Astro Gyaan, Astro Gyaan|Astrology Tips|Featured, VIDEOS

मकर राशि जनवरी 2023 राशिफल in hindi | Capricorn Horoscope 2023 | Nidhi Shrimali |

makar rashifal january 2023

मकर राशि जनवरी 2023 राशिफल

ये नया साल आपके लिए उन्नतिदायक है। सभी तरक्की और उन्नति के रास्ते आप अपने जीवन में तय करें। शुभ आपके जीवन में हो यही हम मंगल कामना आप सभी के लिए करते हैं और लेकर आये हैं। नए साल की प्रथम माह यानि जनवरी माह का मकर राशि वालो का मासिक राशिफल | मकर राशि वालो के लिए साल का ये प्रथम माह कैसा रहने वाला है। सबसे पहले तो जान लेते हैं। इस माह में आने वाले कुछ विशेष पर्वों के बारे में तो 1 जनवरी को नववर्ष प्रारंभ हो जाएगा। 12 जनवरी को स्वामी विवेकानंद जयंती मनाई जाएगी। 14 जनवरी को लोहड़ी या मकर सक्रांति इन दोनों का पर्व एक साथ धूमधाम से मनाया जाएगा। 21 जनवरी को मौनी अमावस्या आ रही है और 26 जनवरी को गणतंत्र दिवस और बसंत पंचमी का पर्व साथ में धूम धाम से मनाया जाएगा।

अब जान लेते हैं कि साल के प्रथम माह में ग्रहों की स्थिति कैसी रहेगी तो सबसे पहले बात करते हैं सूर्य ग्रह की जो कि वर्तमान में अपनी अति मित्र राशि धनु में विराजमान हैं और 14 जनवरी को वे अपनी सम राशि मकर में प्रवेश कर जाएंगे और यहां सूर्य उत्तरायण होते हुए दिखाई देंगे। मकर सक्रांति का पर्व इस दिन मनाया जाएगा। बुध ग्रह इस पूरे माह अपनी मित्र राशि धनु में विराजमान रहेंगे। वहीं मंगल ग्रह वक्री अवस्था में अपनी राशि शत्रु राशि वृषभ में इस पूरे माह विराजमान रहने वाले हैं। गुरू अपनी ही राशि मीन में इस पूरे माह विराजमान रहेंगे। वहीं शुक्र ग्रह की बात करें तो वे वर्तमान में अपनी सम राशि मकर में विराजमान हैं और 22 जनवरी को वे अपनी सम राशि कुम्भ में प्रवेश कर जाएंगे। शनि ग्रह की अगर बात करें तो वे वर्तमान में स्वग्रही अवस्था में अपनी राशि मकर में विराजमान हैं और इस माह में यानि 17 जनवरी को वे अपनी मूल त्रिकोण की राशि कुम्भ में स्वग्रही होकर विराजमान होने वाले हैं। शनि का ये जो राशि परिवर्तन इस साल का सबसे बड़ा राशि परिवर्तन कहलाएगा | राहू इस पूरे माह अपनी सम राशि मेष में विराजमान रहेंगे और केतु इस पूरे माह अपनी राशि तुला में विराजमान रहने वाले हैं। तो ये हैं इस माह की ग्रह गोचर की स्थिति का हाल। अब जान लेते हैं कि इन ग्रहों की स्थितियों का। इस साल के सबसे बड़े राशि परिवर्तन का क्या इम्पैक्ट आपके इस माह पर पड़ने वाला है तो शुरू करते हैं मकर राशि वालो का जनवरी माह का मासिक राशिफल राशिफल | 

सबसे पहले आपके राशि स्वामी की ही बात कर लेते हैं जो कि शनि जो कि लग्न के अन्दर स्वगृही होकर शश नामक महापुरुष योग बना रहे हैं और ये समय आपके लिए बहुत शानदार परिस्थितियां उत्पन्न कर आपकी पर्सनालिटी इतनी सजग मेहनती और पावरफुल है कि हर व्यक्ति आपसे सलाह ले कर अपने कार्यों को करने का प्रयास करता है। कई लोगों के लिए आप आइडियल हैं। समाज में आपका एक अलग स्थान और वर्चस्व है। कोई गलत कार्य को ना तो आप बढ़ावा देते हैं न गलत कार्य करने देते हैं ना गलत कार्य करते हैं नहीं। आपको किसी भी व्यक्ति के साथ गलत होते देख सकते हैं। ऐसी पर्सनैलिटी के कारण आपकी पर्सनालिटी सबको भाती है। साथ ही आपके दुश्मन भी बहुत अधिक हो जाते हैं क्यूंकि ये माह आपके लिए आपके दुश्मनों को भी न्योता दे सकता है क्योंकि व्यक्ति की जब से पावर बढती है उसके शत्रुओं की संख्या भी बढ़ती चलती चली जाती है क्योंकि जलने वालो की संख्या अधिक हो जाती है।

अब शनि 17 जनवरी तक आपके सामाजिक मान सम्मान कीर्ति में वृद्धि करेंगे और यहां पर आपको बहुत अच्छे रिजल्ट सामाजिक तौर पर आर्थिक तौर पर और व्यावसायिक तौर पर देखने को मिलेंगे। जब शनि 17 जनवरी को राशि परिवर्तन करते हुए आपके द्वितीय भाव में आकर बैठेंगे तो भी लग्नेश अपने से लेकर आगे जाकर बैठेंगे और उस समय भी शनि के रिजल्ट आपको बहुत ही शानदार और बेहतरीन देखने को मिलेंगे। यहाँ पर शनि आपके मान सम्मान को और अधिक बढ़ाएगा आपकी सत्य निष्ठता को और अधिक बढ़ाएगा। मेहनत के दम पर आप अपने जीवन में बड़े बड़े अचीवमेंट करते हुए दिखाई देंगे। कुछ बड़ा कार्य आपके द्वारा सम्पन्न किया जा सकता है जो कि आपकी कीर्ति और यश में वृद्धि करेगा।

अब शनि चूंकि द्वितीय भाव के स्वामी हैं तो धनेश के हिसाब से भी शनि के रिजल्ट इस माह बहुत अच्छे मिलेंगे क्योंकि धनेश अपने से बाहरवे परन्तु अपनी राशि में शश नामक महापुरुष योग बनाते हुए विराजमान हैं तो इस समय धन की किसी भी प्रकार से कमी नहीं रहेगी। रोजमर्रा के लाभ में निरंतर वृद्धि होती चली जाएगी। भाई बहन, बुजुर्गों का साथ और सहयोग आपको भरपूर देखने को मिलेगा। 17 जनवरी के बाद आपके पैतृक संपत्ति संबंधी कोई विवाद है तो उसका निपटारा हो जायेगा। कोर्ट केस कोई चल रहे हैं तो उस। आप के पक्ष में जाएगा। कोई व्यक्ति अगर आपको झूठे आरोपों में फंसाया गया है तो आपके ऊपर से वो झूठे आरोप खत्म हो जाएंगे और आपको क्लीन चिट उसमें मिलती हुई दिखाई देगी। वर्कप्लेस पर अधिकारियों के द्वारा आपके कार्यों को सराहा जाएगा। प्रमोशन के पूर्ण योग इस समय बन रहे हैं तो ये समय शनि के रिजल्ट आपको धनेश और लग्नेश दोनों के हिसाब से बहुत ही बेहतरीन देता हुआ दिखाई देगा।

अब आते हैं आपके तृतीय भाव पर | जो कि पराक्रम का भाव और पराक्रम स्थान के स्वामी हैं। गुरू जो कि आपके द्वादश स्थान के भी स्वामी हैं। अब पराक्रमेश अपने ही घर में स्वग्रही होकर बैठा है तो पराक्रम में निरंतर वृद्धि तो होगी। सामाजिक मान सम्मान में भी बढोतरी होगी। परन्तु इस समय यदि कोई कलाकार अपनी कला के क्षेत्र में स्ट्रगल अब तक रहे थे तो उनको इस स्ट्रगल से मुक्ति मिल जाएगी।

कला के क्षेत्र में आप अच्छी उन्नति और नाम कमाते हुए दिखाई देंगे। वही इस समय आप कला जगत में धूम मचाते हुए भी दिखाई देंगे। सांस्कृतिक कार्यक्रमों में आपकी रूचि बढेगी। हॉबी से आप अच्छी प्रसिद्धी हासिल करेंगे। सोशल मीडिया पर आपके वीडियो वायरल हो सकते हैं। इस समय भाई मित्रों का साथ और संयोग भी आपको भरपूर देखने को मिलेगा। वहीं राजनीति में आपका वर्चस्व और पकड़ बढ़ती हुई दिखाई देगी और सामाजिक दायरा आपका बढ़ेगा |

अब गुरू चूंकि आपके फोर्थ हाउस के लार्ड हैं और अपने से चतुर्थ में जाकर बैठे हैं तो आपको फाइनेंशियली सिक्योर रखेंगे। सूर्य और बुध का बुधादित्य योग भी आपके खर्च भाव में बन रहा है। हालाँकि खर्चों की बढोत्तरी जरुर होगी परन्तु इस योग के कारण आपको आमदनी भी उतनी ही होती हुई दिखाई देगी। इस वजह से आपको आमदनी, अठन्नी और खर्चा रुपैया वाली स्थिति से नहीं गुजरना पड़ेगा। इस समय विदेशी कंपनियों के साथ आपका कोलेबरेशन हो सकता है जो छात्र छात्राएं बाहर जाकर स्टडी करना चाहते हैं, उनके लिए ये समय सुअवसर पैदा करेगा। इस समय आपके कार्यों को सराहा जाएगा। नौकरी में भी आपके सहकर्मी आपके कार्यों में आपका सहयोग करेंगे। अधिकारी आपके कार्यों की प्रशंसा करेंगे और बचत की योजनाओं से आपको अच्छा खासा लाभ इस समय प्राप्त होता हुआ दिखाई देगा तो गुरू के बेहतरीन रिजल्ट दोनों स्थान पराक्रम और खर्च दोनों ही स्थानों के हिसाब से बहुत ही अच्छे देखने को मिलेंगे।

अब आते हैं आपके सुख स्थान पर और सुख स्थान के स्वामी हैं। मंगल जो कि आपके अपने स्थान से एक घर आगे जाकर बैठे हैं। पंचम भाव में मंगल का बैठना अपनी से एक घर आगे जाकर आप के सुखों में वृद्धि करेगा। इस समय भूमि संबंधी विवादों से मुक्ति मिल जाएगी और इस समय आपके वाहन नए वाहन का सपना पूर्ण होता हुआ दिखाई देगा। परन्तु यहां पर भाग्यस्थान  में राहु भी बैठे हैं जो कि कहीं न कहीं से कुछ सुखों को प्रभावित कर सकता है, प्रतिशत दे सकता है। इसीलिए आपको थोड़ा सा सावधान और सतर्क होकर चलना पड़ेगा। लेकिन कोई भी सौदा या कोई प्रॉपटी से संबंधित लेन देन करने जा रहे हैं तो पहले उन पेपर्स को पढ़ें उस आगे वाली पार्टी के बारे में पूरी जानकारी लें। उसके बाद ही साइन करें वरना आपके साथ धोखा भी हो सकता है। इस समय जल्दबाजी में लिया गया निर्णय आपको नुकसान में ला सकता है। इस समय आप गलत निर्णय से बचें और मां से वाद विवाद की स्थितियां भी इसपर स्तुतियों से भी आपको बचना चाहिए क्योंकि उनसे अगर वाद विवाद की स्थितियां होती हैं तो आपके लिए ये अच्छा नहीं है। हर तरीके से आप टेंशन में रहेंगे और इसका असर आपके वर्क पर भी पड़ेगा। इसीलिए इस समय आपको बहुत संभलकर रहना है। कोई भी ऐसी बात मुँह से ना निकालें जिससे आपके अपनों का मन आहत हो जाए। इसीलिए राहू आज सुखों में बैठकर सुखों में प्रदूषण ला रहा है। इसीलिए ऐसे सुखों से सुखों में आप को थोड़ा सा सावधानी से आगे बढ़ेंगे जिसे बजट देख कर चलें। आप कोई भी ऐसा ओवर बजट जाकर काम ना करें। अपने घर में कोई लग्जीरियस आइटम लेकर आ रहे और बजट जाकर तो ये कार्य आपके लिए ठीक नहीं है। इसीलिए कोशिश करें कि आप ऐसे कार्यों से बचे रहें तो राहु का बहुत ही बेहतरीन रिजल्ट आपको इस माह देखने को मिलेंगे और राहू आपके सुखों में किसी भी प्रकार के फ्लक्चुएशन नहीं ला पाएंगे।

अब मंगल सुखेश होने के साथ साथ आपके लाभेश और लाभ भाव का स्वामी अपने से सप्तम बैठकर अपने ही घर को देख रहा है तो लाभ में भी उत्तरोत्तर उन्नति आप करते हुए दिखाई देंगे। खासकर जो लोहे के व्यापारी हैं जो जमीन से संबंधित और रासायनिक पदार्थों से सम्बंधित कार्य करते हैं। माइनिंग का कार्य अगर आप करते हैं या फिर कोई बड़े मैन्युफैक्चरर हैं तो निश्चित रूप से ये समय बहुत ही अच्छे और उत्तम परिणाम आपको दिलवाएगा। कुछ बड़े ऑर्डर आपको इस समय प्राप्त होते हुए दिखाई देंगे। कुछ यात्राएं आपकी संपन्न हो सकती हैं परन्तु वो यात्रायें आपके लिए सुखद और मंगलमय रहेगी। बड़े भाई बहनों का साथ और सहयोग आपको भरपूर देखने को मिलेगा। सामाजिक मान सम्मान में बढोतरी होगी। सर्कल आपका बढता हुआ दिखाई देगा। साथ ही आपका लेवल भी बढ़ता हुआ दिखाई देगा। इस समय सोचे समझे कार्य तय समय पर पूर्ण हो जाएंगे और नई योजनाओं का आपको क्रियान्वयन भी कर पाएंगे। तो शानदार रिजल्ट आपको इस मंगल के देखने को मिलेंगे।

अब आते हैं पंचम भाव पर। पंचम भाव के स्वामी हैं शुक्र जो कि आपकी कुण्डली के अन्दर योग कारक ग्रह है क्योंकि पंचमेश भी है और कर्मेश भी है और शुक्र आपके लग्न में जाकर बैठा है। पंचमेश का अपने से नवम जाकर बैठना आपके उन्नति में सहायक साबित होगा। आपके कार्यो को द्रुत गति से पूर्ण करने में शुक्र आपकी पूर्णतया मदद करेंगे जो कला के क्षेत्र से जुड़े हैं, उनकी प्रसिद्धि में चारचांद लगेंगे। वहीं जो कला वर्ग के छात्र हैं उनको मनचाही सफलता इस महीने प्राप्त होती हुई दिखाई देगी। कलाकारों के लिए ये समय कला में उन्नति और प्रगति दायक रहेगा जो फिल्म उद्योग से जुड़े हैं, उनके लिए ये समय बहुत ही शानदार और उत्तम परिणामों को आपके जीवन में लेकर आएगा। वहीं जो छात्र ऐसे कुछ फोटोग्राफी या सिनेमेटोग्राफी या एनिमेशन से संबंधित पढ़ाई कर रहे हैं, उनको भी अपने जीवन में अच्छी सफलता इस क्षेत्र में देखने को मिलेगी। आप लक्ष्य प्रधान कार्य करें। आपको अपने आप अपने लक्ष्य की प्राप्ति जरुर होगी। इस समय संतान से संबंधित शुभ समाचारों की प्राप्ति होगी। खेल कूद में खिलाडिय़ों को पदक और मेडल मिल सकते हैं और आपका प्रदर्शन बहुत ही अच्छा और सराहनीय रहेगा। इस समय साहित्य जगत से जुड़े हुए लोगों को मान सम्मान की भी प्राप्ति होगी।

अब शुक्र चूंकि आपके टेंथ हाउस के भी लार्ड हैं तो उसके हिसाब से भी शुक्र के रिजल्ट बहुत ही अच्छे देखने को मिलेंगे। हालांकि केतु या दशम भाव में बैठकर काम में अपने बॉस के साथ अधिकारियों के साथ में मिसअंडरस्टैंडिंग क्रिएट कर रहें। परन्तु इस समय आपको सोच समझ कर अपने कार्यों को करना है। आप हर कार्य अपने अधिकारियों के विश्वास में लेकर करें ताकि किसी भी प्रकार की मिसअंडरस्टैंडिंग का कोई भी स्थान न रहे जो कि चूंकि आपके विरोधी आपके कार्यों के कार्यों से आपकी प्रगति से जलते हुए आपके अधिकारियों के कान भर सकते हैं।

इसीलिए थोड़ा सा सावधानी के साथ अपने कर्मपथ पर आगे बढ़ने का प्रयास करें। शुक्र 22 जनवरी को जब आपके कर्म भाव से पंचम जाकर बैठेंगे तब शुक्र के रिजल्ट और भी अच्छे और बेहतरीन देखने को मिलेंगे। होटल मैनेजमेंट से संबंधित जो स्टूडेंट्स पढ़ाई कर रहे हैं, उनको अपने क्षेत्रों में अच्छी सफलता प्राप्त होगी। प्लेसमेंट आपको इस समय मिल जाएगा। इनकम की प्राप्ति बहुत अच्छी होती हुई दिखाई देगी। वही यदि आप शुक्र से रिलेटेड कोई भी काम करना चाहते हैं जैसे कपड़ों का व्यवसाय करना चाहते हैं। जूलरी का व्यवसाय करना चाहते हैं। जूलरी का व्यवसाय करना चाहते हैं। फैशन डिजाइनिंग का काम करना चाहते हैं। इंटीरियर डेकोरेशन का काम करना चाहते हैं। अपने सुगन्धित पदार्थों से संबंधित कोई भी काम करना चाहते हैं तो निश्चित रूप से ये समय आपके लिए बहुत ही सपोर्टिव रहेगा। परंतु आपको किसी के बहकावे में नहीं आना है। पार्टनरशिप में काम नहीं करना है। अपना खुद का स्वतंत्र रूप से कार्य करें तभी आपको अच्छी सफलता प्राप्त होगी वरना कार्य में कई प्रकार की बाधाएं भी उत्पन्न हो सकती क्योंकि केतु या तो उसमें बैठे हैं जो कि मिसअंडरस्टैंडिंग क्रिएट करते हैं। अपने पिता से दूर जाकर ही आप सफलता प्राप्त कर सकते हैं। इसीलिए अपने पिता से थोड़ा सा दूर रहकर दूर जाकर आप कोई प्रोफेशन चूज करें तभी आप अच्छी सक्सेस हासिल करेंगे।

अब बात करते हैं आपके लाभ भाव कि | लाभ भाव के स्वामी हैं। बुध जो कि आपके वेल्थ हाउस में जाकर विराजमान हैं। खर्च भाव में बुध के रिजल्ट अच्छे नहीं मिलते। बस बुध अपने ही घर को यानि रोग भाव को देख रहे हैं। तो इस समय अगर आपको कोई भी नर्वस सिस्टम संबंधी कोई प्रॉब्लम है, नसों में अकड़न हो जाती है। मांसपेशियों से संबंधित कोई प्रॉब्लम होती है या फिर बाल झड़ने की कोई प्रॉब्लम है या यात्रा से संबंधित कोई प्रॉब्लम है तो निश्चित रूप से उस आपको बहुत ही बड़ा आराम देखने को मिलेगा। इस समय शत्रु आपके कार्यों में व्यवधान डालने का प्रयास तो करेंगे पर आप अपनी बुद्धि बल और चातुर्य से अपने शत्रुओं को परास्त करते हुए दिखाई देंगे। इस समय ननिहाल से भी आपको बहुत अच्छी सहायता और मदद मिलने की पूर्ण संभावना बनी हुई है। रुपए पैसे से संबंधित कार्यों में थोड़ी सी सजगता बनायें रखें। ऐसे कार्यों में जल्दबाजी बिल्कुल भी ना करें न किसी से उधार ले और ना ही किसी को उधार दें। बस इन बातों का ध्यान रखेंगे तो रोग भाव के हिसाब से भी बुध के रिजल्ट बहुत अच्छे आपको देखने को मिलेगा। चूंकि लोग भाव के स्थान के स्वामी होने के साथ साथ आपके भाग्येश भी है और भाग्य स्थान के स्वामी अपनी चतुर्थ जाकर बैठे आपके भाग्य को प्रबल कर रहा है। विदेशों से अच्छा लाभ प्राप्त होगा। विदेश यात्रा के पूरे योग बनेंगे। काम के सिलसिले में बाहर जाना पड़ सकता है।

इस समय आपको अपने मित्रों का साथ और सानिध्य प्राप्त होगा। सामाजिक कार्यक्रमों में आपकी भागीदारी बढ़ेगी। वहीं धार धर्म कर्म के कार्यों में आपकी रुचि बढ़ेगी। यदि आपको धर्म गुरु है तो इस समय आपकी प्रसिद्धी चरम पर रहेगी। इस समय आपके अधूरे पड़े हुए कार्य द्रुत गति से पूरे होंगे और नए कार्य की शुरुआत भी आप करते हुए दिखाई देंगे। परंतु ये कार्य आपको योजनाबद्ध तरीके से करना है। इसीलिए आपको जल्दबाजी में कार्य नहीं करें। फंड की व्यवस्था आपको अपने कार्यों में हो जाएगी और निश्चित रूप से आप आने वाले समय में अपने कार्यों में अच्छी उन्नति और प्रगति प्राप्त करते हुए दिखाई देंगे तो बुध के रिजल्ट आपको बहुत ही अच्छे देखने को मिले।

अब बात करते हैं सप्तम भाव की। सप्तम भाव के स्वामी हैं चन्द्रमा जो कि हर ढाई दिन में प्रकट होते रहते हैं तो पूरे महीने चलता रहेगा। परन्तु छोटी मोटी नोकझोंक के अलावा आपको दांपत्य जीवन का भरपूर सुख प्राप्त होगा। जीवनसाथी के साथ संबंध और अधिक प्रगाढ़ और मजबूत होते हुए दिखाई देंगे। हालाँकि व्यापारी वर्ग को उतार चढ़ाव की स्थितियों का सामना करना पड़ सकता है। परन्तु यह समय ओर आपके बड़े नुकसान की छुट्टियों को आपके जीवन में नहीं लेकर आएगा। फाइनेंशियली आप अपने आपको सिक्योर महसूस करेंगे। काम को सोच समझकर करें। कहीं पर भी इन्वेस्टमेंट करना है तो सजग होकर करें। जल्दबाजी में कोई भी निर्णय ना लें और अपने अधिकारियों को अपने सहकर्मियों को अपने स्टाफ को साथ में और विश्वास में लेकर अपने कार्य को करने का प्रयास करें। जरूरत से ज्यादा किसी भी अजनबी व्यक्ति पर आपको भरोसा इस समय नहीं करना चाहिए।

अब आते हैं आपके अष्टम भाव पर | अष्टम भाव की अगर बात करें तो अष्टमेश हैं सूर्य, जो कि अपने से पंचम जाकर बैठ गया। इससे पंचम और द्वादश स्थान में जाकर बैठना आपकी रोज़मर्रा की रूटीन की लाइफ में जो भी गड़बड़ियां चल रही है उनको खत्म कर देगा। अब लाइफ एक्सेंट चलती हुई दिखाई देगी। आप का मैनेजमेंट बहुत ही अच्छा रहेगा। गुप्त शत्रु समाप्त हो जाएंगे। आपकी डिसीजन मेकिंग बहुत बार पूरी हो जाएगी। इस समय जानवरों से आप थोडा सा सावधान परन्तु 14 जनवरी के बाद सूर्य राशि परिवर्तन करते हुए आप के लग्न में जाकर विराजमान होंगे और यहां पर सूर्य के रिजल्ट आपको थोड़े से मिक्स मिल सकते हैं। यानी थोडा सा अवेयर रहना जानवरों से सावधान रहें। अपनी गोपनीय दस्तावेजों को सुरक्षित स्थान पर रखें। किसी को भी अपनी गोपनीय बातों को लीक करने का प्रयास न करें। इस समय आपको बहुत प्रैक्टिकल होकर और बहुत दृढ़ होकर अपने जीवन में आगे बढना पड़ेगा। तभी आप सफलता के कदम चूम पाएंगे और सफलता को अर्जित कर पाएंगे। इस समय आपको पग पग पर सावधान होकर चलने की आवश्यकता है। अब ये तो था मकर राशि वालो का जनवरी माह का मासिक राशिफल।

शुभ तिथियां – 1, 3, 5, 6, 9, 10 से 12, 15 18, 23, 29 और 30 |

अशुभ तिथियों – 2, 4, 7, 8, 13, 16, 17, 20,22, 25 से 28 और 31 |

शुभ रंग – मैरून, पीला और हरा |

उपाय

  • शनिवार के दिन आपको छाया दान जरूर करनी चाहिए।
  • प्रत्येक शनिवार पीपल के पेड़ के नीचे जल में तिल डालकर जरूर सींचे।
  • शाम को पीपल के पेड़ में सरसों के तेल का दीपक जरूर लगाएं।
  • शनिवार को लोहे की वस्तुओं का दान जरूर करें और प्रतिदिन 10 मिनट ॐ मंत्र का जाप जरूर करें।

Contact : +918955658362 | Email: [email protected] | Click below on Book Now
Subscribe on YouTube – Nidhi Shrimali

Back to list