Home About Us Products Services Magzine Rashiphal Contact us Our Blogs FAQ MyCart
Astro Guru

गुरुर्ब्रह्मा गुरुर्विष्णु, गुरुर्देवो महेश्वरः
गुरु: साक्षात्परब्रह्मः तस्मे श्री गुरुवे नमः

गुरु ही ब्रह्मा, विष्णु, और शिव के समान है, तीन लोकों में गुरु के समान अन्य कुछ भी नहीं है |
 
सरल उपाए    हनुमान जयंती    वैशाख मॉस का महत्त्व    योग व कूटनीति का सूत्रधार- राहू    मोक्ष देता है-- केतु   शक्ति का प्रतिक है ---मंगल   व्यापार का स्वामी बुध   मन का प्रतीक--- चंद्रमा   महत्वपूर्ण जानकारिया   सूर्य उपासना से सफलता    प्रेम विवाह के योग   उपयोगी जानकारिया   वास्तु में दिशाओ का महत्त्व    राहू कराता है मादक पदार्थो का सेवन   आराध्य देव की उपासना    आत्माकारक संसार पालक सूर्य   शिव और शैवागम    वैभव लाता है बिल्ब पत्र   महाशिवरात्रि पर्व     भगवान् परशुराम    ॐ का महत्त्व   शिव गायत्री मंत्र   महा मृत्युंजय यन्त्र   ग्यारह मुखी रूद्राक्ष   दस मुखी रुद्राक्ष   नौ मुखी रूद्राक्ष   आठ मुखी रुद्राक्ष    सात मुखी रुद्राक्ष    छह मुखी रूद्राक्ष    चार मुखी रूद्राक्ष   तीन मुखी रुद्राक्ष    दो मुखी रुद्राक्ष   एक मुखी रूद्राक्ष    पारद शिवलिंग   दक्षिणावर्ती शंख    बारह मुखी रुद्राक्ष   रक्षाबंधन   पारद गणपति   शिव यन्त्र कवच   स्फटिक श्रीयंत्र   लक्ष्मी चरण पादुका   एकाक्षी नारियल    कनकधारा यंत्र     गोमती चक्र     कमलगट्टे की माला    हकीक पत्थर   कात्यायनी यंत्र    मांगलिक कार्यो का उचित समय   श्री बगुलामुखी यंत्र    मांगलिक दोष निवारण   संतान गोपाल यंत्र   बुधग्रह दोष एवम निवारण   श्वेतार्क गणपति    सम्पूर्ण विद्या प्रदायक यन्त्र   सम्पूर्ण नवग्रह यंत्र   बुध यन्त्र   सम्पूर्ण काल सर्प दोष निवारण यन्त्र   उपयोगी जानकारिया   उपयोगी जानकारिया ( पेज न.2)   उपयोगी जानकारिया ( पेज न.3)   सोमवती अमावस्या    मौनी अमावस्या   ऋणमुक्ति यंत्र   सम्पूर्ण वास्तु दोष निवारण यन्त्र   शनि यन्त्र   शुक्र यन्त्र   राशि से संवारे अपना कॅरियर    माला और उसके प्रकार   सियार सिंगी एवं हत्था जोड़ी   लोक देवता बाबा रामदेव   वास्तु दोष निवारण यन्त्र   तुलसी के पौधे   Navgarha Pooja   नवरत्न माला   पारद लक्ष्मी गणेश   श्रावण मास   कात्यायनी माता पूजा   शुक्र गृह दोष निवारण पूजा   शनि दोष निवारण पूजा    राहु दोष निवारण पूजा   पितृ दोष निवारण पूजा    मरगज गणेश   स्वस्तिक पिरामिड    पारद हनुमान   मोती शंख    श्री सुक्त पूजा   वास्तु शांति पूजा   कालसर्प योग   भोजपत्र निर्मित ग्रहण दोष निवारण यन्त्र   अक्षय तृतीया का इसलिए है बड़ा महत्व---------   घर परिवार और वृक्ष :-    रंगो कि होली   होली पर की जाने वाली साधनाए    पारद श्री यंत्र   ब्लैक वैजन्ती माला    Laxmi Prapti Yantra    महा सुदर्शन यंत्र    महा गायत्री बिस्सा यंत्र    गुरुपूर्णिमा महत्व   गुरुपूर्णिमा महत्व   विश्वकर्मा यंत्र    छिन्नामस्ता यंत्र    वशीकरण यंत्र   विद्या प्राप्ति यंत्र   हनुमान पूजन यन्त्र--   पंचमुखी हनुमान यन्त्र    मां त्रिपुर सुंदरी साधना से पूर्ण होती है मनोकामना------   जल शालिग्राम    दीपावली पूजन पैकेट------   प्रेम वृद्धि यंत्र   
Event Detail » शंख

शंख


दुर्लभ और मूलयवान होते है शंख 

मनोवांछित फल देकर सुखी बनाता है शंख:-  समुद्र मंथन के समय 14 रत्नो का प्रादुर्भाव हुआ इनमे से शंख को आठवें रत्न का पद प्राप्त हुआ। शंख ने भगवान विष्णु के हाथ में विराजमान होकर विशेष स्थान प्राप्त किया। शंख का उत्पति स्थान समुद्र है। शंख एक समुद्रा जीव का अस्थिपंजर है, परन्तु तांत्रिक और वैज्ञानिक प्रभाव के कारण यह इतना पवित्र और प्रभावशाली है कि शंख देव प्रतिमा की भांति पूजित होता है। और मनोवांछित कार्य सिद्धि देकर जातक को सुखी बनाता है। जहाँ शंख ध्वनि बजती है, वहाँ सभी अनिष्टों का नाश होता है। मंदिरो में शुभ कार्यो में यज्ञादि में शंख ध्वनि शुभ सन्देश देती है।
                  स्वयं महालक्ष्मीजी के मुखारविंद से उच्चारित हुआ है- "वसामिपदमोत्पल शंख मध्येक वसामि चंद्रे च महेश्वरे।" शंख कई प्रकार के देखने को मिलते है। विभिन्न आकृतिया भिन्न-भिन्न प्रभाव देती है। शंख प्रमुखता दो भागो में विभक्त करते है- वामवर्ती और दक्षिणावर्ती। वामवर्ती शंख के पेट का घुमाव बाईं ओर होता है तथा ये बाईं ओर से खुलते है और दाहिने हाथ से पकड़ कर शंख ध्वनि करने के काम आते है और दाहिने हाथ से पकड़कर शंख ध्वनि करने के कार्य आते है। दक्षिणमुखी एक विशेष जाति के शंख दाहिने तरफ खुलने की वजह से दक्षिणावर्ती शंख कहलाते है, इस तरह के शंख सहज सुलभ नहीं होते। आकाश के नक्षत्र मंडल में जब विशेष शुभ नक्षत्रो का प्रभाव होता है। वही शुभ शंख दक्षिणावर्ती कहलाते है। इनकी अति चाहत की वजह से और दुर्लभ हो जाते है व मूलयवान भी होते है। ऐसे ही शुद्ध असली पवित्र शंख को शुभ मुहूर्त जैसे गुरु और रवि पुष्यामृतयोग का कोई शुभ मुहूर्त दीपावली, अक्षय तृतीया, विजय दशमी, बसंत पंचमी, धन त्रयोदशी आदि अन्य शुभ से घर में जल छिड़कने से दुःख, दरिद्र, दुर्भाग्य दूर होते है और भाग्य चमकता है और सुख-समृद्धि में वृद्धि होती है। कहा जाता है कि शंख बाजे भूते भागे, शंख इस बात को कृतार्थ करता है, इसके अलावा भी इससे कई लाभ होते है जिनमे प्रमुख है:-
                                      नक्षत्र कल्पनानुसार शंख को आरोग्य वृद्धि का आयुष्य प्राप्ति की महान औषधि तथा पापो का नाश करने वाला बताया है। शंख में दूध डालकर पीने से बंध्या स्त्री गर्भवती होती है। यह भी मान्यता है कि जो कीटाणु सूक्ष्म भूतो के होते है वे शंख ध्वनि से भाग जाते है और नष्ट हो जाते है। वायु शुद्ध होती है तथा बाधाए दूर होती है। कौशिक सूत्रानुसार बच्चो के शरीर पर छोटे शंख अभिमंत्रित करके बांधने से शरीर बढ़ता है और स्वस्थ रहता है। प्रसिद्ध वैज्ञानिक जगदीशचंद्र वसु का कहना है कि शंख ध्वनि से संक्रामक रोगो के विषाणु नष्ट हो जाते है और वायु शुद्ध होकर मानव शरीर आरोग्यवर्धक बनता है। शंख बजाने से शंख का जल पीने से शंख की भस्म खाने से (आयुर्वेद में शंख भस्म का भी प्रयोग स्वास्थ्यवर्धक बताया गया है।) और छोटे-छोटे शंखो की माला पहनने से भीषण शक्ति प्राप्त होती है। और शरीर निरोग रहता है।
                                      यदि मूक व्यक्ति यथासमय शंख बजाये तो बोलने की शक्ति प्राप्त होती है। संगीत सम्राट तानसेन ने शंख बजाकर गायन की शक्ति प्राप्त की थी। नारियो का हाथ के श्रृंगार सौभाग्य चिन्ह (शंख) इसी शंख से बनते है। हिन्दुओ में विशेषकर आसाम, बंगाल, बिहार, उड़ीसा प्रदेशो में शुभ अवसर पर इसकी चूड़ी धारण कर मंगल उत्सव मानते है। आयुर्वेद में शंख भस्म से पेट की बीमारियो पीलिया व पथरी रोगो में विधि प्रकार ग्रहण करने पर लाभ प्राप्त होता है।

पूजा घर में शंख:-  प्राचीन काल में शंख और घंटा नामक दैत्य भगवान विष्णु की शरण में आये। दैत्य कुल में जन्म लेकर भी सात्विक बुद्धि के होने के कारण भगवान विष्णु ने उन्हें वरदान दिया कि मेरी पूजा में आपका स्थान होगा। इसलिए विष्णु पूजा में शंख और घंटा का अनन्य महत्व है। इस शंख में जल भरकर रखना होता है। ऐसा माना जाता है कि भगवान विष्णु इस जल को पीते है। पूजा से पहले शंख की पूजा की जाती है। उसके बाद ही भगवान विष्णु की पूजा की जाती है।            

 
 
Download Mobile Application


 
 
Astrology
Ask Your Question
Kundli Visleshan
Make Your Horoscope
Match Making
Services
Pooja / Hawan
Vaastu
Free Services
Choghariya
Blog
 
Metal Pyramid
Magic Shriyantra Turtle
Sun Mask
Rudraksh Pandent (3+2+7 Mukhi Rudraksh)
Ruby Ganesh
Shri Yantra Gold Plated
Sampurna Kuber Yantra Gold Plated
Sampurna Vaastu Yantra Gold Plated
Brass Puja Thali
Carving Wooden Temple
Tamba Hawan Kund
Puja Moli
Sphatik Turtle Shree Yantra
Sphatik Turtle
Sphatik Shivling
Sphatik Shankh
Sphatik Pashupatinaath Shivling
Sphatik Nandi
Sphatik Ganesha
Sphatik Laxmi
Sphatik Ling
Mangal Yantra Silvar Pendent
MahaShivratri Poojan Packet
Kanakdhara Yantra
Shri Shukra Yantra
Shukra Yantra Silver Pendent
Shri Katyayani Yantra Pendent
Shani Yantra Silver Pendent
Rahu Yantra Silver Pendent
Matangi Yantra Silver Pendent
Ketu Yantra Silver Pendant
Guru Yantra Silver Pendent
Durga Bissa Pendent
Hanuman Yantra Silver Pendant
Kanak Dhara Yantra Silver Pendant
Mahalaxmi Yantra Silver Pendant
Mahamrityunjaya Silver Pendent
Shri Ganesh Yantra Silver Pendant
Surya Yantra Pendant
Crystal Pyramid
1 Mukhi Rudraksh
2 Mukhi Rudraksh
3 Mukhi Rudraksh
4 Mukhi Rudraksh
5 Mukhi Rudraksh
6 Mukhi Rudraksh
7 Mukhi Rudraksh
8 Mukhi Rudraksh
9 Mukhi Rudraksh
10 Mukhi Rudraksh
Margaj Ganesha
Mangal Yantra Pendant
Swastika Pendant
Shri Kamla Yantra Pendant
Durga Bissa Pendant
11 Mukhi Rudraksh
12 Mukhi Rudraksh
13 Mukhi Rudraksh
Gauri Shankar Rudraksh (Nepali)
Shri Shri Bagala Mukhi Yantra Copper Plated
Shri Shri Yantra Copper Plated
Shri Katyayani Yantra White Metal
Kanak Dhara Yantra  Gold Plated
Shri Mahan Sidhi Dayak Mahalaxmi Yantra  Gold Plated
Mahamrityunjaya Yantra Copper Plated
Shri Vaastu Dosh Nivaran Yantra Copper Plated
Vyapar Vridhi Yantra Copper Plated
Shri Gayatri Yantra Copper Plated
Surya Yantra Gold Plated
Chandra Yantra Gold Plated
Mangal Yantra Gold Plated
Budh Yantra Gold Plated
Shukra Yantra Gold Plated
Shani Yantra Gold Plated
Rahu Yantra Gold Plated
Shri Ketu Yantra Gold Plated
Tulsi Jap Mala
Tulsi Kantha (Neck Mala)
White Vaijanti Mala
Black Vaijanti Mala
Sandal Mala
Red Sandal Mala
Lotus Mala(Kamal Gatta)
Turmeric Mala
Putra Jeeva Mala
Rose Wood Mala
Amber Mala
Sphatik Mala
Crystal Mala
Bone Mala
Rudraksha Parad Mala
Silver Beads Mala
Navgraha Mala
Rudraksha Mala
Navratna Mala
Conch (Shankha) Mala
Cowri(Kodi) Mala
Chakra Mala
Chirmi Mala
Hakik Mala
Kaya Kalp Mala
Raksha Mala
Neelam (Blue Sapphire)
durga bissa pandent
Shiv Yantra Pendent
sampurna kaal sarp pendant
Dakshinavarti Shankh
Ekakshi Nariyal
Shri Phal
Parad Laxmi Charan Paduka (70 gm )
Shvetark Ganpati
Parad Shivling (100 gm)
Sphatik Shree Yantra
Moonge Ki Mala
santaan gopal yantra
Swastik Pyramid
Sphatik Pyramid
Sphatik Maha Meru
Parad Ganesha (115 gm)
parad laxmi ganesha
Sphatik Shree Yantra on Tortoise
Hakik Stone
Navagrah Ring
Sampurna Vyapar Vridhi Yantra Gold Plated
Sampurna Navagraha Yantra Gold Plated
Sampurna Kaal Sarp Dosh Nivaran Yantra Gold Plated
Sampurna Vidyapradayak Yantra Gold Plated
Firoza Stone
Crystal Ganesha
Parad Mala (6 MM Size )
Parad Panch Mukhi Shivling (115 gm)
Parad Hanuman (70 gm)
Crystal Pyramid
Margaj Ganesha
Moti Shankh
Shani Mala
Gomati Chakra
Gomati Chakra pendant
Crystal Shri Yantra
Crystal Ball
Crystal Ling
Crystal Tortoise
Crystal Shri Yantra on Lotus
crystal pagoda 5 tower
parad shivling
Parad Pyramid (100 gm)
Parad Laxmi (115 gm)
Parad Saraswati (125 gm)
parad shiva
kaalbherav yantra
Hanuman Yantra Copper Plated
mangal rahu angarak yog yantra
Shri Ram Sakshi Bissa  Yantra
surya ketu grahan dosh nivaran yantra
Astha Dhatu Teen Mukhi Ganesh
Astha Dhatu Laxmi ji
Parad Shiv Parivar (110 gm)
Astha Dhatu Ganesh
Dakshinavarti Gomad Shankh
Astha Dhatu Kaamdhenu Cow
Kaam Dhenu Cow
Astha Dhatu Laxmi Ganesh
Jal Saligram
Gaj Mani
Vishnu Kodi
Hakik Stone (Ring Size)
Panch Dhatu Shankh
Vishnu Chakra Saligram
Astha Dhatu Shri Yantra Vaastu Pyramid
Divya Tortoise Shree Yantra With Pyramid And Swastik
Astha Dhatu Vaastu Pyramid
Ghode Ki Naal
Astha Dhatu Maa Durga
Astha Dhatu Ganesh With Shivling
Astha Dhatu Tortoise
Guru Yantra In Gold Plated
Kanak Dhara Yantra  Gold Plated
Ketu Yantra Gold Plated
Surya Yantra In Gold Plated
Astha Dhatu Vaastu Pyramid
Astha Dhatu Vaastu Pyramid
Vaastu Mirror
Shvetark Ganpati
Dakshinavarti Shankh
Dakshinavarti Shankh
Dakshinavarti Shankh
Shri Shri Laxmi Ganesh Yantra  White Metal
Kaalsarp Yantra White Metal
Riddhi Siddhi Yantra White Metal
Sampurna Mahavidhya Yantra White Metal
Shri Padmavati Yantra White Metal
Karya Sidhi Yantra White Metal
Shri Sarvot Bhardra Chakra Yantra White Metal
Shri Bagla Mukhi Yantra White Metal
Shri Kuber Yantra White Metal
Maha Mrityunjaya Yantra White Metal
Shri Sampurna Mahalaxmi Yantra Gold Plated
Shri Shri Yantra Copper Plated
Shri Yantra Gold Plated
Shri Navgarh Yantra Copper Plated
Shri Yantra Copper Plated
Shri Yantra White Metal
Shri Bagla Mukhi Yantra Copper Plated
Shri Shani Yantra White Metal
Shukra Yantra White Metal
Guru Yantra White Metal
Rahu Yantra White Metal
Surya Yantra White Metal
Vahan Durghatna Naashak Yantra Copper Plated
Shri Vaastu Dosh Naashak Yantra Copper Plated
Shri Mangal Yantra Copper Plated
Kanak Dhara Yantra Copper Plated
Sthayi Laxmi Prapti Yantra Gold Plated
Parad Mala (4 MM Size)
Crystal Shivling
Crystal Tortoise Shri Yantra
Laxmi Charan Paduka - Brass
Laxmi Charan Paduka- Copper
Bagla Mukhi Silver Round Pendant
Bagla Mukhi Silver Square Pendant
Saraswati Yantra Round Pendant
Saraswati Yantra Silver Pendant
Shri Ganesh Yantra Silver Pendant
Pachua Glass
Sampurna Sarv Samridhi Dosh Nivaran Box
Parad Pyramid (70 gm)
Maha Mrityunjaya Pendant
Mahalaxmi Yantra Pendant
Mahalaxmi  Yantra Pendant
Shiv Yantra Pendant
Katyayani Yantra Pendant
Saraswati Yantra Round Pendant
Trishul Pendant
Kaalsarp Yantra (Nagpash) Pendant
Dhumavati Yantra Pendant
Saraswati Yantra Pendant
Shri Ramraksha Yantra Pendant
Shri Chinnamasta Yantra Pendant
Chandra Yantra Pendant
Budh Yantra Pendant
Tara Yantra Pendant
Shri Sodashi Yantra Pendant
Mahakali Yantra Pendant
Surya Yantra Pendant
Bagla Mukhi Yantra Oval Pendant
Shri Matangi Yantra
Shri Matangi Yantra Oval Pendant
Durga Bissa Round Pendant
Hanuman Yantra Pendant
Shiv Yantra Pendant
Shevtark Ganpati Red Small size
Shevtark Ganpati Red Large Size
Bagla Mukhi Yantra Pendant
Rudraksha Mala (Medium Size)
Rudraksha Mala (Large Size)
Parad Laxmi Ganesha (160 gm)
Parad Panch Mukhi Ganesha (135 gm)
Parad Radha Krishna (70 gm)
Parad Panch Mukhi Hanuman (50 gm)
Parad Kuber (40 gm)
Parad Shri Kuber (125 gm)
Parad Shankh (90 gm)
Parad Lakshmi Ganesh Saraswati (100 gm)
Parad Shri Yantra (100 gm)
Parad Shri Kuber Yantra (170 gm)
Parad Shri Kuber Yantra (230 gm)
Parad Nandi (125 gm)
Parad Shivlingam (70 gm)
Parad Shivlingam (200 gm)
Parad Shivlingam (70 gm)
Parad Ullu (30 gm)
Parad Astha Lakshmi Vaibhav Chowki (85 gm)
 
Home About us Testimonials Product Magzine
Services Contact Us Disclaimer FAQ Direct Payment
Panditnmshrimali.com © All right reserved. Site By: PHEUNIX