्टम जाकर बैठे हैं। बुध का अपने से अष्टम जाकर बैठना अच्छा नहीं। शनि की दृष्टियाँ इस समय राहू, बुध, सूर्य और उसके साथ साथ गुरु पर चारों ग्रहों पर पड़ने वाली हैं क्योंकि ये चारों ग्रह मेष राशि में विराजमान हैं। इसीलिए ये समय आपके सुखों में थोड़ा सा फ्लक्चुएशन ला सकता है। इस समय फाइनेंशियली आपको बहुत केयरफुल होकर चलना होगा। कोई भी अकस्मात खर्चे से विचलित न हों और अपना बजट देखकर चलें। कई घर के रिनोवेशन पर खर्चा हो सकता है तो कहीं घर के रख रखाव पर कोई इलेक्ट्रॉनिक गैजेट खराब हो गया तो बोला ना है या फिर वाहन खराब हो गया तो नया वाहन खरीदना है। इस तरह के खर्चे आपके जीवन में आ सकते हैं। अब आपको सोचना है कि आपको किस बजट तक जाना है और कितना घर खर्च करना है। ये अगर एक प्लैनिंग बनाकर स्ट्रेटेजी बनाकर चलेंगे तो निश्चित रूप से फाइनेंशियली आपको किसी भी दिक्कत का सामना नहीं करना पड़ेगा, वरना समस्याएं बढ़ सकती है। इसीलिए थोड़ा सा केयरफुल होकर चलने में ही समझदारी है। इस समय आपकी मां के साथ वाद विवाद से भी आपको बचना होगा। वहीं किसान वर्ग और दूध डेरी पशुपालन से संबंधित। जो लोग काम करते हैं उनको भी संभलकर रहना होगा। क्योंकि इस समय व्यापार में भी आपको उतार चढ़ाव देखने को मिलेगा। तो ये है बुध की स्थिति जो कि आपके लग्नेश भी है और सुखेश भी है। मिथुन राशि मई 2023 राशिफल in Hindi

अब आते है आपके द्वितीय स्थान पर द्वितीय भाव के स्वामी हैं चंद्रमा जो कि उतरते हैं यहां पर ध्यान देने योग्य बात ये है कि द्वितीय स्थान में मंगल नीच के होकर बैठे हैं और ये समय आपके लिए इतना अच्छा नहीं है। क्रोध और आवेश में आकर गलत डिसीजन लेने से बचें। कोर्ट कचहरी जैसे मामलों से जितना हो सके आपको इस समय दूर रहना होगा। अनर्गल विवादों से भी अपने आपको अलग रखना होगा अन्यथा आप बुरी तरह से फंस सकते हैं। इस समय कोई भी ऐसी कॉन्ट्रोवर्शियल बात ना करें जिससे आपके रिश्तों में खटास पड़ जाए। इस समय केयरफुल होकर काम में आगे बढ़ें। अपने अधिकारियों को विश्वास में लेकर कार्य करें तो आपके लिए बेहतर रहेगा। अब आते हैं आपके तृतीय स्थान पर तृतीय भाव के स्वामी हैं। सूर्य जो कि अपने से नवम जाकर बैठा है। सूर्य का अपने से नवम जाकर बैठना बहुत अच्छा पर चूंकि शनि की तीसरी दृष्टि सूर्य पर पड़ रही है, इसलिए इस समय पिता पुत्र के संबंधों में कुछ उतार चढ़ाव आ सकते हैं। थोड़ा सा अपने संबंधों में केयरफुल रह अपने पिता के साथ वाद विवाद की स्थितियों से बचें और अगर आप पिता हैं और अपने पुत्र या पुत्री के साथ में आपको बहुत शांति से और उनके साइक्लोजी को समझते हुए व्यवहार करना होगा। वरना अति अनुशासन अति कठोर व्यवहार से बच्चे विद्रोही हो सकते हैं। इस समय परिस्थितियां आपके लिए इतनी अच्छी नहीं रहेगी। आपको अपनी मेहनत के दम पर परिस्थितियों को अपने अनुरूप करना होगा। पराक्रम में वृद्धि होगी। छोटे भाई बहनों का पूरा सपोर्ट आपको देखने को मिलेगा। राजनीति में भी आपका वर्चस्व बढ़ता हुआ दिखाई देगा तो ये हैं सूर्य की स्थिति और तृतीय भाव के स्वामी की स्थिति।

अब सूर्य आधे माह बाद यानि 15 मई को वृषभ राशि में यानि आपके ट्वेल्थ हाउस में खर्च स्थान में चले जाएंगे और यहां पर सूर्य के रिजल्ट आपको बेहतर मिलते हुए दिखाई देंगे। खर्चों में भी कमी करेंगे। फाइनेंशियली आपको थोड़ा सा ठीक करते हुए दिखाई देंगे। कर्ज की स्थितियों से आपको थोड़ा रिलैक्सेशन इस माह देखने को मिलेगा। इस समय आपको अपने रिस्की कामों में हाथ नहीं डालना चाहिए जो रूटीन में काम चल रहे हैं, उन्हीं कार्यों को करने का प्रयास करें तो इन बातों का ध्यान रखेंगे तो समस्याएं किसी भी तरह से आपके जीवन में विकराल रूप नहीं लेगी। मिथुन राशि मई 2023 राशिफल in Hindi

अब आते है आपके पंचम भाव पर पंचम भाव की अगर हम बात करे तो पंचमेश और आपके द्वादशेश सेम हैं यानि शुक्र है। पंचम भाव के स्वामी भी शुक्र और द्वादस स्थान के स्वामी भी शुक्र हैं। अब पंचम भाव का स्वामी लग्न में जाकर आपकी पर्सनैलिटी के भाव में राशि में जाकर विराजमान हो रहा है। यहां पर आपको बहुत ज्यादा अपने करियर में सपोर्ट मिलता हुआ दिखाई देगा। अपने से नवम जाकर बैठे शुक्र के आपको बेहतरीन परिणाम देखने को मिलेंगे। कलाकारों के मान सम्मान और प्रसिद्धि में वृद्धि होगी। कला वर्ग के छात्रों को मनोनुकूल परिणामों की प्राप्ति होगी। यहां पर आपको अपनी कृति के लिए सृजनात्मक कार्यों के लिए सराहा जा सकता है और आपको सम्मानित भी किया जा सकता है। वहीं इस समय संतान से मिसअंडरस्टैंडिंग भी हो सकती है क्योंकि केतु बैठे आपके करियर के स्थान में वो करियर को थोड़ा सा वेट कर सकते हैं। इस समय जॉब छूटने के और नई जॉब लगने के चांसेस हैं, परंतु आप जॉब परिवर्तित तो करेंगे पर पहले से बेटर जॉब ही आपको मिलेगी। इसीलिए आपको टेंशन करने की आवश्यकता बिल्कुल भी नहीं है तो पंचम भाव के हिसाब से शुक्र के रिजल्ट आपको बहुत ही अच्छे मिलेंगे।

अब द्वादस स्थान की बात करते है जो की है खर्च का स्थान यहां पर खर्च के स्थान में आधे माह में सूर्य जाकर बैठेंगे जो कि खर्चों को चलाएंगे क्योंकि सूर्य जहां बैठते हैं उस घर को थोड़ा सा चलाते हैं। इसीलिए यहां पर खर्चों में कमी आएगी और खर्च भाव का स्वामी अपने से एक घर आगे जाकर बैठा है। इसीलिए अनर्गल खर्च से आप बच जाएंगे। जो भी कार्य आप करेंगे, सोच समझ कर करेंगे जिससे आप अपने खर्चों को बैलेंस कर सकें। इस समय आपके सहकर्मियों के साथ वर्क प्लेस पर भी तालमेल अच्छा रहेगा। अधिकारियों के साथ में एक मृदु व्यवहार के साथ आप उनकी आज्ञा में रहेंगे तो निश्चित रूप से प्रमोशन और इन्क्रीमेंट के योग बनते हुए दिखाई। बचत योजनाओं में इनवेस्टमेंट आपके लिए लाभकारी रहेगा। मिथुन राशि मई 2023 राशिफल in Hindi

अब आते है आपके सिक्स हाउस पर यानि आपके सिक्स हाउस के लॉर्ड मंगल जो कि महीने के प्रारंभ में ही राशि परिवर्तन कर आपके द्वितीय भाव में जाकर विराजमान हो जाएंगे। अब तक आपकी राशि में बैठे थे और अब वे आपके द्वितीय भाव में नीच के होकर विराजमान होंगे। 10 मई को मंगल का ये जो राशि परिवर्तन है ये आपके लिए कुछ विशेष परिवर्तन लेकर आएगा। जीवन में कुछ उतार चढ़ाव जैसी स्थितियां देखने को मिलेगी। हालाँकि यहाँ पर रोग भाव के स्वामी हैं मंगल और मंगल अगर नीच की ओर है तो निश्चित रूप से स्वास्थ संबंधी समस्याओं में आपको रिलैक्सेशन मिलेगा। इस समय रुपए पैसे से सम्बंधित मिसमैनेजमेंट के काम भी आपके अब मैनेज होते हुए दिखाई देंगे। उन कार्यों में आप बहुत केयरफुल होकर अपने जीवन में आगे बढ़ने का प्रयास करेंगे। यात्रा आपके लिए सुखद और मंगलमय रहेगी। इस समय भ्रम की स्थितियों से बाहर निकलेंगे। आप का विज़न एक एकदम क्लियर होगा और आप अपने लक्ष्य की तरफ अग्रसर भी दिखाई देंगे। इन बहुत फोकस नजर आएंगे। इससे प्रतिद्वंदी भी किसी भी प्रकार के व्यवधान आपके कार्यों में डालने में असफल रहेंगे तो निश्चित रूप से मंगल के अच्छे परिणाम आपको रोग भाव के हिसाब से देखने को मिलेंगे। परंतु यहां पर मंगल रोग भाव के साथ साथ आपके लाभ भाव के स्वामी हैं और लाभ भाव के स्वामी अपने से चतुर्थ लेकिन नीच के होकर बैठे हैं। इसीलिए लाभ की स्थितियां प्रवेश कर सकती हैं। थोड़ा सा केयरफुल होकर आपको अपने जीवन में आगे बढ़ने की आवश्यकता है। अति कोई भी कार्य में आपको लापरवाही करने से नुकसान की स्थितियां देखने को मिल सकती हैं। इसीलिए अपने कार्यों को खुद खड़े रहकर पूर्ण करें। जरूरत से ज्यादा किसी पर भरोसा भी ना करें और अपने आत्मबल के भरोसे आगे बढ़ें। इस समय संगति करते समय भी सोच समझकर आपको संगति करनी होगी। गलत संगति से आप पथभ्रष्ट हो सकते हैं। भ्रमित हो सकते हैं। इसीलिए मित्र बनाने से पहले उन मित्रों पर विचार करके ही आगे बढ़ें तो थोड़ा सा बदलेंगे तो लाभ की स्थितियां भी आपके लिए बेहतर रहेगी। पर केयरफुल होकर ही चलना पड़ेगा।

अब बढ़ते आगे और जान लेते हैं सप्तम भाव के बारे में सप्तम भाव के स्वामी हैं। गुरु जो कि यहां पर आपके सुख स्थान के स्वामी हैं और जाकर बैठे हैं। लाभ भाव में शनि की दृष्टि का शिकार हो रहा है और राहू के साथ गुरु का चांडाल योग भी बन रहा है। इसीलिए ये समय आपके कर्म और सप्तम दोनों भावों के हिसाब से इतना अच्छा नहीं रहेगा। हालांकि आपके सप्तम भाव के स्वामी अपने से पंचम जाकर बैठेंगे परन्तु इन परिस्थितियों में गुरु के जैसे ही रिजल्ट आपको मिलने चाहिए वैसे नहीं मिलेंगे यानि मेहनत आप करेंगे क्रेडिट कोई और ले जायेगा और ये कतई कोई भी इंसान नहीं चाहता कि मेहनत मैं करूं और क्रेडिट कोई और ले जाए। इसीलिए मेहनत करते चले जाइये। फल के साथ आप थोडा सा अवेयर होके आगे बढ़िए। अपने अधिकारियों से थोड़ी सी तालमेल बनाकर चलें। व्यापार करना है तो व्यापार में फूंक फूंक कर कदम रखें। कोई भी एक गलत कदम आपके नुकसान की स्थितियों को बढ़ा सकता है। इस समय आपकी खोई हुई वस्तु आपको पुनः प्राप्त हो जाएगी जिससे आपके मन में प्रसन्नता के भाव उत्पन्न होंगे। वहीं दाम्पत्य जीवन में उतार चढ़ाव की स्थितियां चलती रहेंगी। घर के झगड़ो से या फिर आपसी मतभेदों से आप थोड़े से परेशान नजर आयेंगे। परन्तु विवेक और बुद्धि का इस्तमाल कर आप इन परिस्थितियों पर काबू पाने में सफल होते हुए दिखाई देंगे। वहीं वर्क प्लेस पर अधिकारियों का साथ और सहयोग आपको भरपूर मिलेगा। परिणाम आपको अपने लिए सकारात्मक मिलेंगे। छात्रों का पढ़ाई में मन में मन लगेगा और लक्ष्य की प्राप्ति के लिए आप अग्रसर रहेंगे। तो ये हैं गुरु के रिजल्ट। मिथुन राशि मई 2023 राशिफल in Hindi

अब आते हैं आपके अष्टम भाव पर जो कि आपके नवम भाव के स्वामी हैं वो हैं शनि और नवम भाव में स्वग्रही होकर बैठे हैं। लेकिन शनि जहां बैठते हैं उस घर को बढ़ाते हैं और वैसे भी अभी तो शनि अपनी मूल त्रिकोण की राशि यानि अपने ही घर में बैठे हैं। इसीलिए भाग्य स्थान के हिसाब से शानदार परिणाम आपको मिलेगा। अष्टमेश भी अपने से एक ग्रह के इसलिए रूटीन में जो परेशानियां आपको देखने को मिल रही थी, अब उनसे आपको छुटकारा मिल जाएगा। आकस्मिक लाभ की भी परिस्थितियां आपको अपने जीवन में देखने को मिलेगी। मित्रों का साथ और सहयोग भरपूर मिलेगा। यात्राएँ आपके लिए सुखद और मंगलमय रहेंगी। इस समय परिवार के साथ कोई धार्मिक यात्रा भी आपकी प्लैन हो सकती है। वहीं सामाजिक कार्यक्रमों में आपकी भागीदारी बढ़ेगी। अजनबी लोगों को सहायता प्रदान करना या फिर मानव सेवा, जन कल्याण जैसे कार्यों से सफलता। न होना। ऐसे कार्यों से आपके मान सम्मान और प्रसिद्धि में प्रतिष्ठा में वृद्धि होगी। तो ये था मिथुन राशि वालो का मई माह का मासिक राशिफल। मिथुन राशि मई 2023 राशिफल in Hindi

शुभ तरीखे :- 3 तारीख,  8 से 12 तारीख, 16 से 18 तारीख, 21 तारीख, 22 तारीख, 27 और 29 तारीख

अशुभ तारीखे :- 1 तारीख, 2 तारीख, 4 तारीख, 7 तारीख, 13 तारीख, 15 तारीख, 19 तारीख, 20 तारीख, 23 से 26 तारीख, 30 और 31तारीख |

शुभ रंग :-  नीला, भूरा, जामुनी, बैंगनी

उपाय

  • गजेंद्र मोक्ष का आपको पाठ करना चाहिए।
  • प्रतिदिन अपने घर में भोजन से भोजन करते समय पहली रोटी गो माता के लिए जरुर निकालें।
  • घर के दक्षिण पूर्व कोने में एक चावल के दाने का एक घंटा तक दीपक जलाये रखें और ॐ गं गणपतये नम मंत्र का जाप आपको जरुर करना चाहिए
  • लाल चीजो का दान जरूर करें क्योंकि मंगल नीच के है

Note: Daily, Weekly, Monthly and Annual Horoscope is being provided by Pandit N.M.Shrimali Ji, almost free. To know daily, weekly, monthly and annual horoscopes and end your problems related to your life click on (Kundali Vishleshan) or contact Pandit NM Shrimali  Whatsapp No. 9929391753, E-Mail- [email protected]
Connect with us at Social Network:-

Contact : +918955658362 | Email: [email protected] | Click below on Book Now
Subscribe on YouTube – Nidhi Shrimali

Related Posts